सॉलिसिटर जनरल पद से रंजीत कुमार का इस्तीफा


solicitor-general-ranjit-kumar-resigns
नयी दिल्ली 20 अक्टूबर, देश के दूसरे सबसे बड़े विधि अधिकारी ‘सॉलिसिटर जनरल’ रंजीत कुमार ने आज अपने पद से इस्तीफा दे दिया। श्री कुमार ने मीडिया से कहा कि उन्होंने निजी कारणों से इस्तीफा दिया है और वह अपने परिवार के साथ ज्यादा समय बिताना चाहते हैं। उन्होंने विधि एवं न्याय मंत्रालय को भेजे एक पंक्ति के अपने त्याग पत्र में लिखा है, “कुछ निजी पारिवारिक कारणों से मैं तत्काल प्रभाव से अपने पद से इस्तीफा देता हूं।” इस बीच विधि एवं न्याय मंत्रालय के सूत्रों ने श्री कुमार का त्याग पत्र आज मिल जाने की पुष्टि कर दी है। कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने बहामास गये हैं। सूत्रों के अनुसार वह 22 अक्टूबर को स्वदेश लौटेंगे और तब श्री कुमार के इस्तीफे पर कोई फैसला लेंगे। केंद्र में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार के सत्ता में आने के बाद उन्हें सात जून 2014 से तीन वर्ष के लिए सॉलिसिटर जनरल बनाया गया था। इस साल जून में उनका कार्यकाल अगले आदेश तक के लिए बढ़ा दिया गया था। श्री कुमार ने श्री मोहन परासरन का स्थान लिया था, जिन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में राजग सरकार के सत्ता में आने पर पद से इस्तीफा दे दिया था। श्री कुमार को संविधान, सेवा एवं कर संबंधी मामलों का विशेषज्ञ माना जाता है। सॉलिसिटर जनरल बनाये जाने से पहले उन्होंने उच्चतम न्यायालय में विभिन्न मामलों में गुजरात सरकार की पैरवी की थी तथा न्याय-मित्र की भूमिका भी निभायी थी। सूत्रों ने बताया कि अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता सॉलिसिटर जनरल पद के दावेदारों में सबसे आगे हैं। इससे पहले श्री मुकुल रोहतगी कुछ माह पूर्व एटर्नी जनरल पद से इस्तीफा दे चुके हैं।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...