नीतिन पटेल के मामले से विरोधियों के मुंह में आ गया था पानी - मुख्यमंत्री रूपाणी

vijay-rupani-speaks-on-nitin-patel
गांधीनगर 31 दिसंबर, मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने आज कहा कि उपमुख्यमंत्री नीतिन पटेल को लेकर पिछले दो दिनो तक पैदा हुए विवाद को देख कर विरोधियों के मुंह में पानी आ गया था पर अब घी के वापस घी के कनस्तर में मिल जाने से उनके मंसूबे विफल हो गये हैं। श्री रूपाणी ने आज यहां पत्रकारों से कहा कि पार्टी आलाकमान ने श्री पटेल की भावना को देखते हुए मंत्रियों के विभागों में थोड़ा फेरबदल कर उन्हें वित्त विभाग देने का फैसला किया है और ऐसा कर दिया गया है। यह माला अब सुलझ गया है। अब सब मिल कर पांच साल तक लोगों की अधिक से अधिक सेवा करेंगे।  विभाग को लेकर श्री पटेल की कथित नाराजगी के बीच कांग्रेस तथा पास नेता हार्दिक पटेल की ओर से उन्हें लुभाने की कोशिशें तथा भाजपा छोड़ कांग्रेस में शामिल होने का प्रस्ताव देने की ओर इशारा करते हुए श्री रूपाणी ने कहा कि घी वापस घी के कनस्तर में आ गया है, बड़े परिवार में ऐसी छोटी छोटी बातें होती रहती हैं। पिछले दो दिन में जो हुआ उससे विरोधियों के मुंह में पानी आ गया था (कि भाजपा की सरकार चली जायेगी और उनकी सरकार बन जायेगी) पर यह मंसूबा विफल हो गया। बाद में श्री पटेल ने स्वयं अपने गृहनगर महेसाणा में पत्रकारों से कहा कि कांग्रेस ने भाजपा के इस अंदरूनी मामले को सत्ता हासिल करने के एक मौके के तौर पर देखा था पर उसे शायद पता नहीं था कि नीतिन पटेल भाजपा के एक कट्टर कार्यकर्ता हैं और वह कांग्रेस में जाने की बात की कल्पना तक नहीं कर सकते।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...