झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 01 दिसंबर

देश के प्रधानमंत्री ने देष के साथ किया छलावा -ः जिपं अध्यक्ष सुश्री भूरिया
  • गुजरात चुनाव को लेकर सुश्री भूरिया ने अपने व्यक्तव्य जारी किए

jhabua news
झाबुआ। जिला पंचायत अध्यक्ष एवं वरिष्ठ कांग्रेस नेत्री सुश्री कलावती भूरिया ने गुजरात चुनाव को लेकर अपने व्यक्तव्य जारी करते हुए दावा किया है कि गुजरात चुनाव में इस बार कांग्रेस की सरकार बनेगी। वर्तमान केंद्र सरकार एवं गुजरात राज्य की पूर्व सरकार जनता के विष्वास पर खरा नहीं उतर पाई है। अब जनता बदलाव चाहती है। जिपं अध्यक्ष सुश्री भूरिया ने आरोप लगाते हुए कहा कि पूर्व में गुजरात राज्य के मुख्यमंत्री रहते हुए नरेन्द्र मोदी ने राज्य में कोई विकास कार्य नहीं किया। राज्य की जनता विभिन्न समस्याओं से त्रस्त है। विषेषकर महिलाओं को काफी परेषानियों का सामना करना पड़ा है, उन्हें विभिन्न योजनाओं से वंचित होना पड़ रहा है। अब नरेन्द्र मोदी देष के प्रधानमंत्री रहकर भी देष के साथ छलावा कर रहे है। पहले उन्हांेने नोटबंदी का अनुचित निर्णय लेकर देष के लोगांें को काफी परेषान किया और अब जीएसटी लागू कर गुजरात सहित पूरे देष में व्यापारियों की भारी फजीहत हो गई है। व्यापारियों के व्यवसाय पूरी तरह से ठप्प हो गए है। उनमंे केंद्र सरकार के इस निर्णय को लेकर तीव्र आक्रोष है और अब वे कंेद्र सरकार मंें बदलाव चाहते है। कंेद्र सरकार की उज्जवला योजना भी धरातल स्थल पर फिसड्डी साबित हो रहीं है।

2018 एवं 2019 के चुनाव में कांग्रेस की होगी जीत
इस अवसर पर सुश्री भूरिया ने दावा करते हुए कहा कि गुजरात राज्य मंे कांग्रेस की सरकार बनने के साथ मप्र में वर्ष 2018 में होने वाले विधानसभा चुनाव एवं 2019 में केंद्र सरकार के चुनाव में भी कांग्रेस अपना परचम लहराएगी एवं उक्त राज्यों तथा देष की जनता के विष्वास पर पूरी तरह से खरी उतरेगी। सुश्री भूरिया इन दिनों गुजरात राज्य के गडवाड़ा विधानसभा में कांग्रेस प्रत्याषी चंद्रिकाबेन बारिया के पक्ष में जोर-षोर से प्रचार-प्रसार कर रहीं है। उनके साथ प्रचार में सहयोग कांग्रेस नेत्री सायराबोना, पार्षद मालू डोडियार, खीमलीबाई, भारूभाई आदि द्वारा प्रदान किया जा रहा है।

भारतीय जनता पार्टी झाबुआ किसान मोर्चा के मडल अध्यक्षो की घोषणा विधिवत रुप से आज भाजपा जिलाध्यक्ष दौलत भावसार ने की

