बिहार में बर्फीली हवा से लोग बेहाल, पटना में सर्वाधिक ठंड

cold-wave-continue-in-bihar
पटना 05 जनवरी, बिहार में कोहरा छंटने के बाद पछुआ हवा के कारण बढ़ी ठिठुरन से जहां लोग बेहाल हो रहे हैं वहीं आज पटना प्रदेश में इस मौसम का अबतक का सर्वाधिक ठंडा दिन रहा। मौसम विभाग से यहां मिली सूचना के अनुसार पटना, गया , भागलपुर , पूर्णिया समेत मध्य बिहार के कई जिले आज कोल्ड डे की चपेट में रहे। पछुआ हवा के कारण कनकनी बनी हुयी है। इसके अलावा सीमांचल एवं कोसी के जिलों में भी इसी तरह कनकनी बनी हुयी है । अगले 24 घंटे में सुबह के समय घना कोहरा बना रहेगा लेकिन धूप निकलने के बाद सर्द हवा के थपेड़ों से कड़ाके की ठंड भी रहेगी। विभाग के अनुसार, रात के समय तापमान में गिरावट होने की संभावना है। पश्चिमी विक्षोभ एवं बर्फीली हवा के कारण बिहार के मैदानी इलाकों में ठंड की संभावना जतायी गयी है। इसी तरह सुबह के समय कोहरे के कारण दृश्यता भी कम आंकी गयी है। हालांकि दिन चढ़ने के बाद आसमान साफ रहने का पूर्वानुमान लगाया गया है।

राज्य में कुछ दिनों से जारी शीतलहर के कारण ठंड का कहर बना हुआ है। राजधानी पटना समेत प्रदेश के अन्य क्षेत्रों में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। पछुआ हवा के कारण ठिठुरन जहां बनी हुयी वहीं तापमान में भी गिरावट दर्ज की गयी है।  सर्द हवा के थपेड़ों से परेशान रह रहे लोग दिन चढ़ने के बाद भी घरों में दुबके रहे। हालांकि आज दिन चढ़ने के बाद धूप निकलने से लोगों ने थोड़ी राहत महसूस की लेकिन कनकनी अभी भी बनी हुयी है।सड़क किनारे लोग टायर और लकड़ी जलाकर ठंड से बचने का प्रयास कर रहे हैं। ठंड और कोहरे के कारण आठ ट्रेनों को आज रद्द कर दिया गया जबकि कई महत्पूर्ण ट्रेनें अपने निर्धारित समय से विलंब से चर रही है । जिन ट्रेनों को रद्द किया गया है उनमे रांची जनशताब्दी एक्सप्रेस, अपर इंडिया एक्सप्रेस, पटना कोटा, सम्पूर्णक्रांति और तूफान एक्सप्रेस शामिल हैं। 

इस बीच मौसम विभाग के आधिकारिक सूत्रों ने यहां बताया कि पटना का अधिकतम तापमान 12.9 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 04.7 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया जो इस मौसम का अब तक सबसे कम रहा है। वहीं, गया का अधिकतम 18.8 डिग्री एवं न्यूनतम 03.8 डिग्री, भागलपुर का अधिकतम 18.0 डिग्री और न्यूनतम 04.9 डिग्री तथा पूर्णिया का अधिकतम 17.7 तथा न्यूनतम तापमान 05.9 डिग्री सेल्सियस रहा।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...