गुजरात का विकास अवरुद्ध करने में ज़ोर लगा दिया था राहुल ने : भाजपा

rahul-gandhi-emphasized-on-blocking-development-of-gujarat-bjp
नयी दिल्ली 13 दिसंबर, गुजरात विधानसभा चुनाव के दूसरे एवं अंतिम चरण के मतदान की पूर्वसंध्या पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने कांग्रेस के भावी अध्यक्ष राहुल गांधी पर आज आरोप लगाया कि उन्होंने केन्द्र में संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) की सरकार के कार्यकाल में गुजरात का विकास अवरुद्ध करने में पूरा ज़ोर लगा दिया था और वह नहीं चाहते थे कि राज्य में कोई कारखाना लगे एवं लोगों को राेज़गार मिले। भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं केन्द्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में तत्कालीन वन एवं पर्यावरण मंत्री जयंती नटराजन के ईमेलों का हवाला देते हुए दावा किया कि संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) की सरकार ‘संविधानेत्तर ताकतें’ चलातीं थीं और मंत्री उन ताकतों से तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के निर्देशों पर क्या करना है, यह निर्देश भी लेते थे। श्री गोयल ने कहा कि श्री गांधी, श्री कनिष्क सिंह का पर्यावरण मंत्रालय के मामलों में जिस प्रकार का हस्तक्षेप रहा है उससे लगता है कि जिसे हम ‘जयंती टैक्स’ कहते थे, वह दरअसल ‘राहुल टैक्स’ था। उन्होंने इसी पत्राचार में महाराष्ट्र की लवासा परियोजना को लेकर नियमों के उल्लंघन होने और इसके बावजूद राजनीतिक कारणों से उस पर कदम नहीं उठाने का भी आरोप लगाया। इसी प्रकार से अमेठी एवं रायबरेली की एक राजमार्ग परियोजना को लेकर भी श्री गांधी की अनभिज्ञता और संप्रग सरकार के विभिन्न विभागों की अक्षमता का आरोप भी लगाया।  श्रीमती नटराजन और श्री गांधी एवं उनके निजी सचिव कनिष्क सिंह के बीच ईमेल पर पत्राचार का उल्लेख करते हुए यह दावा भी किया कि उन्होंने गुजरात के एक पटेल कारोबारी के सीमेंट संयंत्र को पर्यावरण नियमों के आधार पर किसी भी कीमत पर मंजूरी नहीं देने के लिए बाध्य किया। उन्होंने कहा कि श्री गांधी किसी भी कीमत नहीं चाहते थे कि गुजरात में कारखाना खुले और लोगों को रोज़गार मिले।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...