झाबुआ । भारतीय जनता पार्टी जिलाध्यक्ष दौलत भावसार द्वारा किसान मोर्चे के जिलाध्यक्ष श्री छगनलाल जायसवाल से विचार विमर्श करने के बाद झाबुंआ जिले के ग्रामीण मंडल के पदाधिकारी व कार्यकारिणी की घोषणा विधिवत रुप से आज कर दी है। किसान मोर्चे के ग्रामीण मंडल थांदला के पदाधिकारी व कार्यकारिणी इस प्रकार रहेगे- अध्यक्ष - श्री कानजी वसुनिया, उपाध्यक्ष - श्री केगा डामोर, घिरु भुरिया, महामंत्री - श्री दौलतसिंह खराडी, प्रथा मुणिया, मंत्री - श्री रमसु गणावा, राजू मैडा, कोषाध्यक्ष - सुश्री ज्योति डामोर, कार्यकारिणी सदस्य - श्री कालिया सिंगाडिया, दिनेश डामोर, बलु डामोर, वलसिंह कटारा, हीरा कटारा, निर्मल डामोर, नारसिंह मुणिया, कांतु मैडा, हितेश नायक, हिमेसिंह डामोर, मकन डिडोड, दलसिंह रावत, नाथु डामोर, कांतु रावत, जालु माला, तेरु निनामा, कसन फुलजी वाणिया, भावा भाबोर, रुसमल देवला,  नारायण भाबोर, सेतीया वसुनिया,  पप्पु भुरिया, कडवा मुणिया, मुन्ना डांगी, दिनेश डामोर, सकरीया चरपोटा,  पारु वसुनिया, रामचंद्र गरवाल, दिपक मावी, बिल्लु बारिया, रामचंद्र डामोर, राजू कटारा उक्त जानकारी किसान मिडिया प्रभारी आशिष शर्मा एवं जिला भाजपा मिडिया प्रभारी अंबरीष भावसार ने दी।

भारतीय जनता पार्टी अजजा मोर्चा की जिला पदाधिकारी एवं कार्यकारिणी की घोषणा भाजपा जिलाध्यक्ष ने की

झाबुआ । भारतीय जनता पार्टी जिलाध्यक्ष श्री दौलत भावसार द्वारा अजजा मोर्चा जिलाध्यक्ष श्री शेलेन्द्र सोलंकी ने कल्याणपुरा मंडल के पदाधिकारी के कार्यकारिणी के सदस्यो की सुची अनुशंसा कर अनुमोदन हेतु प्रेषित किये है। उक्त भारतीय अजजा मोर्चा मंडल कल्याणपुरा कार्यकारिणी एवं पदाधिकारी की सूची का अनुमोदन एवं विचार विमर्श के बाद आज विधिवत रुप से भाजपा जिलाध्यक्ष एवं भारतीय अजजा मोर्चा जिलाध्यक्ष एवं अजजा मोर्चा के मण्डल अध्यक्ष द्वारा कार्यकारिणी की घोषणा की है जो इस प्रकार है - अजजा मोर्चे में 1 अध्यक्ष  5 उपाध्यक्ष 2 महामंत्री 6 मंत्री 1 कोषाध्यक्ष 1 कार्यालय मंत्री 1 मिडिया प्रभारी 2 आमंत्रित अतिथि, 22 सदस्य की कार्यकारिणी बनाइ्र्र गई है। जो इस प्रकार हैः- जिलाध्यक्ष - श्री शेलेन्द्र सोलंकी , अध्यक्ष सुरेश चैहान कल्याणपुरा जिला उपाध्यक्ष  -श्री भावला गणेश हटिला, रालु भाई सिंगाडिया, वरसिंह मडु वसुनिया,राजेन्द्र बामनिया, रामचंद्र भाभोर महामंत्री -श्री कश्मीर मल्ला भाबोर, लवनिश वरसिंह वसुनिया, मंत्री - श्री नानसिंह पचाया भमरदा, गोपाल कटारा बरखेडा, कालु मेडा, कमलेश मुणिया, कमलसिंह भुरिया, रवि राठावा, जिला कोषाध्यक्ष - श्री मानसिंह जवला, कार्यालय मंत्री - श्री दिलीप माना पाल, जिला मिडिया प्रभारी- श्री लवनिश वसुनिया, आमत्रित अतिथि - श्री मुलचंद बामनिया, रुपसिंह सोलंकी, सदस्य - श्री वेस्ता कटारा, मेगजी अमलियार, शंकर गणावा, रामसिंह फतिया बामनिया, कालु मेडा अमरपुरा, कम्मा भुरिया, रतन हिसोर, हकरु बबेरिया, भगला पाल, भारत मकवाना, मांगीलाल शुभु बिसोली, गोपाल खपेड, सरदार वसुनिया, गामनिया गोयल, कालु निनामा,  गल्ला अमलियार, नाथु परमार, छतरु भाभोर, टोनी मेडा, मंसु मावी, शैतान निनामा हडमोतिया, खेता वसुनिया, राकेश बारिया  उक्त जानकारी भाजपा जिला मिडिया प्रभारी श्री अंबरीष भावसार ने दी ।

