राजनेताओं पर व्‍यक्तिगत हमले तत्‍काल बंद हो-पप्पू यादव

पटना 04 नवम्बर, बिहार में सत्तारूढ़ जनता दल यूनाईटेड (जदयू) और मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के बीच जारी व्यक्तिगत हमलों के बीच जन अधिकार पार्टी (लो) के संरक्षक एवं सांसद राजेश रंजन ने आज कहा कि नेताओं पर व्‍यक्तिगत आरोप-प्रत्‍यारोप बंद होना चाहिए। श्री यादव ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि राजनेताओं पर व्‍यक्तिगत आरोप-प्रत्‍यारोप एवं उनका चरित्र हनन तत्‍काल बंद होना चाहिए। इससे बिहार का अपमान हो रहा है। इसे लेकर राष्ट्रीय जनता दल अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी को भी अपने नेताओं और प्रवक्‍ताओं के बयानों पर अंकुश रखना चाहिए। उन्होंने कहा कि व्यक्तिगत हमलों की बजाए बहस विकास पर होनी चाहिए। जाप नेता ने कहा कि उनकी पार्टी आगामी 13 नवंबर को पटना के श्रीकृष्‍ण मेमोरियल हॉल में युवा क्रांति संवाद का आयोजन करेगी। इसके साथ ही पार्टी ‘रोजगार नहीं तो सरकार नहीं’ के नारे के साथ जन आंदोलन की शुरुआत करेगी। उन्‍होंने कहा कि मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने 2005 में सत्‍ता संभालने के दौरान वादा किया था कि बिहार से पलायन रोकेंगे, लेकिन रोजगार की तलाश में पलायन करने वालों की संख्‍या हर वर्ष बढ़ती जा रही है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...