बिहार : शानदार रैली निकालकर खुले में शौचक्रिया न करने का आग्रह विधार्थियों ने किया

protest-for-open-toilet
हरनौत(नालन्दा)।  नालन्दा जिले के हरनौत प्रखंड में हैं उत्क्रमित कन्या मध्य विघालय। इस विघालय के शिक्षक बहादुर राम ने बताया कि  उत्क्रमित कन्या मध्य विघालय लोहरा में  हमलोगों की कुल 12 पद सृजित हैं। यहां से 2 शिक्षक पदोन्नत पाकर चले गए हैं। यहीं से 1 शिक्षक ट्रेनिंग में गए हैं। 2 शिक्षकों ने शिक्षा   विभाग की आंख में धूल झोंककर बहाल हो गये । हां बाद में दोनों पकड़ा गए। अभी 7 कार्यशील हैं।  इन 7 शिक्षकों में 1हेड मास्टर और 2 बीएलओ हैं। जो काफी व्यस्त रहते हैं।हेड मास्टर साहब सरकारी कार्य में और बीएलओ वोटरों के कार्य में व्यस्त रहते हैं। इस तरह से केवल 4 शिक्षकों के सहारे 1से 8 कक्षा तक के विद्यार्थियों को पढ़ाने को मजबूर होना पड़ रहा हैं।

बच्चों की रैली की 
जीवा के कार्यकर्ताओं ने स्वच्छता रैली निकालने के सिलसिले में जीवा का यही हैं सपना घर - घर में शौचालय हो अपना,बात अभी वही पुरानी खुले में शौच जाए बहुरानी, व्याह करके घर में लाए दुल्हनिया शौच को बाहर जाए और चाचा चाची शर्म करो, खुले में हगना बंद करो

नेतृत्व करने वालों  नेताओं
जीवा के कार्यकर्ताओं ने विघार्थिंयों में से रैली का नेतृत्व करने के लिये 10 का चयन किया।जो नारा लगा सके और कतारबद्ध करा सके।रैली में कुल विद्यार्थियों और शिक्षको की संख्या में लड़कों की संख्या 51,लड़कियों की संख्या 62, पुरूष शिक्षकों 7 और महिला शिक्षक की संख्या 1थी। विघालय परिसर का परिक्रमा विघालय से निकलकर मुसहरी, चमार टोली, दुसाद टोली और बाभन टोली तक गए। बाभन टोली से लौटकर विभिन गलियों से गुजर कर विघालय परिसर पहुंचे।सभी शिक्षकों एवं विद्यार्थियों को जीवा की ओर से धन्यवाद दिया गया। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...