रणजी ट्रॉफी : गुरबानी ने विदर्भ को पहले रणजी फाइनल में पहुंचाया

vidarbha-first-time-in-ranji-final
कोलकाता, 21 दिसंबर,  मध्यम गति के गेंदबाज रजनीश गुरबानी की शानदार गेंदबाजी से विदर्भ ने आज यहां रोमांचक सेमीफाइनल में गत चैम्पियन कर्नाटक को पांच रन से शिकस्त देकर पहली बार रणजी ट्राफी फाइनल में प्रवेश किया। गुरबानी ने मैच में 12 विकेट झटके जो उनका सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन भी है जिसने विदर्भ की ऐतिहासिक जीत की नींव रखी। विदर्भ की टीम अब देश की सर्वश्रेष्ठ प्रथम श्रेणी टीम के खिताब के लिये दिल्ली से खेलेगी। पहली पारी में 94 रन देकर पांच विकेट झटकने वाले गुरबानी ने फिर दूसरी पारी में भी शानदार प्रदर्शन किया और अकेले दम पर कर्नाटक की टीम को समेटने में अहम भूमिका अदा की जिसे जीत के लिये 198 रन का लक्ष्य मिला था। उन्होंने मैच विजेता बनकर दूसरी पारी में 68 रन देकर सात विकेट झटके। कर्नाटक के सात विकेट कल ही गिर गये थे, गुरबानी ने बचे हुए तीन विकेट चटकाकर उसकी पारी 192 रन पर खत्म कर विदर्भ को जीत दिलायी। विदर्भ को जीत के लिये महज तीन विकेट की दरकार थी, विदर्भ की टीम पांचवें और अंतिम दिन कागज पर जीत की दावेदार थी लेकिन कर्नाटक के पुछल्ले बल्लेबाजों ने इतनी जल्दी हार नहीं मानी और लक्ष्य से केवल पांच रन पहले ही आउट हुए। कर्नाटक ने सात विकेट पर 111 रन से खेलना शुरू किया। विनय कुमार 19 और श्रेयस गोपाल एक रन पर खेल रहे थे। गोपाल नाबाद 24 रन बनाकर एक छोर पर डटे थे लेकिन दूसरे छोर पर विकेट गिर गये। विनय 36 रन बनाकर आउट हुए। विनय के आउट होने के बाद अभिमन्यु मिथुन ने 26 गेंद में 33 रन बनाये। गोपाल और मिथुन ने नौंवे विकेट के लिये 48 रन की भागीदारी निभायी। गुरबानी ने 10 गेंद के अंदर दो विकेट झटककर विदर्भ को जीत दिलायी। वहीं विपक्षी टीम दिल्ली ने भी 10 साल बाद रणजी फाइनल में प्रवेश किया है।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...