तीन तलाक पर राज्यसभा में आज भी बना रहा गतिरोध

deadlock-continues-in-rajya-sabha-over-triple-talaq
नयी दिल्ली 04 जनवरी, तीन तलाक विधेयक को प्रवर समिति के पास भेजने के मुद्दे पर आज भी राज्यसभा में गतिरोध बना रहा है और विपक्ष के हंगामे के कारण राज्यसभा की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित करनी पड़ी। भाेजनावकाश के बाद ‘ देश की अर्थव्यवस्था की स्थिति पर’ अल्पकालिक चर्चा संपन्न होने के बाद कांग्रेस के उप नेता आनंद शर्मा, समाजवादी पार्टी के नरेश अग्रवाल और तृणमूल कांग्रेस के सुखेंदू शेखर राय ने तीन तलाक विधयेक को प्रवर समिति को भेजे जाने के प्रस्ताव पारित करने की प्रक्रिया शुरू करने और इस पर मतदान कराने की मांग की।  सदन में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि सदन में गतिरोध बन गया है और इसका समाधान यह है कि विपक्ष के सुझाव को सरकार मान ले तथा तीन तलाक के मामले में जेल जाने वाले व्यक्ति की पत्नी और उसके बच्चों के गुजारे के लिए सरकार व्यवस्था करे तो विपक्ष मुस्लिम महिला (विवाह अधिकार संरक्षण) विधेयक 2017 का समर्थन करने के लिए तैयार है। विपक्ष की सामान्य सी मांग है कि इस विधेयक को प्रवर समिति को भेजा जाना चाहिए।  उन्होेंने कहा कि विपक्ष इस विधेयक के समर्थन में हैं और तीन तलाक प्रथा के पूरी तरह से खिलाफ है लेकिन मुस्लिम महिलाओं के हितों का संरक्षण होना चाहिए।  इस पर सदन के नेता अरुण जेटली ने इस मांग को खारिज करते हुए कहा कि इस प्रस्ताव को सदन में रखे जाने में नियमों और प्रक्रिया का पालन नहीं किया है। इसलिए ये प्रस्ताव वैध नहीं है। उन्होंने कहा कि प्रस्ताव में समिति में शामिल होने वाले सदस्यों के नाम घोषित किए गए और इनमें सत्ता पक्ष का एक भी सदस्य नहीं है। इस तरह से समिति का गठन करने की कोई व्यवस्था नहीं है। उन्हाेंने कहा कि जो लोग विधेयक में अडंगा डालते हो उन्हें समिति में शामिल नहीं किया जा सकता।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...