सरकारी बैंकों का सशक्तीकरण, इंफ्रा और हाउसिंग अगले वर्ष के प्रमुख एजेंडा : जेटली

empowerment-of-public-banks-infra-and-housing-key-agenda-for-next-year-jaitley
नयी दिल्ली 14 दिसंबर, वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आर्थिक गतिविधियों में और तेजी लाने के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर निर्माण और रेलवे में निवेश में तेजी लाने की आवश्यकता बताते हुये आज कहा कि अगले वर्ष के लिए सरकार की प्रमुख प्राथमिकताओं में सरकारी बैंकों को सशक्त बनाने के साथ ही इंफ्रास्ट्रक्चर और हाउसिंग भी शामिल है। श्री जेटली ने यहां उद्योग संगठन फिक्की की 90वीं वार्षिक आम बैठक को संबोधित करते हुये कहा कि वर्तमान में जारी कार्याें के अतिरिक्त अपूर्ण कार्याें को पूरा करना भी सरकार की अगले वर्ष की प्राथमिकताओं में है। उन्होंने कहा कि बैंकों को विकास को गति प्रदान करने में मददगार बनने के लिए उनकी ऋण देने की क्षमता में सुधार जरूरी है। यदि अर्थव्यवस्था को औपचारिक बनाना है तो बैंक को मजबूत बनाना होगा। उन्होंने कहा कि बैंकों की बहुत अधिक पूंजी फंसी हुयी है और उनकी ऋण देने की क्षमता घटी है।  उन्होंने कहा कि इंफ्रास्ट्रक्चर और हाउसिंग भी सरकार के प्रमुख एजेंडे में शामिल है। इंफ्रास्ट्रक्चर निर्माण में तेजी के रुख को बनाये रखना होगा। ग्रामीण क्षेत्रों के इंफ्रास्ट्रक्चर निर्माण की भी देश की आर्थिक गतिविधियों में महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने कहा कि राजमार्ग, विमानन क्षेत्र और बंदरगाह क्षेत्र का प्रदर्शन संतोषजनक है, लेकिन रेलवे में इंफ्रास्ट्रक्चर निर्माण को गति देने की जरूरत है। रेलवे स्टेशनों, ट्रेनों की गुणवत्ता, अधिक सुपरफास्ट ट्रेन और प्रास्तावित बुलेट ट्रेन सभी को सशक्त बनाने की आवश्यकता है।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...