देश में उत्कृष्ट विश्वविद्यालयों की आवश्यकता : वेंकैया

need-of-excellent-universities-in-the-country-venkaiah
अमरावती 28 नवंबर, उप राष्ट्रपति एम वैंकया नायडू ने छात्रों के लिए बहु कौशल पाठ्यक्रम पर जोर देते आज कहा कि देश में उत्कृष्ट शैक्षिक विश्वविद्यालय स्थापित किए जाने की अावश्यकता है जो विदेशी शैक्षिक संस्थानों के बराबर हों। श्री नायडू ने आज अमरावती परिसर में वीआईटी विश्वविद्यालय की नई इमारत का उद्घाटन करने के बाद कहा कि देश में बेहतर विश्वविद्यालय हैं लेकिन उत्कृष्ट शैक्षिक संस्थान भी होने चाहिए। उन्होंने कहा कि लोगों में इस बात को लेकर भ्रम है कि शिक्षा केवल रोजगार के लिए है लेकिन ऐसा नहीं है क्योंकि शिक्षा सशक्तीकरण, जानकारी तथा बौद्धिक स्तर को बढ़ाने के लिए जरूरी है। उपराष्ट्रपति ने कहा “हम जब आजाद हुए थे, उस वक्त केवल 20 विश्वविद्यालय आैर 500 कालेज थे लेकिन अब देश में 760 विश्वविद्यालय, 38490 कालेज अाैर 12672 शैक्षिक संस्थान हैं जिनमें 3़ 04 करोड़ छात्र पढ़ते हैं। शिक्षा ऐसी होनी चाहिए कि इसकी पहुंच सब तक हो और यह गुणवत्तापूर्ण भी हो।  उन्होंने कहा कि अगर उपयुक्त बुनियादी ढांचा और सकारात्मक योजनाएं हों तो बेहतर संस्थान स्थापित किए जा सकेंगें। शैक्षिक संस्थानों को मंदिर की संज्ञा देते हुए उन्होने कहा कि छात्रों को अपने शिक्षकों का सम्मान करना चााहिए। छात्र जानकारी तो गूूगल से भी हासिल कर सकते हैं लेकिन गूगल का इस्तेमाल करने का तरीका तो किसी शिक्षक से ही सीखना होगा। इस माैके पर मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि अांध्र प्रदेश बेहतर शिक्षा प्रणाली को लागू करने के लिए दक्षिण कोरिया और फिनलैंड का अनुसरण करेगा। उन्होंने अमरावती में उत्कृष्ट शैक्षिक संस्थाओं को स्थापिज किए जाने की अावश्यकता पर जोर देते हुए कहा कि राज्य शिक्षा क्षेत्र में मजबूत है और सूचना प्रौद्याेगिकी क्षेत्र में राज्य का कोई सानी नहीं है। उन्होंने कहा कि राजधानी अमरावती के निर्माण का काम शुरू हो चुका है और ट्रंक रोड के निर्माण पर तीस हजार रुपये की लागत आयी है। नई राजधानी अमरावती प्रदूषण रहित होगी अौर इसमें 14 मेडिकल कालेज भी हाेंगें ।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...