कांग्रेस ने दी मुस्लिम एवं बोहरा समाज को मिलाद-उन-नबी की मुबारकबाद

झाबुआ । कांग्रेस पार्टी ने मिलाद-उन-नबी की बधाई्र दी है। सांसद कांतिलाल भूरिया, जिला कांग्रेस अध्यक्ष निर्मल मेहता, जिला पंचायत अध्यक्ष सुश्री कलावती भूरिया, जिला कांग्रेस उपाध्यक्ष एवं सांसद प्रतिनिधि डाॅ.विक्रांत भूरिया ने मिलाद-उन-नबी के पावन त्यौहार पर अपनी ईद मुबारकबाद दी। इस अवसर पर श्री भूरिया ने अपने सन्देश में कहा कि ईद का यह त्यौहार समस्त मुस्लिम एवं बोहरा समाज के परिवारों एवं पूरी बिरादरी को नियामत बक्षे और सुख, सुकुन व बेहतरी के नये दरवाजे खोले एवं परवरदीगार सबकों नेकी के रास्ते पर चल कर लगातार आगे बढने की ताकत देवें। सांसद भूरिया ने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा देश के अल्पसंख्यक वर्ग के साथ पूरी ताकत के खडी है और हमेशा खडी रहेगी।  जिला कांग्रेस अध्यक्ष निर्मल मेहता ने ईद के अवसर पर बधाई देते हुए अपने संदेश में कहा कि यह पावन त्योहार पूरे जिले में अमनो अमान, एकता व भाई चारे को और अधिक मजबुती प्रदान करेगी। जिला पंचायत अध्यक्ष सुश्री कलावती भूरिया ने कहा कि प्रदेश का हर बाशिन्दा अमन व सम्प्रदायिक सदभाव के माहौल में तरक्की कर सकें तथा देश एवं प्रदेश तरककी के रास्ते पर आगे बढे। जिला कांग्रेस उपाध्यक्ष एवं सांसद प्रतिनिधि डाॅ.विक्रांत भूरिया ने मिलाद-उन-नबी की बधाई देते हुए कहा कि यह त्यौहार देश के समस्त नागरिक मिल-जुल कर मनाते हैं तथा खुदा से सुख, शंाति एवं बरकत के लिए दुआ मांगते हैं।  जिला पंचायत उपाध्यक्ष चंद्रवीरसिंह राठौर, वरिष्ठ कांग्रेस नेता रमेश डोशी, प्रकाश रांका, नगीन शाह, हनुमानसिंह डाबडी, रूपसिंह डामोर, पूर्वविधायकगण वीरसिंह भुरिया, वालसिंह मेडा, जेवियर मेडा, प्रवक्ता हर्ष भटट, आचार्य नामदेव, साबीर फिटवेल, नगर पालिका अध्यक्ष मनुबेन डोडियार, उपाध्यक्ष रोश्नि डोडियार, कांग्रेस नेता नाथुभाई ठेकेदार, अल्पसंख्यक जिलाध्यक्ष सलेल पठान, सेवादल प्रमुख राजेश भटट, युवक कांग्रेस प्रमुख आशीष भुरिया, कलावती मेडा, विनय भाबोर, जितेन्द्रप्रसाद अग्निहोत्री, हेमचंद्र डामोर, बंटु अग्निहोत्री, अलीमुददीन सैयद, यामीन शेख, विजय पांडे, शब्बीर भाई बोहरा, वीरेन्द्र मोदी, सुरेश मुथा, गोपाल शर्मा, मानसिंह मेडा, शंकर सिंह भूरिया, कलावती गेहलोत, अकमालसिंह डामोर, कैलाश डामोर, विजय भाबोर, गौरव सक्सेना, अविनाश डोडियार, धुमा डामोर, रसीद कुरेशी, विवेक येवले, हेमेन्द्र कटारा, नुरजहां बी, आयुषी भाबोर, मालु डोडियार, सहित जिला कांग्रेस, ब्लाक कांग्रेस, महिला कांग्रेस, शहर कांगेस, सेवादल, युवक कांग्रेस, एनएसयुआई, किसान कांग्रेस सहित विभिन्न मोर्चा संगठन के पदाधिकारियों ने बोहरा एवं मुस्लिम समाज को बधाईयां दी है।

