झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 25 नवम्बर

जिला स्तरीय गोपाल पुरस्कार मे पशुपालको को विधायक ने किया सम्मानित
  • सरकार की योजनाओं का लाभ लेकर पशुपालन कोबढावा देवें- विधायक बिलवाल

jhabua news
झाबुआ । मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चैहान ने किसानों को पशुपालन की ओर प्रोत्साहित करने तथा खेती को लाभ का धंदा बनाने की दिशा में किसान हित मे कई योजनायें लागू की है । पशु पालन के माध्यम से  किसान अपनी आमदनी मे अभिवृद्धि कर सकता है तथा सरकार की योजनाओं का लाभ प्राप्त करके अपनी आर्थिक स्थिति में बढोत्तरी कर सकता है।मध्यप्रदेश सरकार की गोपाल पुरस्कार योजना का मुख्य उद्देश्य ही पशुपालकों को अधिक से अधिक प्रोत्साहित करना है । इस योजना में राज्यस्तरीय, जिला स्तरीय एवं ब्लाक स्तरीय पुरस्कार देकर अधिक दुध देने वाली गायों एवं भैंसों के मालिको को पशुपालन के लिये प्रोत्साहित करने के साथ ही अन्य पशुपालको  को भी प्रेरित कर पशुओं की देखभाल करने, उन्हे कौन सा आहार खिलाने आदि के बारे में जानकारी भी दी जाती है । जिला स्तरीय पुरस्कार में प्रथम द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त करने  वाली अच्छी नस्ल की गायों एवं भैसों को पुरस्कृत करने के साथ ही सान्त्वना पुरस्कार देकर अन्य पषु पालकों को भी प्रेरित किया गया है। सरकार की योजनाओं के तहत पशुपालन, मत्स्य पालन, हार्टिकल्चर के क्षेत्र में भी किसानों के लिये अचछे अवसर प्रदान किये गये है जिनका लाभ उठाना चाहिये  । सरकार ने इस साल से अच्छी गायों के  साथ ही अच्छी भैसो को भी प्रुरस्कृत किया जारहा है । महिला सशक्तिकरण की दिशा में  भी पशुपालन एक सशक्त माध्यम बन सकता है । इसलिये हमे सरकार की सभी योजनाओं का लाभ लेकर आयोजित प्रतियोगिता में सहभागी होना चाहिये । उक्त विचार शनिवार को  स्थानीय जिला पशु चिकित्सालय आयोजित जिला स्तरीय गोपाल पुरस्कार वितरण के अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में क्षेत्रीय विधायक शांतिलाल बिलवाल ने व्यक्त किये ।श्री बिलवाल ने भैस से अधिक गाय द्वारा दुध देने के बारे में भी प्शुपालक आरती संजय की प्रसंशा की । इस  अवसर पर प्रभारी कलेक्टर एवं जिला पंचायत सीईओ श्रीमती जमुना भिडे ने भी सरकार की गोपाल पुरस्कार योजना के बारे में विस्तार से अपने  विचार व्यक्त करते हुए इसे किसानों एवं पशुपालकों के लिये एक अच्छी योजना बताया । आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि विधायक शांतिलाल बिलवाल ने श्रीमती आरती संजय खरडू बडी की गिर गाय जो 18.02 लिटर दुध देती है को 50 हजार रूपये ,श्रीमती सुनीता महेशचन्द्र नायक रंभाप्रुर की गिर गाय जो 17.873 लिटर दुध देती है को द्वितीीय पुरस्कार रूपये 25 हजार, सरदारसिह अभयसिंह दातला रंभापुर की गिर गाय जो 15.167 लिटर दुध देती है को 15 हजार , तथा लुणा पल्ल्रुजी वाघेला कल्याणपुरा, रामचन्द्र नाथ्रुलाल पाटीदार रायप्रुरिया, करण सुखीराम खरडूबडी, राजेश नारायण ब्रजतवासी झाबुआ, खुमा पांगला किशनपुरी एवं रोशन पुरूषोत्तम पडवाल को 5-5 हजार रूपये एवं प्रसशापत्र देकर सम्मानित किया गया, इसी तरह अधिक दुध देने वाली भैंस में प्रथम पुरस्कार पवन बाबुलाल गुर्जर पेटलावद को 17.17 लिटर दुध देने पर प्रथम पुरस्कार 50 हजार, द्वितीय परुस्कार आशीष पांचाल खरडूबडी की भैस जो 14.72 लिटर दुध देती है को 25 हजार रूपये, मोतीलाल रामचंद बामनिया थांदला की भैस जो 13.79 लिटर दुध देती है को 15 हजार रूपये का पुरस्कार  एवं प्रशंसापत्र दिया गया । वही सान्तवना पुरस्कार के रूप  में तकेसिंह परथेसिंह नायक खच्चरटोडी, प्रेम गोपाल गुर्जर पेटलावद, श्रीमती मीरा संुदरसिंह नायक रंभापुर, पवन मोतीलाल वानिया थांदला, कन्नु गारी करडावद बडी, तोलिया लालु भाबोर आम्बा खोदरा , तथा राहूल राजेश ब्रजवासी झाबुबआ को 5-5 हजार के मान से पुरस्कार एवं प्रसंशा पत्र दिये गये । इस अवसर पर पशुपालक संदरसिंह नायक ने भी अपने पश्रुपालन से हुए आर्थिक लाभ के बारे में विस्तार से संस्मरण सुनाया । कार्यक्रम में उप संचालक पशु चिकित्सा विलियम डामोर ने  सरकार की योजनाओं के बारे में जानकारी दी कार्यक्रम मेंडा. भूरिया का सराहनीय सहयोग रहा । विधायक श्री बिलवाल ने सभी विजेता पशुपालकों को बधाईया दी ।

