कांग्रेस का घोषणापत्र वित्तीय रूप से असंभव : जेटली

congress-manifesto-impossible-jaitley
नई दिल्ली, 9 दिसम्बर, केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने शनिवार को गुजरात चुनाव के लिए कांग्रेस के घोषणापत्र की निंदा की और कहा कि यह वित्तीय रूप से असंभव है और चुनाव में जीतने की उनकी उम्मीद राजनीतिक रूप से असंभव है। जेटली ने कहा, "विकास का कोई मॉडल न होने के कारण कांग्रेस पार्टी का यह घोषणापत्र वित्तीय रूप से असंभव है।" जेटली ने अपने एक फेसबुक पोस्ट में कहा कि गुजरात द्वारा अर्जित कुल राजस्व प्रति वर्ष लगभग 90,000 करोड़ रुपये है। कांग्रेस ने कर में 20,000 करोड़ रुपये की छूट देने का वादा किया है, जो राज्य के प्रभावी राजस्व को 70,000 करोड़ रुपये तक ले आएगा। उन्होंने कहा कि वेतन, पेंशन, सामाजिक और विकास खर्च के बाद अतिरिक्त धन नहीं बचेगा। जेटली ने कहा, "कांग्रेस ने घोषणापत्र में लोकलुभावन कार्यक्रमों के संदर्भ में 1,21,000 करोड़ रुपये का अतिरिक्त बोनस देने का वादा किया है..कांग्रेस पार्टी यह जोखिम उठा सकती है, क्योंकि उनकी जीत राजनीतिक रूप से असंभव है।" जेटली ने यह भी कहा कि कांग्रेस ने स्वयं ही राज्य स्तर के नेतृत्व को ध्वस्त कर दिया और अपने नेतृत्व एवं मुद्दों को बाहर से लाती हैं, जिनका परंपरागत रूप से कांग्रेस पार्टी से कोई लेना-देना नहीं है। जेटली ने कहा, "कोई भी राज्य का नेता नहीं है, जो अभियान के लिए राज्य का दौरा कर रहा है।" उन्होंने कांग्रेस पर सामाजिक ध्रुवीकरण का विभाजनकारी एजेंडा चुनने का भी आरोप लगाया।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...