सांसद कांतिलाल भूरिया के अथक प्रयास के चलते इंदौर-अहमदाबाद फाॅरलेन का कार्य तीव्र गति से निर्माणाधीन

झाबुआ । सांसद कांतिलाल भूरिया के द्वारा केन्द्र सरकार को बार-बार दबाव डालकर इंदौर-अहमदाबाद हाईवे को पूर्ण करने का प्रयास अब सार्थक लगने लगा है। भूरिया जी के अथक प्रयास के कारण अब फारलेन का निर्माण कार्य तीव्र गति से प्रारंभ हो गया है। ज्ञातव्य है कि सांसद भूरिया ने अपने कार्यकाल के दौरान तत्कालिन यूपीए सरकार से इस हाईवे के निर्माण कार्य की स्वीकृति दिलवाई थी किंतु वह कार्य निश्चित अवधि में पूर्ण नहीं हो पाया था तथा केन्द्र मे एनडीए की सरकार बनने के बाद इस निर्माण कार्य बंद हो गया था। सांसद भूरिया ने केन्द्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से बार-बार मुलाकात की तथा संसद में भी इस मामले को लेकर पूरजोर तरीके से उठाया गया तथा इस निर्माण कार्य हेतु कांग्रेसजनों के साथ मिलकर उन्होने सड़क पर धरना आंदोलन भी किया तथा इस निर्माण कार्य को पूरा कराने हेतु केन्द्र सरकार पर बार-बार दबाव डालकर इसे पूर्ण करने हेतु 122 करोड़ रूपये की राशि स्वीकृत करवाने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। श्री भूरिया जी ने विगत दिनों झाबुआ में नेशनल हाईवे रोड़ से जुडे सुमित कुमार जीएम एवं रविन्द्र गुप्ता डीजीएम सहित दिल्ली से आए अधिकारियों की एक उच्च स्तरीय बैठक लेकर इस कार्य में आ रही रूकावटों को लेकर भी जीएम एवं अधिकारियों को अवगत कराया तथा माछलिया घाट सेक्शन की घाट कटिंग के लिए भी 2 करोड़ से अधिक की राशि मंजूर कराने में भी उन्होंने अपनी सार्थक भूमिका निभाई। आज उन्हीें के प्रयास से इंदौर-अहमदाबाद क्षेत्र के आस-पास के निवासियों को इंदौर पहुंचने में कम समय लगने की उम्मीद जागी है। क्षेत्रवासी भूरिया जी के इस अथक प्रयास के लिए उन्हें अपना धन्यवाद भी ज्ञापित कर रहें है। जिला कांग्रेस उपाध्यक्ष एवं सांसद प्रतिनिधि डाॅ.विक्रांत भूरिया एवं प्रवक्ता हर्ष भट्ट ने जानकारी देते हुए बताया कि श्री भूरिया ने अधिकारियों की उच्च स्तरीय बैठक झाबुआ में आयोजित की गई जिसमें अधिकारियों से कहा कि राजगढ़ से देवझिरी तक एवं देवझिरी से पिटोल तक इस कार्य को तय की गई अवधि में पूरा करे तथा इस पूरे फारलेन निर्माण को भी अप्रेल माह से पूर्व पूर्ण करने का प्रयास करें। श्री भूरिया ने उन्हें चेतावनी देते हुए कहा कि बजट प्राप्त होने के बाद भी यदि यह कार्य पूरा नहीं किया जाता है तो इसकी संपूर्ण जवाबदारी फारेलन से संबंधित अधिकारियों एवं विभाग की होगी।

गीता अज्ञानता के अंधकार को मिटाकर आत्मज्ञान से भीतर को रोषन करती है:- डाॅ.के.के.त्रिवेदी

