बिहार : चीनी मिल हादसे में 6 की मौत, जांच के आदेश

6-dead-sugar-mill-gopalganj
पटना/गोपालगंज, 21 दिसंबर, बिहार के गोपालगंज जिले के कुचायकोट थाना क्षेत्र में चीनी (शुगर) मिल का बॉयलर फटने से छह लोगों की मौत हो गई, जबकि अन्य छह लोग घायल हो गए। घायलों में तीन की हालत गंभीर बताई जा रही है। इस बीच, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस हादसे की जांच के आदेश दिए हैं और मृतक के परिजनों को चार-चार लाख रुपये बतौर मुआवजा देने की घोषणा की है। पुलिस के अनुसार, गोपालगंज जिला मुख्यालय से लगभग 15 किलोमीटर दूर सासामूसा चीनी मिल में बुधवार रात लगभग 11:30 बजे बॉयलर अत्यधिक गर्म होने की वजह से फट गया। घटना के समय कई मजदूर मिल में काम कर रहे थे। इस घटना में अब तक छह लोगों की मौत हो गई है, जबकि छह लोग घायल हो गए हैं। कुचायकोट के थाना प्रभारी अवधेश कुमार ने गुरुवार को बताया कि घायलों में तीन की हालत गंभीर बताई जा रही है। गंभीर रूप से घायल लोगों को इलाज के लिए पटना भेज दिया गया है, जबकि तीन अन्य घायलों को गोपालगंज सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मृतकों की पहचान कुचायकोट के खजूरी गांव निवासी अर्जुन कुमार, कृपा यादव, विक्रम यादव, कन्हैया शर्मा, विद्या साह और उत्तर प्रदेश के मोहम्मद शमसुद्दीन के रूप में की गई है। हादसे के वक्त मौजूद कर्मचारियों का कहना है, "बॉयलर में ओवर हीटिंग के कारण ब्लास्ट हुआ।"

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस हादसे की जांच के आदेश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने मृतक के परिजनों को चार-चार लाख रुपये का मुआवजा देने की भी घोषणा की है। मुख्यमंत्री ने गन्ना उद्योग विभाग के प्रधान सचिव एस़ सिद्धार्थ और श्रम संसाधन विभाग के प्रधान सचिव दीपक कुमार सिंह को जांच का निर्देश दिया। इन अधिकारियों ने घटनास्थल पर पहुंचकर जांच भी प्रारंभ कर दी है। नीतीश कुमार ने इस हादसे में मरने वालों के प्रति गहरी संवेदना प्रकट की है। उन्होंने इस हादसे को अत्यंत दुखद बताते हुए मृतक परिवारों के प्रति गहरी संवेदना जताई। मुख्यमंत्री ने हादसे के मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये का अनुग्रह अनुदान देने की घोषणा की। मुख्यमंत्री सचिवालय द्वारा जारी बयान के अनुसार, "हादसे में घायलों के समुचित इलाज के लिए स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए हैं और उनके शीघ्र स्वस्थ होने की मुख्यमंत्री ने कामना की है।" स्थानीय लोगों ने मृतकों की संख्या बढ़ने की संभावना जताई है। 

हादसे के बाद स्थानीय लोगों में गुस्सा फूट पड़ा। आक्रोशित लोगों ने मिल के मालिक महमूद अली के घर पर धावा बोलकर उनके घर और वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया है। इस बीच, पुलिस और ग्रामीणों के बीच मामूली झड़प भी हुई। बाद में वरिष्ठ अधिाकरियों के समझाने के बाद स्थिति सामान्य हुई। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि मिल मालिक तथा उनके दो पुत्रों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। घटना के बाद कई थानों की पुलिस घटनास्थल पर पहुंच गई। राहत एवं बचाव कार्य जारी है। राजद अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद ने भी इस घटना पर गहरा दुख प्रकट किया है। उन्होंने सरकार से मृतक के परिजनों को उचित मुआवजा और घायलों को इलाज की व्यवस्था करने की मांग की है।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...