बिहार : वेटरन स्वतंत्रता सेनानी कामरेड कलानन्द सिंह नहीं रहे।

cpi-logo
पटना, 11 जनवरी। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी ने अररिया जिला के वेटरन स्वतंत्रता सेनानी एवं अररिया जिला भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के पूर्व जिला सचिव का॰ कलानन्द सिंह के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। वे 100 वर्ष के थे। आज पार्टी के राज्य कार्यालय से जारी एक बयान में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य सचिव ने कहा है कि का॰ कलानन्द सिंह का जन्म 1918 में अररिया जिला के नरपतगंज स्थित कुंडिलपुर में हुआ था। उनकी प्रारम्भिक षिक्षा स्थानीय स्तर पर ही स्कूल में हुआ। वे छात्र जीवन में ही स्वाधीनता संघर्ष में कूद पड़े। ब्रिटिष उप निवेषवादी शासन के खिलाफ 1942 के भारत छोड़ो आन्दोलन के दौरान वे  गिरफ्तार हुए और 9 महीने ट्रायल तथा 3 साल की कैद की सजा अररिया, पूर्णियां और भागलपुर के जेल में उन्होंने काटा। वे तामपत्र से विभूषित स्वंतत्रता सेनानी थे। मई, 1950 में वे भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्य बने और आजीवन पार्टी सदस्य रहे। वे मजदूरों किसानों तथा शोषित पीड़ित जनता के लोकप्रिय नेता थे और उनके हितों की रक्षा में अनेकों जुझारू संघर्षों को नेतृत्व प्रदान किया। 1957 में वे रानीगंज विधान सभा क्षेत्र से पार्टी के उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़े एवं सम्मानजनक वोट प्राप्त किया। 2002 से 2008 तक वे अररिया जिला के सचिव रहे। एक जुझारू कर्मठ और लोकप्रिय कम्युनिस्ट नेता के रूप में पूरे जिले में उन्होंने ख्याति अर्जित किया। उनके निधन से अररिया जिला समेत पूरे राज्य के कम्युनिस्ट आन्दोलन को अपूर्णीय क्षति हुयी है। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...