jhabua news
झाबुआ । आगामी गीता जयंति महोत्सव के अंतर्गत प्रथम चरण में दिनांक 27,28 एवं 29 नवंबर को सायं काल 6 बजे से 7 बजे तक तीन दिवसीय गीता पाठ का आयोजन पंडित विष्वनाथ शुक्ल जी के सानिध्य मे संपन्न हुआ। इस कार्यक्रम के पश्चात गीता पर भी प्रवचन का कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसके मुख्य वक्ता जिले के इतिहासवीद श्री के.के. त्रिवेदी थे। श्रीमद भागवत गीता का मानव जीवन के लिए बहुत अधिक महत्व है। इसका उपदेश मनुष्य को जीवन की वास्तविकताओं से परिचित करवाता है और उसे निःस्वार्थ रूप से कर्म करने को प्रेरित करता है। यह मानव को कर्तव्यपरायण बनाता है। सबसे अहम बात यह भी है कि जब भी आप किसी तरह की शंका में जी रहें हो तो गीता का अध्ययन करें आपका उचित मार्गदर्शन अवश्य होगा। इसके अध्ययन, श्रवण, मनन और चिंतन से जीवन में श्रेष्ठता का भाव आता है। इसके संदेश में मात्र संदेश नहीं है बल्कि यह तो वह मुलमंत्र है जिन्हें हर कोई अपने जीवन में आत्मसात कर पूरी मानवता का कल्याण कर सकता है। गीता अज्ञानता के अंधकार को मिटाकर आत्मज्ञान से भीतर को रोशन करती है। अज्ञान, दुःख, मोह, क्रोध, काम, लोभ आदि से मुक्ति का ज्ञान बताती है गीता। कुरूक्षेत्र के संग्राम में योगेश्वर श्री कृष्ण ने कर्तव्य विमुख अर्जुन को कर्तव्यबोध का मार्ग दिखाया वह पवित्र एवं प्रेरक ज्ञान श्रीमद भगवत गीता के रूप् में आज विश्व की अमूलय धरोहर बन गया है। कर्मयाग, ज्ञानयोग एवं भक्ति योग के माध्यम से लीला अवतार श्री कृष्ण जिन्हें जीवन जगत और जगत पिता का दर्शन कराया। यह प्राणीमात्र के लिए आंनदमय जीवन का स्त्रोत बन गया है। उक्त उद्गार साहित्स मर्मक डाॅ.के.के त्रिवेदी ने गीता महोत्सव पर चारभुजा मंदिर परिसर में आयोजित धर्मसभा में व्यक्त किए। इसके पूर्व पंडित विश्वनाथ शुक्ल ने गीता के महाआमात्य पर व्याख्यान देते हुए कहा कि मनुष्य को केवल कर्म करने का अधिकार है फल की चिंता करना व्यर्थ अर्थात निःस्वार्थ भाव से अपने कर्म का पालन करना चाहिए। गीता का ज्ञान गीता पड़ने वालों को हर बार एक नए रूप मंे हासिल होता है। मानव जीवन का ऐसा कोई पहलु नहीं है जिसकी व्याख्या गीता में ना मिले। हिंदु धर्म के इस पवित्र धर्म की महिमा जितनी गाई जाए उतनी कम है। किसी भी धर्म में ऐसा कोई ग्रंथ नहीं है जिसके उद्भाव, उत्पत्ति का दिन महोत्सव के रूप में मनाया जाता है। गीता ही एक मात्र ऐसा ग्रंथ है जिसके आविर्भाव के दिन को जयंती महोत्सव के रूप मंे मनाया जाता है। इस अवसर पर कार्यक्रम का संचालन एवं आभार समिति के प्रमुख हरीश शाह ने किया। दीपक बद्रीलाल भंडारी की ओर से प्रसादी का आयोजन किया गया। इस अवसर पर शेषनारायण मालवीय, अजय रामावत, जितेन्द्र शाह, संजय शाह, शांतिलाल जी शाह, लक्ष्मीनारायण जी शाह, मीठालाल शाह, पुरूषोत्तम गेहलोद, राजेन्द्र शाह, कृषणकांत शाह, शशिकांत रामावत, शकुंतला कटलाना, सारदा बेन शाह, कीर्ति देवल, स्नेहलता कटलाना सहित बड़ी संख्या में श्रद्वालु एवं गणमान्य उपस्थित थे।

विश्व विकलांग दिवस पर खेलकूद, सामथ्र्य प्रदर्शन सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन

