बिहार : 20 जनवरी को पटना में किया जाएगा राज्यस्तरीय किसान कन्वेंशन

all-india-frmer-convention-in-patna
पटना 15 दिसंबर 2017, अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति की बैठक आज पटना के छज्जूबाग स्थित भाकपा-माले विधायक दल कार्यालय में संपन्न हुई. अखिल भारतीय किसान सभा के राज्य अध्यक्ष ललन चैधरी की अध्यक्षता एवं अखिल भारतीय किसान महासभा के राष्ट्रीय महासचिव व किसान संघर्ष समन्वय समिति के राष्ट्रीय कोर कमिटी के सदस्य काॅ. राजाराम सिंह के संचालन में यह बैठक हुई. बैठक में आगामी 20 जनवरी 2018 को पटना में राज्यस्तरीय किसान कन्वेंशन करने का निर्णय लिया गया. बैठक को संबोधित करते हुए काॅ. राजाराम सिंह ने कहा कि बिहार में चली किसान मुक्ति यात्रा व दिल्ली में 20-21 नवम्बर को संपन्न किसान मुक्ति संसद को बेहतर ढंग से संपन्न कराने में बिहार के सभी किसान संगठनों एवं किसानों की अच्छी भूमिका व भागीदारी रही. इसके लिए वे धन्यवाद के पात्र हैं. उन्होंने दिल्ली में आयोजित किसान संसद में पेश किए गए बिलों को नीचे व्यापक रूप से प्रचारित करने की अपील भी की. विदित हो कि दिल्ली में आहूत किसान मुक्ति संसद में किसानों को सभी तरह के कर्जों (बैंक, साहूकार सहित) से मुक्त करने और स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट के अनुसार सभी कृषि उत्पादों का लागत से डेढ़ गुणा समर्थन मूल्य देकर खरीद की गारंटी करने, किसी कारण से समर्थन मूल्य से कम पर किसान अपना उत्पाद बेचने को मजबूर होते हैं, तो उस घाटे की भरपाई सरकार करे आदि बिल किसान संसद में पेश किए गए थे. इस पर देश के किसान संगठन व किसान संसद से कानून बनाने की मांग कर रहे हैं.

बैठक में बाढ़ से बर्बाद हुए फसलों का मुआवजा, बटाईदार सहित सभी फसल लगाने वालों को देने की मांग की गयी. धान, गन्ना की अधिप्राप्ति में विलम्ब की निंदा करते हुए तत्काल धान खरीद शुरू करने की मांग की गई. बैठक में धान खरीद में विलम्ब होने के कारण कम कीमत पर धान बेंच चुके छोटे किसानों के घाटे की भरपाई करने और धान उत्पादक किसानों को 500 रु0 बोनस देने की मांग की गयी.  बैठक ने बेतिया राज की जमीन से बेदखल किये जा रहे किसानों, भूमिहीनों के संघर्षों का समर्थन करते हुए कहा कि सरकार फौरन बेदखली पर रोक लगाए. मैनाटांड़ के सिंहपुर में गरीबों की जोत-आबाद वाली गेहूं की फसल लगी 50 एकड़ जमीन को गन्ना मंत्री खुर्शीद आलम के संरक्षण में अपराधियों द्वारा हथियार के बल पर जोत लेने की घटना की कड़ी भत्र्सना की गयी. इन सभी मुद्दों पर बैठक में आने वाले दिनों में संघर्ष तेज करने का भी आह्वान किया गया. बैठक को अखिल भारतीय किसान महासभा के बिहार राज्य अध्यक्ष विशेश्वर प्रसाद यादव, सचिव रामाधार सिंह, किसान सभा के राज्य सचिव विनोद कुमार, अनिल कुमार, मनोज कुमार, डाॅ. उमेश यादव, सुनील कुमार, शिवजी सिंह, चक्रवर्ती अशोक प्रियदर्शी, बाबूनंद प्रसाद शर्मा, लक्ष्मण शर्मा, बालगोविन्द सिंह, गौतम गुप्ता, रामवृक्ष राम, शंभू प्रसाद सिंह, अशोक कुमार आदि किसान नेताओं ने संबोधित किया.
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...