मेट्रो किराया : एनएसयूआई का विरोध प्रदर्शन

protest-over-metro-rail-fare
नयी दिल्ली 09अक्टूबर, मेट्रो के किराये में कल से प्रस्तावित बढ़ोतरी के विरोध में कांग्रेस की छात्र इकाई भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन ‘एनएसयूआई’ ने आज विश्वविद्यालय मेट्रो स्टेशन पर विरोध प्रदर्शन किया जिसके कारण येलाे लाइन पर मेट्रो सेवा करीब दस मिनट तक बाधित रही। एनएसयूआई की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष अक्षय लाकड़ा अपने दो अन्य साथियों शैार्यवीर और अर्जुन चपराना के साथ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तथा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ नारेबाजी करते हुए मेट्रो ट्रैक पर उतर गए जिससे इस रूट पर मेट्रो की सेवा राेकनी पड़ी। बाद में केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के जवानों ने प्रदर्शनकारी तीनों छात्रो को हिरासत में ले लिया और पुलिस के हवाले कर दिया। दिल्ली मेट्रो रेल निगम ने कल यानी कि मंगलवार से किराया बढ़ाने की घोषणा की है। एनएसयूआई के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी नीरज मिश्रा ने कहा कि मेट्रो का किराया तर्कसंगत तरीके से नहीं बढ़ाया गया है। सबसे ज्यादा इससे छात्र प्रभावित हुए हैं। हम कयी दिनों से दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत से मिलना चाह रहे हैं। हमने आज जो प्रदर्शन किया वह बहरी सरकार को जगाने के लिए किया है इसके अलावा हमारे पास दूसरा और कोई चारा नहीं था। मेट्रो किराया बढ़ोतरी को लेकर दिल्ली और केन्द्र सरकार आमने सामने हैं। श्री केजरीवाल किराया बढ़ेातरी का विरोध कर रहे हैं। उनके इस विरोध पर केन्द्र सरकार का कहना है कि अगर दिल्ली सरकार मेट्रो का 3 हजार रुपए का सालाना परिचालन खर्च वहन करने को तैयार है तो किराया नहीं बढ़ाया जाएगा। दूसरी ओर श्री केजरीवाल ने इस बारे में शहरी विकास मंत्री हरदीप पुरी को रविवार को लिखे पत्र में कहा है कि दिल्ली सरकार मेट्रो को चलाने के लिए तैयार है बशर्ते केन्द्र इसका आधा खर्च वहन करे। उल्लेखनीय है कि कल से मेट्रो के न्यूनतम किराये को छोडकर अन्य दूरी के किरायों में बढोतरी की जा रही है। कुछ मामलों में यह बढोतरी दस रूपये तक है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...