आप ने मैक्स अस्पताल मामले में उपराज्यपाल की निंदा की

aap-condemn-governor-dissision-for-max-dissision
नई दिल्ली, 20 दिसम्बर, आम आदमी पार्टी (आप) ने मैक्स अस्पताल का लाइसेंस रद्द करने के दिल्ली सरकार के फैसले पर रोक लगाने के लिए उपराज्यपाल अनिल बैजल की बुधवार को निंदा की। दिल्ली सरकार ने जीवित नवजात को मृत घोषित करने के लिए मैक्स अस्पताल का लाइसेंस रद्द कर दिया था। दिल्ली सरकार ने आठ दिसंबर को 250 बिस्तरों वाले शालीमार बाग के मैक्स अस्पताल का लाइसेंस रद्द कर दिया था। सरकार ने अस्पताल द्वारा 30 नवंबर को नवजात को मृत घोषित करने पर यह कार्रवाई की थी। अस्पताल ने बुधवार को कहा कि वित्त आयुक्त की अदालत द्वारा आठ दिसंबर के आदेश पर मंगलवार को रोक लगाए जाने के बाद अस्पताल में कामकाज फिर शुरू हो गया। आप नेता दिलीप पांडेय ने कहा कि अदालत ने उपराज्यपाल को दिल्ली की सभी प्रशासनिक शक्तियां दी हैं और उन्हें जवाबदेह होना चाहिए। दिलीप पांडेय ने सरकार के फैसले पर रोक लगाने के लिए अपीली प्राधिकरक के कार्य पर संदेह जताया है। उन्होंने सवाल किया है कि अपीली प्राधिकरण ने सरकार के निर्णय पर स्थगन देकर आम जनता के लिए कार्य किया है या मित्र पूंजीपतियों के लिए। इस बीच एक आधिकारिक बयान में बैजल के कार्यालय ने इस मामले से दूरी बना ली। बयान में कहा गया है, "मैक्स अस्पताल से जुड़ा मामला एलजी के समक्ष नहीं था। यह वित्त आयुक्त के अदालत में था। यह भी स्पष्ट किया जाता है कि मैक्स का कोई अधिकारी एलजी से या राज निवास के किसी अधिकारी से नहीं मिला है।"
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...