विशेष : राजा से रंक औऱ रंक से राजा बनाता है शनि ग्रह !!

Shani-grah-and-effect
गृह ही राज्य देते हैं एवं गृह राज्य का हरण कर लेते हैं राजा से रंक एवं रंक से राजा बनाने वाला शनि ग्रह जो अखंड ब्रम्हांड का सर्वोच्च न्यायाधीश है दिनांक 26 अक्टूबर 2017 को 12:00 बजे वृश्चिक राशि छोड़कर धनु राशि में प्रवेश कर रहे हैं क्योंकि शनि को न्यायाधीश की पदवी दी गई है यह जिस राशि में आते हैं उच्च राशि से संबंधित व्यक्तियों को तरह तरह की परेशानियां होती है तथा इनकी जहां पर दृष्टि होती है वहां पर भी भारी बाधाएं निर्मित होती हैं इस बार शनि महाराज के राशि परिवर्तन होने के कारण धर्म की राशि धनु जिसका स्वामी गुरु है प्रभावित होगा इसके प्रभाव से धार्मिक क्षेत्र में न्यायिक शिकंजा संकट पैदा करेगा धार्मिक क्षेत्रों में अवैध रूप से कब्जा कब्जाधारी साधु-संत परेशानियों का सामना करेंगे इस दौरान धार्मिक कार्यों में अवरोध पैदा होगा धार्मिक क्षेत्रों की बारीकी से जांच होगी इसके साथ ही सामाजिक क्षेत्र शिक्षा का क्षेत्र एवं पत्र पत्रिका प्रिंट मीडिया से संबंधित क्षेत्र की राशि भी धनु है यह भी प्रभावित होगी इस से संबंधित वास्तविक लोग ही शनि के प्रभाव से मुक्त रहेंगे अन्य लोगों को इस के कुप्रभाव झेलने पड़ेंगे धनु राशि का स्वामी गुरु धार्मिक ग्रह इस पर शनि का प्रभाव होना धार्मिक उन्माद पैदा करता है धनु राशि पर शनि 24 जनवरी 2020 ईस्वी तक रहेगा अर्थात  शनि धनु राशि पर 2 वर्ष 2 माह 28 दिन रहेगा या शीघ्रगामी हो करके इस राशि में ढाई वर्ष से कम समय रहेगा ऐसी स्थिति में शनि का भ्रमण राशियों के लिए भी प्रभावशील होगा वृश्चिक राशि वालों को उतरते हुए शनि का प्रभाव पैरों पर होगा इस राशि वालों को व्यापार में प्रगति धन धान की समृद्धि राज्य पक्षी से सम्मान रुके हुए कार्य एवं परिवार में मांगलिक कार्यों का आयोजन होंगे दूसरी राशि धनु राशि इस राशि वालों को शनि का प्रभाव हृदय में रहेगा इनको परिश्रम अधिक करना पड़ेगा वाहन से भय रहेगा हृदय संबंधी बीमारी स्त्री संतान चिंता के साथ परिश्रम अधिक करना पड़ेगा मकर राशि पर साढ़ेसाती का प्रभाव चढ़ता हुआ मस्तक पर होगा जिससे उन्हें शारीरिक पीड़ा रक्तविकार परिश्रम मध्य करना पड़ेगा बाहन से सावधानी रखें अब आग शनि का प्रभाव 2 राशियों पर भी रहेगा कन्या राशि एवं वृष राशि कन्या राशि को लाभकारी प्रभाव रहेगा स्त्री पुत्र सुख भवन सुख के साथ उन्नति पदोन्नति के योग बनेंगे वृष राशि वालों के लिए कठिन परिश्रम बाला समय रहेगा ग्रह शांति कराने से इन्हें लाभ होगा शनि शांति के उपाय इन राशि वालों को शनि का प्रभाव साढ़ेसाती का है उन्हें अनिष्ट फल के प्रभाव को रोकने के लिए शनि की शांति शनि का दान लोहा धारण बजरंगबली की पूजा एवं शनिवार को व्रत करना एवं तिल के तेल उड़द काला कपड़ा अर्पण कर सनी को प्रसन्न करना चाहिए शनि का जाप 23,000 संखया मंत्र ओम शनिश्चराय नमः का जाप करना भी हितकर रहेगा अन्य राशि वालों के लिए इस ग्रह का राशि परिवर्तन सामान्य फल कारी रहेगा शनि का यह परिवर्तन 5 राशियों को प्रभावित करेगा 7 राशियों मैं मेष राशि मिथुन राशि कर्क राशि सिंह राशि तुला राशि कुंभ राशि मीन राशि बालों को शनि का प्रभाव सामान्य गोचर अनुसार नक्षत्र के भ्रमण पर शुभाशुभ प्राप्त होगा 




अनुसंधानकर्ता ज्योतिषाचार्य पंडित विनोद गौतम 
ज्योतिष मठ नेहरू नगर भोपाल 
मोबाइल  98273 220 68
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...