अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय ने जम्मू कश्मीर के शोध छात्र को निष्कासित किया

amu-suspend-kashmir-student
अलीगढ़, आठ जनवरी, अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के अधिकारियों ने आज जम्मू कश्मीर के एक शोध छात्र को निष्कासित कर दिया। इस छात्र के बारे में ऐसी खबरें मिली थीं कि वह कथित रूप से आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन में शामिल हो गया है। अधिकारियों के अनुसार छात्र का नाम मन्नान बशीर वानी :26: है और यह भूगर्भ विज्ञान :जियोलोजी: का शोध छात्र है। छात्र की विभाग में आखिरी हाजिरी दो जनवरी की लगी हुई है । विश्वविद्यालय के अधिकारियों के मुताबिक वानी जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा का रहने वाला है और विश्वविद्यालय में छह जनवरी से होने वाली स​र्दी की छुटि्टयों से पहले अपने घर चला गया था । आज सुबह अलीगढ़ के पुलिस अधीक्षक का इस छात्र के कथित तौर पर संदिग्ध ग​तिविधियों में शामिल होने संबंधी जानकारी का एक पत्र आज विश्वविद्यालय के अधिकारियों को मिला, उसके तुरंत बाद विश्वविद्यालय प्रशासन ने छात्र का कमरा सील कर दिया । विश्वविद्यालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि छात्र के परिवार से इस बाबत कोई जानकारी नहीं मिली कि वह यहां से :एएमयू से: जाने के बाद घर नहीं पहुंचा । ऐसी जानकारी मीडिया की खबर व पुलिस अधीक्षक के पत्र के बाद प्रशासन को पता चली। उन्होंने बताया कि मीडिया की खबरों के जरिये जानकारी मिली कि वानी की सोशल मीडिया पर ‘ऐके 47 राइफल’ के साथ फोटो वायरल हुई है। एएमयू के प्रॉक्टर मो​हसिन खान ने बताया कि विश्वविद्यालय इस पूरे मामले की व्यापक जांच कर रहा है। इसके लिए एक जांच कमेटी बनायी गयी है जो इस मामले की व्यापक जांच करेगी। इसके अलावा विश्वविद्यालय विभिन्न छात्रावासों की सुरक्षा बढाने के इंतजाम कर रहा है। प्राक्टर ने कहा कि इस घटना की जानकारी मिलने से पहले ही विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो तारिक मंसूर ने सभी सुरक्षाकर्मियों को निर्देश दिये थे कि वह परिसर के सभी द्वार पर निगरानी रखें और परिसर एवं छात्रावासों में प्रवेश करने वाले सभी युवाओं के पहचान पत्र देखे जायें। इसके अलावा सीसीटीवी कैमरों से भी निगरानी रखी जाय ।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...