झाबुआ । जिला कलेक्टर श्री आषीष सक्सेना के मार्गदर्शन में झाबुआ में जिला स्तर पर विश्व विकलांग दिवस 3 दिसम्बर 2017 के अवसर पर निःशक्तता की सभी श्रेणीयों में (अस्थि बाधित, दृष्टि बाधित, श्रवण बाधित एवं मानसिक रूप से अविकसित) एवं आयु वर्गवार (6 से 14 वर्ष 16 से 18 वर्ष एवं 18 वर्ष से अधिक) खेलकूद प्रतियोगिताएॅं, सामथ्र्य प्रदर्शन प्रतियोगिताएॅं एवं सांस्कृतिक प्रतियोगिताएॅ आयोजित की जावेंगी ।  उपसंचालक सामाजिक न्याय श्री अषफाक अली ने बताया कि, जिला कलेक्टर के निर्देशानुसार इस आयोजन के सफल क्रियान्वयन हेतु सर्वसम्बन्धित विभागों, निःशक्तता के क्षेत्र में जिले में कार्य कर रही संस्थाओं, स्वयं सेवी संस्थाओं एवं कार्यकर्ताओं की समिति बनाकर दायित्व निर्धारित किया जा चुका है । इस आयोजन में दिनांक 3 दिसम्बर रविवार को प्रातः 10.30 बजे से स्थानीय काॅलेज ग्राउण्ड पर जिला स्तरीय खेलकूद जिसमें निःशक्त व्यक्तियों के सामथ्र्य कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें एथेलेटिक्स की प्रतियोगिताएॅ लकड़ी / बैसाखी दौड़, जलेबी रेस, थैला रेस, चम्मच रेस इत्यादि का आयोजन किया जावेगा । एवं 3 दिसम्बर 2017 रविवार को दोपहर 2.30 बजे से जिला विकलांग पुनर्वास केन्द्र कल्याणपुरा रोड़ रंगपुरा में चित्रकला सांस्कृतिक एवं सामथ्र्य प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जा रहा है । उक्तानुसार जिला स्तरीय खेलकूद, सामथ्र्य एवं सांस्कृतिक प्रतियोगिताओं व कार्यक्रमों का आयोजन निःशक्ता की सभी श्रेणी के बालक-बालिकाओं के लिए के लिए दो वर्गों सिनीयर वर्ग (18 वर्ष से अधिक) एवं जूनियर वर्ग (18 वर्ष से कम) में किया जावेगा । उक्त समस्त प्रतियोगिताओं में प्रथम एवं द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाले प्रतियोगियों को पुरूस्कृत किया जावेगा । 4 दिसम्बर 2017, सोमवार को जिला विकलांग पुनर्वास केन्द्र पर प्रातः 10.00 बजे से दोपहर 1.00 बजे तक निःषक्तजनों का स्वास्थ्य परीक्षण एवं निःषक्तता प्रमाण पत्र तैयार किये जावंेगे। विश्व विकलांग दिवस के सफल आयोजन हेतु मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व उपसंचालक सामाजिक न्याय विभाग एवं प्रशासनिक अधिकारी जिला विकलांग पुनर्वास केन्द्र झाबुआ, जिला षिक्षा अधिकारी, परियोजना समन्वयक सर्वशिक्षा अभियान, म0प्र0 जन अभियान परिषद, कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास अधिकारी, जिला शिक्षा अधिकारी, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास, मुख्य नगर पालिका अधिकारी नगरपालिका झाबुआ, जिला क्रिड़ा अधिकारी झाबुआ, पेरेन्ट्स सोसायटी फाॅर वेल्फेयर आॅफ पर्सन्स विथ डिसेबिलिटीस, समन्वय सामाजिक एवं शैक्षणिक विकास समिति झाबुआ, आजाद विकलांग कल्याण समिति मेघनगर, श्रुति मूक बधिर संस्था अंतरवेलिया को आयोजन के विभिन्न दायित्व सौपे गये । जिले के समस्त जनपद मुख्यालयों से निःशक्तजनों के आवागमन की व्यवस्था हेतु मूख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत, खण्ड शिक्षा अधिकारी, खण्ड स्त्रोत समन्वयक, तथा परियोजना अधिकारी महिला एवं बाल विकास का दायित्व निर्धारित किया गया । साथ ही सर्व सम्बन्धित विभागों जिले की शासकीय व अषासकीय शिक्षण संस्थाओं के प्राचार्य एवं निःषक्तता के क्षेत्र में कार्य कर रही संस्थाओं से इस आयोजन को सफल बनाने हेतु सहयोग कर जिले के अधिकाधिक विकलांगजनों को उक्त कार्यक्रमों में भाग लेने हेतु प्रोत्साहित करने हेतु आह्वान किया।

