पुलिस फायरिंग और लाठी चार्ज में एक की मौत, सात घायल


one-killed-iand-seven-injured-n-police-firing-and-lathi-charge
समस्तीपुर 20 अक्टूबर, बिहार में समस्तीपुर जिले के ताजपुर थाना क्षेत्र में जानेमाने दवा व्यवसायी जनार्दन ठाकुर की हुयी हत्या के विरोध मे आज सड़क और थाना का घेराव कर रहे उग्र लोगों को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने गोलियां चलायी और लाठीचार्ज किया जिसमें एक युवक की मौत हो गयी तथा सात अन्य घायल हो गये। पुलिस सूत्रों ने यहां बताया 18 अक्टूबर को देर रात अपराधियों ने दवा व्यवासायी श्री ठाकुर की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसी के विरोध में आज सुबह आक्रोशित लोगों ने हत्याकांड मे शामिल अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रदर्शन कर ताजपुर के निकट राष्ट्रीय उच्चपथ संख्या 28 को जाम कर दिया। सूत्रों ने बताया कि घटना की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस को देखते ही लोग ज्यादा उग्र हो गये और पथराव शुरू कर दिया जिसके बाद पुलिसकर्मी ताजपुर थाना लौट गये। इसके बाद उग्र लोगों ने थाने का घेराव कर तोड़फोड़ की तथा छह से अधिक वाहनों में तोड़फोड़ के बाद कुछ में आग लगा दी है । सूत्रों ने बताया कि स्थिति को काबू में करने के लिए पुलिस ने पहले लाठीचार्ज की और फिर गोलियां चलायी, जिसमें ताजपुर थाना क्षेत्र के भेरोखड़ा गांव निवासी सत्येन्द्र भंडारी के पुत्र जितेन्द्र कुमार भंडारी (30) की गोली लगने से मौत हो गई जबकि दो अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए। वहीं, लाठीचार्ज और पथराव की घटना में दो पुलिसकर्मी और पांच ग्रामीण के भी घायल होने की सूचना है। सूत्रों ने बताया कि बाद में आक्रोशित लोगों ने ताजपुर- पूसा रोड पर आगजनी कर यातायात को बाधित कर दिया है। उग्र लोग फायरिंग और लाठीचार्ज के लिए दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। घटना की सूचना मिलते ही जिलाधिकारी प्रणव कुमार और पुलिस अधीक्षक दीपक रंजन पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गये हैं । श्री रंजन ने बताया कि पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर युवक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए समस्तीपुर सदर अस्पताल भेज दिया है। वहीं, तनावपूर्ण स्थिति को देखते हुए निकट के मुजफ्फरपुर, बेगूसराय और दरभंगा जिले से अतिरिक्त पुलिस बल को बुलाया गया है। घटना को लेकर उच्चस्तरीय बैठक बुलायी गयी है। इसबीच जितेन्द्र के शव के सदर अस्पताल पहुंचते ही वहां बड़ी संख्या में पहुंचे लोगों ने पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की और पोस्टमार्टम किये जाने का विरोध कर रहे हैं ।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...