दूसरी तिमाही में सुधरी आर्थिक गतिविधि, विकास दर 6.3 प्रतिशत पर

gdp-growth-bounces-back-to-6-3-pc-in-17-18-q2
नयी दिल्ली 30 नवंबर, चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में विनिर्माण क्षेत्र में आयी तेजी के बल पर देश की आर्थिक गतिविधियाें में सुधार हुआ है। सितंबर में समाप्त तिमाही में सकल घरेलू उत्पाद(जीडीपी) वृद्धि दर 6.3 प्रतिशत रही जबकि सकल मूल्य वर्द्धन (जीवीए) 6.1 प्रतिशत पर रहा। चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में जीडीपी वृद्धि दर 5.7 प्रतिशत और जीवीए दर 5.6 प्रतिशत रही थी। पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में जीडीपी वृद्धि दर 7.5 प्रतिशत रही थी जबकि जीवीए 6.8प्रतिशत पर रहा था। केन्द्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) द्वारा आज यहां जारी जीडीपी के आंकड़ों के अनुसार चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में 6.0 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि दर हासिल करने वाले क्षेत्रों में विनिर्माण,बिजली, गैस, जलापूर्ति और अन्य यूटिलिटी सेवाओं के साथ ही व्यापार, होटल, परिवहन तथा संचार एवं प्रसारण से जुड़ी सेवायें शामिल है। वर्ष 2011- 12 के बेसिक मूल्य के आधार पर इस वर्ष सितंबर में समाप्त तिमाही में विनिर्माण क्षेत्र का जीवीए 7.0 प्रतिशत रहा है जबकि पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में यह दर 7.7प्रतिशत रही थी।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...