7 से 18 दिसम्बर तक चलेगा सघन मिशन इन्द्रधनुष का तृतीय चरण
  • सफल आयोजन के लिए जिला कार्यबल की बैठक संपन्न

jhabua news
झाबुआ । स्वास्थ्य विभाग द्वारा माह जनवरी 2018 तक प्रतिमाह 18 तारीख तक सघन मिशन इन्द्रधनुष अभियान चलाया जाएगा। मिशन इन्द्रधनुष अभियान अंतर्गत जिले के टीकाकरण से छूटे लक्षित बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण किया जाएगा। अभियान के तीसरे चरण के सफल आयोजन के लिए आज जिला कार्यबल की बैठक का आयोजन कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में किया गया। बैठक मे मिशन इन्द्रधनुष के तीसरे चरण 7 दिसम्बर से 18 दिसम्बर तक चलने वाली गतिविधियों की समीक्षा करते हुवे कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना ने निर्माण साइटो, झुग्गी बस्तियों एवं माता-पिता के साथ पलायन पर रहने वाले बच्चों पर विशेष फोकस करते हुए टीकाकरण का लक्ष्य शत-प्रतिशत पूर्ण करने के लिए जिला टीकाकरण अधिकारी एवं मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को बैठक में निर्देशित किया। बैठक मे सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ डी एस चैहान, जिला टीकाकरण अधिकारी डाॅ राहुल गणावा, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास श्री जमरा, सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

ग्राम पंचायत को मिलेगा 2 लाख का पुरस्कार
लक्षित बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण कार्य शत-प्रतिशत करने वाली ग्राम पंचायत को भी शासन द्वारा दो लाख रूपये का पुरस्कार दिया जाएगा एवं उत्कृष्ट कार्य करने वाले अधिकारी कर्मचारियो को भी शासन द्वारा पुरस्कृत किया जाएगा। जिला स्तर पर रू. 2.00 लाख, स्वास्थ्य विभाग के सेक्टर (प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र) स्तर पर रू. 1.00 लाख एवं ग्राम पंचायत स्तर पर टीकाकरण का लक्ष्य शत-प्रतिशत पूर्ण करने पर रू. 2.00 लाख का पुरस्कार उत्कृष्ट कार्य करने वाले अधिकारी कर्मचारियो को शासन द्वारा दिया जाएगा। ग्रामीण क्षैत्र में हुए टीकाकरण की मानीटरिंग करने के लिए ब्लाक के बी.ई एवं बीसीएम द्वारा की जाएगी। बी.ई एवं बीसीएम एवं सीडीपीओ महिला बाल विकास की टीम गांव में आकस्मिक जाकर टीकाकरण का भौेतिक सत्यापन करेगी। बच्चो को टीकाकरण बूथ तक लाने ने जाने के लिए सचिव रोजगार सहायक, आंगनवाडी कार्यकत्र्ता एवं सहायिका द्वारा अभियान के दौरान सतत कार्य किया जाएगा।

एडस एवं मिशन इन्द्रधनुष के लिए जागरूकता रैली आयोजित

झाबुआ । आज विश्व एडस दिवस के अवसर पर एडस एवं मिशन इन्द्रधनुष के लिए जन जागरूकता रैली का आयोजन किया गया। सघन मिशन ईन्द्रधनुष अभियान के तीसरेे चरण में 7 से 18 दिसम्बर 2017 तक टीकाकरण किया जाएगा। इसलिए आज जनचेतना हेतु रैली का आयोजन राजवाडा चैक से जिला अस्पताल तक किया गया। रैली में डाॅ.डी एस चैहान सीएमएचओं डाॅ. राहुल गणावा जिला टीकाकरण अधिकारी डाॅ. जितेन्द्र बामनिया, जिला मलेरिया अधिकारी डाॅ. सिसौदिया व आर आर खन्ना जिला कार्यक्रम अधिकारी ने रैली को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। रैली का आयोजन कर इस अभियान में शामिल हो कर शत प्रतिशत टीकाकरण कर हर बच्चे व गर्भवत्ती महिलाओं को सुरक्षित रखने का प्रयास करने के लिए आमजन से अपील की गई।