31 दिसम्बर तक वाहनो में सीसीटीवी कैमरे एवं जीपीएस लगवाये
  • महिलाओं की सुरक्षा के संबंध में वाहन संचालको की बैठक संपन्न

jhabua news
झाबुआ ।  महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के संबंध में आज 25 नवम्बर को जिला परिवहन कार्यालय में जिला परिवहन अधिकारी श्री राजेश गुप्ता की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई। बैठक में जिले के यात्री बस स्वामी, स्कूल बस संचालक, वाहन विक्रेताओं उपस्थित थे। बैठक में महिला सुरक्षा संबंधी व्यवस्थाओं सुनिश्चित करने की लिए आवश्यक निर्देश दिये गये,है। वाहन संचालक महिलाओं की सुरक्षा के लिए यात्री बसो एवं स्कूली बसो में सीसीटीवी कैमरे एवं जीपीएस सिस्टम लगाकर 31 दिसम्बर तक परिवहन कार्यालय को सूचित करे। स्कूल बसो में महिला अटेण्डर रखना अनिवार्य है। जो स्कूल संचालक स्कूल वाहनो में सीसीटीवी कैमरे, जीपीएस सिस्टम एवं महिला अटेण्डर की व्यवस्था नहीं करेगे, उनके स्कूलों की मान्यता शासन द्वारा समाप्त करने की कार्यवाही की जाएगी एवं वाहनो का पंजीयन निरस्त करने की कार्यवाही परिवहन विभाग द्वारा की जाएगी। बैठक में यात्री बस संचालकों को निर्देश दिये गये कि वाहन में चालक के पीछे की सीट नवजात शिशु की माताओं के लिए आरक्षित कर तीन ओर से पर्दे लगवाये जाये, वाहन में 11 से 16 नम्बर तक सीट महिला के लिए आरक्षित सीट वाहन में अंकित करवाये। बैठक में वाहन संचालकों की समस्याएॅ भी सुनी गई एवं जिले में वाहन दुर्घटनाओं में कमी लाने के लिए वाहनो एवं मण्डी में आने वाले ट्रेक्टर ट्राली पर आगे व पीछे रेडियम रिफ्लेक्टर अनिवार्य रूप से लगवाये जाने के निर्देश दिये गये।

