झारखण्ड : स्वच्छता सर्वेक्षण में पूरे देश में 36 वें पायदान पर है दुमका

  • स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 में दुमका को शीर्ष स्थान पर लाने के लिये युवाओं के साथ डीसी ने की बैठक

dumka-have-36-rank-in-clean-india
दुमका (अमरेन्द्र सुमन) समाहरणालय सभागार, दुमका में जिले के युवाओं के साथ डीसी मुकेश कुमार ने एक बैठक की। इस बैठक में विश्वविद्यालय, महाविद्यालय व स्कूल के छात्र-छात्राओं ने भाग लिया। इस बैठक का उद्देश्य स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 में दुमका को शीर्ष स्थान पर लाना है। इस अवसर पर छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए डीसी ने कहा कि जिले के स्वच्छता सर्वेक्षण में शीर्ष स्थान पर लाने के लिए आपका योगदान महत्वपूर्ण है। जिले की समस्या का समाधान युवा ही कर सकते हैं। इस बैठक में छात्र-छात्राओं की उपस्थिति इस बात का गवाह है कि वास्तव में दुमका को दमकता दुमका के रुप में आप देखना चाहते हैं। आपका उत्साह देखकर जिला प्रशासन गौरवान्वित महसूस कर रहा है। उन्होंने कहा कि कोई भी कार्य सामूहिक प्रयास से किया जाए तो वह सफल होता है। दुमका जिला को स्वच्छता सर्वेक्षण में चुना जाना इस जिले के लिए गौरव का विषय है। उन्होंने कहा कि नगर परिषद क्षेत्र में रहने वाले छात्र-छात्रा स्वच्छता एप्प मोबाइल पर डाउनलोड कर इसका इस्तेमाल करें। एप्प डाउनलोड की संख्या जिले में बढ़ रही है। एप्प को डाउनलोड कर अपने शहर के आसपास की शिकायतों को इसमें अपलोड करें। शिकायत मिलते ही संबंधित विभाग तत्परता के साथ समस्याओं के समाधान में जुट जाऐंगे। स्वच्छता एप्प दमकता दुमका  के लिये महत्वपूर्ण होगा। नगर परिषद की भी चुनौतियां बढ़ेंगी व नगर परिषद पूरी तत्परता से आपीे शिकायतों पर कार्य करेगा। डीसी ने कहा कि स्वच्छता सर्वेक्षण में पूरे देश में दुमका 36 वां स्थान पर है। एकजुट होकर कार्य करने की जरूरत है। युवा ठान लें कि दुमका को बदलता दुमका, स्वच्छ दुमका के रुप में देखना है तो उन्हें कोई नहीं रोक सकता। उन्होंने कहा अपने भीतर बदलाव लाने की जरूरत है। सिर्फ सरकार के भरोसे देश में बदलाव नहीं लाया जा सकता। बदलाव में युवाओं-नागरिकों की महती भूमिका रही है। आप को भी अपनी जिम्मेदारी तय करनी होगी। कहा कि बदलाव में सरकार से भी बड़ी जिम्मेदारी जनता की होती है। जनता अपनी जिम्मेदारी तय कर ले तो  जिला प्रशासन/ सरकार के लिए काम आसान हो जाता है। कहा कि आपके शहर को गंदा करने का अधिकार किसी को भी नहीं होना चाहिए, आपको भी नहीं। जिस तरह से अपने घर की सफाई रखते हैं, शहर भी आपका घर है। शहर को भी साफ सुथरा रखना आप की जिम्मेवारी है। सभी को आगे आना होगा तभी दुमका बदलेगा। कहा कि जिला प्रशासन द्वारा स्वच्छता के लिए कई कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। लगातार जागरूकता अभियान भी चलाया जा रहा है। जब तक लोग जागरुक नहीं होंगे, यह अभियान सफल नहीं हो सकता। उन्होंने कहा आप को जागने की जरुरत है। आस-पड़ोस के लोगों को भी जगायें। इस अवसर पर उप विकास आयुक्त शशि रंजन ने कहा कि युवाओं से ही जिले की पहचान बनती है। युवा जाग जाए तो जिला को बदलना कोई बड़ा कार्य नहीं है। कहा कि आप सभी यहां से एक प्रण लेकर जाएं कि अपने आसपास गंदगी फैलाने वाले लोगों को रोकेंगे और खुद भी गंदगी नहीं फैलाएंगे। आपका यह प्रण ही सही मायने में इस बैठक की सफलता मानी जाएगी। बैठक मंे दुमका के उपायुक्त मुकेश कुमार, उप विकास आयुक्त शशिरंजन, प्रषिक्षु आईएएस विषाल सागर, जिला प्रषासन के वरीय अधिकारी, एनएसएस के स्वयं सेवक, डाॅ0 अजय शुक्ला, डाॅ0 शंकर पंजियारा, डाॅ0 प्रमोद झा, डाॅ0 चंपकलता कुमारी, डाॅ0 दूबे, एसपी काॅलेज के मृणाल मिश्रा के साथ साथ बड़ी तादाद में विष्वविद्यालय स्कूलों से आये छात्र-छात्रायें उपस्थित थीं। 19 दिसम्बर 2017 को मध्याह्न 12 बजे दुमका के उपायुक्त मुकेश कुमार समाहरणालय सभा कक्ष में दुमका जिलान्तर्गत कार्यारत विभिन्न कर्मचारियों की समस्याओं को सुनेंगे तथा समस्याओं का त्वरित निष्पादन हेतु कार्रवाई भी करेंगे। सरकारी सेवा से संबंधित समस्याओं यथा  लम्बित वेतनादि भुगतान, पेंषन, उपदान, भविष्यनिधि, सेवा पुस्तिका, वेतन निर्धारण आदि के निदान हेतु उपायुक्त दुमका के समक्ष उपस्थित होकर आवेदन दाखिल कर सकते है। संबंधित पदाधिकारी/कर्मचारीगण अपने नियंत्री पदाधिकारी से अनुमति/अवकाष स्वीकृत कराने के पष्चात ही उपायुक्त महोदय के समक्ष उपस्थित होंगे। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...