राणापुर के नंदकिशोर ने राज्य स्तर पर कहानी उत्सव में द्वितीय स्थान प्राप्त किया

झाबुआ । झाबुआ जिले के शासकीय बालक माध्यमिक विद्यालय राणापुर के छात्र नंदकिशोर पिता शंकर नायक ने राज्य स्तरीय कहानी उत्सव प्रतियोगिता में दूसरा स्थान प्राप्त कर जिले को गौरान्वित किया है। नंद किशोर को जिले के लिए इस उपलब्धि के लिए कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना, सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे, सहायक आयुक्त श्री गणेश भाभर सहित विद्यालय के शिक्षको एवं विद्यार्थियों ने बहुत-बहुत बधाई दी।

सत्र 2018-19 में 1 अप्रैल से प्रारंभ होगा शैक्षणिक सत्र

झाबुआ । राज्य शासन द्वारा शिक्षा की गुणवत्ता को दृष्टिगत रखते हुए यह निर्णय लिया गया है कि आगामी शैक्षणिक सत्र 2018-19 में कक्षा 1 से 12 वी तक का शैक्षणिक सत्र 01 अप्रेैल से प्रारंभ होगा। इस संबंध में स्कूल शिक्षा विभाग मध्यप्रदेश शासन द्वारा आदेश जारी कर दिया गया है।

विभिन्न चिकित्सीय पाठ्यक्रमों में अनुमति दिये जाने की अंतिम तिथि एवं प्रवेश की तिथि परिवर्तित

झाबुआ । शैक्षणिक सत्र 2017-18 के विभिन्न पाठ्यक्रमों में अनुमति दिये जाने की अंतिम तिथि एवं प्रवेश की तिथि रजिस्ट्रार मध्यप्रदेश सह चिकित्सीय परिषद द्वारा परिवर्तित की गई है। शैक्षणिक सत्र 2017-18 में विभिन्न सह चिकित्सीय पाठ्यक्रमों में अनुमति दिये जाने की अंतिम तिथि 30 दिसम्बर तथा (ऑनलाइन फार्म भरने की अंतिम तिथि) प्रवेश की अंतिम तिथि 15 जनवरी 2018 निर्धारित की गई है।

छोटे -छोटे परिवर्तन कर जीवन को सरल बनाये,  महिला बाल विकास विभाग में अल्प विराम कार्यक्रम का हुआ आयोजन

jhabua news
झाबुआ । आज जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग झाबुआ के शासकीय सेवको के लिए अल्प विराम कार्यक्रम का आयोजन किया गया। अल्प विराम कार्यक्रम में नोडल अधिकारी आनंद विभाग एवं उप संचालक जनसम्पर्क श्रीमती अनुराधा गहरवाल ने अल्प विराम कार्यक्रम का संचालन किया। अल्प विराम कार्यक्रम में शासकीय अधिकारी एवं कर्मचारियों के व्यवहार और विचारो को और अधिक सकारात्मक करने के लिए अपने आपकों पहचानने अपने अंदर छुपी अच्छाईयों को और अधिक बढाने एवं अपने अंदर की बुराईयों को धीरे-धीरे कम करने के लिए अभ्यास करवाया गया। अल्प विराम कार्यक्रम में पक्षी बाज के जीवन के बारे में बताते हुवे जीवन में छोटे-छोटे बदलाव कर जीवन को आसान बनाने के बारे में बतायो गया। अपने अंदर की बुराईयो को कम करते हुए स्वयं में छोटे-छोटे बदलाव करके अपनी उर्जा को अपने उद्देश्यो को पूरा करने में उपयोग कर सकते है। एवं नकारात्मक विचारो से नष्ट होने वाली उर्जा को बचा कर सकारात्मक कार्यो में लगाया जा सकता है। स्वयं को खुश रखने के तरीके बताये गये। शासकीय सेवको को बताया गया कि वे जीवन मूल्यों को समझकर अपने व्यवहार में बदलाव करके व्यस्तम समय में भी आनंद की अनुभूति कर सकते है। क्रार्यक्रम में कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास  श्री जमरा जिला सशक्तिकरण अधिकारी श्री बघेल सहित विभाग के शासकीय सेवकों ने भाग लिया।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...