बिहार : पूर्व विधान पार्षद एवं स्वतंत्रता सेनानी कामरेड जयमंगल सिंह नहीं रहें।

cpi-leader-comred-jaymangal-singh-passes-away
पटना, 19 दिसम्बर। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य सचिव सत्य नारायण सिंह ने पार्टी के लगभग सौ वर्षीय वेटरन षिक्षक नेता, पूर्व विधान पार्षद एवं स्वतंत्रता सेनानी जयमंगल सिंह के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। राज्य कार्यालय से जारी एक प्रेस बयान में भाकपा राज्य सचिव ने कहा है कि जयमंगल सिंह, सारण जिला के नयागांव थानान्तर्गत चतुरपुर गांव के निवासी थे। छात्र जीवन में ही वे भारतीय स्वाधीनता आन्दोलन में कूद पड़े। वे 40 के दषक के शुरूआती काल ही में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी में शामिल हुए। उनका राजनीतिक जीवन षिक्षक आन्दोलन से शुरू हुआ। वे राज्य में माध्यमिक षिक्षकों के चहेते नेता थे। षिक्षकों ने उन्हें 1978 में पहली बार सारण षिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से बिहार विधान परिषद के लिए चुना। तब से लगातार 1996 तक तीन बार वे बिहार विधान परिषद के सदस्य के रूप में निर्वाचित होते रहे। वे सारण जिला के सुतिहार उच्च विद्यालय के प्रधानाध्यापक पद से सेवा मुक्त हुए। कामरेड जयमंगल सिंह वर्षों तक सारण जिला भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के सचिव पद पर कार्यरत रहे। विधान पार्षद के रूप में भी कुछ समय तक वे जिला सचिव रहे। वे षिक्षकों के अलावे किसानों-मजदूरों के भी लोकप्रिय नेता थे। उनके निधन से राज्य के षिक्षक आन्दोलन सहित किसान-मजदूर और समस्त वाम-जनवादी आन्दोलन को अपूर्णीय क्षति हुयी है। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य सचिव सत्य नारायण सिंह ने उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उनके शोक संतप्त परिवार को संवेदना प्रेषित किया है। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...