रवि शंकर प्रसाद ने गुजरात विधानसभा चुनाव पर पाकिस्तान के बयान को लिया आड़े हाथ

ravi-shankar-prasad-condemn-pakistan-statement-on-gujrat
नयी दिल्ली, 11 दिसंबर, गुजरात विधानसभा चुनाव पर पाकिस्तान की ‘अवांछित’ टिप्पणी की आज विधि एवं न्याय मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने निंदा की और कहा कि यह कांग्रेस पार्टी को राहत देने के लिए की गई टिप्पणी ज्यादा लगती है। प्रसाद ने कहा कि भारतीय अपने देश के लोकतंत्र को स्वयं चलाने में पूरी तरह सक्षम है। उनका यह बयान पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल के ट्वीट के बाद आया है। फैसल ने ट्वीट किया था, ‘‘भारत को अपनी चुनावी बहस में पाकिस्तान को घसीटना बंद करना चाहिए और षड्यंत्र रचने के बजाय अपनी खुद की शक्ति के आधार पर चुनाव जीतने चाहिए।’’ फैसल का यह ट्वीट भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उस वक्तव्य के बाद आया है जो उन्होंने गुजरात के पालनपुर में अपनी एक रैली के दौरान भाषण में कहा था। फैसल के इस बयान पर प्रसाद ने यहां पत्रकारों से कहा, ‘‘ आज पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने एक बहुत ही रोचक बयान जारी किया है जिसमें पाकिस्तान ने उसे भारतीय चुनावों में घसीटने की निंदा की है और सलाह दी है कि भारतीयों को अपने आप से चुनाव लड़ना चाहिए।’’ प्रसाद ने कहा, ‘‘मैं पाकिस्तान से कहना चाहता हूं कि भारतीय भारत के लोकतंत्र को स्वयं चलाने में समर्थ हैं जैसा कि वह करते आए हैं। भारत के प्रधानमंत्री एक चुनकर आए लोकप्रिय प्रधानमंत्री हैं और भाजपा भी लोकप्रिय है। भारत के चुनावी मामलों में बाहर के किसी भी हस्तक्षेप का पूरी तरह से नापसंद किया जाता है।’’ उन्होंने कहा कि भारत में आतंकवाद को बढ़ावा देने में पाकिस्तान के हाथ की बात जगजाहिर है। इसलिए वह हमें ज्ञान देना बंद करे और हमें भारत के लोकतंत्र पर गर्व है। गौरतलब है कि मोदी ने अपने भाषण में दावा किया था कि कांग्रेस से निलंबित नेता मणिशंकर अय्यर के उन्हें ‘नीच’ बुलाए जाने से एक दिन पहले उनके आवास पर एक गुपचुप बैठक हुई। इसमें पाकिस्तान के उच्चायुक्त, पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री, भारत के पूर्व उप राष्ट्रपति और देश के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी शामिल हुए थे।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...