रोजगार पाने वाले नहीं रोजगार देने वाले बने - विधायक बिलवाल
  • स्वरोजगार के लिए ऋण प्रकरण स्वीकृत किये गये

jhabua news
झाबुआ । पाॅलीटेक्नीक काॅलेज परिसर झाबुआ में आज 25 नवम्बर को रोजगार मेले का आयोजन किया गया। इस रोजगार मेले में निजी कम्पनियों, विभागीय अधिकारी एवं बैंक प्रतिनिधियो ने उपस्थित होकर बेरोजगार युवक-युवतियों का स्वरोजगार के लिए एवं प्रशिक्षण योग्य योजनाओं में युवाओ को प्रशिक्षण के लिए चयनित किया गया। निजी कम्पनियां द्वारा नोैकरिया के लिए चयन किया एवं स्वरोजगार स्थापित करने के लिए शासन की स्वरोजगार योजनाओ में बैंकर्स द्वारा ऋण भी स्वीकृत किये गये। कार्यक्रम में कौशल उन्नयन संबंधी लघु फिल्म का प्रसारण भी प्रोजेक्टर पर किया गया, जिससे युवा कौशल के लिए प्रेरित हो सके। जिला स्तरीय मुख्यमंत्री स्वरोजगार एवं कौशल सम्मेलन को संबोधित करते हुए विधायक श्री शांतिलाल बिलवाल ने कहां कि स्वरोजगार के लिए कौशल की खोज कर उसको निखारने के लिए आज इस सम्मेलन का आयेाजन किया गया है, आपने लघु फिल्म में देखा कि कैसे पढाई बीच में छोड चुके युवाओ ने कौशल विकास में आई टी आई में प्रशिक्षण प्राप्त कर दुबई एवं अपने देश में अपना स्वरोजगार स्थापित किया। आप भी आईटीआई में प्रशिक्षण प्राप्त कर अपना स्वरोजगार स्थापित करे एवं मुख्यमंत्री जी की मंशानुसार रोजगार पाने वाले नहीं रोजगार प्रदान करने वाले बने। स्वरोजगार स्थापित कर आत्मनिर्भर बने। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रभारी कलेक्टर एवं सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे ने कहा कि ऐसे बच्चे जो 5 वी 8 वी एवं 10, 12 वी पास है एवं पढाई छोड चुके है वे आईटीआई में अपने कौशल के अनुरूप ट्रेड का चयन कर प्रशिक्ष्ज्ञण प्राप्त करे एवं आवश्यकतानुसार बैंक से ऋण प्राप्त कर अपना रोजगार स्थापित करे। जिला प्रशासन द्वारा बैंकर्स को भी स्वरोजगार ऋण के संबंध में प्राथमिकता से कार्यवाही करने के लिए निर्देश दिये गये है। कार्यक्रम में आर सेटी द्वारा प्रशिक्षण प्राप्त महिलाओं को स्वरोजगार कीट एवं स्वरोजगार योजना के हितग्राहियों को ऋण स्वीकृति पत्र प्रदाय किये गये। कार्यक्रम में स्वागत भाषण महाप्रबंधक उद्योग श्री इश्किया ने किया, आभार प्रदर्शन आईटीआई प्राचार्य श्रीमती सावित्री भिडे ने किया। कार्यक्रम का संचालन श्री हरिश कुण्डल ने किया। अतिथियो ने कार्यक्रम स्थल पर लगे स्टाॅलो का निरीक्षण भी किया।

बाल हदय उपचार योजना में बच्चो के दिल में छेद का होगा उपचार

झाबुआ । जिले में संचालित राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रम अंतर्गत संचालित कार्यक्रम राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के अतर्गत 0 से 18 वर्ष के बच्चों का स्कूल एवं आंगनवाडी पर आरबीएसके दल द्वारा निर्धारित माइकोप्लान अनुसार स्वास्थ्य परीक्षण कर धनात्मक 4 डी पाये गये बच्चो का निःशुल्क उपचार जिले स्तर एवं उच्च स्तर पर किया जाता है। जिसके अनुसार सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में पदस्थ आरबीएसके दल के द्वारा चिन्हांकित 12 बच्चों को निःशुल्क जांच एवं रिर्पोट हेतु इन्दौर रवाना किया गया। जांच एवं रिर्पोट के उपरांत जिले से मुख्यमंत्री बाल हदय उपचार योजना से स्वीकृती प्रदान कर बच्चों को निःशुल्क उपचार दिया जावेगा। अप्रैल 2017 से आज तक 25 बाल हदय एवं 06 बाल श्रवण से ग्रसित बच्चों को उच्च स्तर पर उपचार हेतु भेजा गया। जन्म से कटे कटे होठ के 4 बच्चों को अप्रैल 2017 से आज दिनांक तक उपचार दिया गया।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...