मधुबनी : इंद्रधनुष कार्यक्रम के तीसरे चक्र का निरीक्षण

dm-inspect-benipatti-madhwapur
मधुबनी, 09, जनवरी, जिला पदाधिकारी, मधुबनी के द्वारा सघन मिषन इंद्रधनुष कार्यक्रम के तीसरे चक्र के क्रम में मंगलवार को बेनीपट्टी प्रखंड के गंगुली गांव में टीकाकरण कार्य का निरीक्षण किया। जिला पदाधिकारी द्वारा प्रखंड चिकित्सा पदाधिकारी, बेनीपट्टी को पूरे कार्यक्रम पर पूरी तरह नजर रखने तथा शत-प्रतिषत सत्रों पर सर्वे पंजी तथा ड्युलिस्ट को अद्यतन रूप से उपलब्धता सुनिष्चित करने का निदेष दिया गया। उपस्थित सभी जनप्रतिनिधियों तथा लाभार्थियों को जिला पदाधिकारी द्वारा टीका के महत्व के बारे में विस्तारपूर्वक बताया गया। सभी जनप्रतिनिधियों से इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम को शत-प्रतिषत सफल बनाने में सहयोग करने की अपील की गयी। जिला पदाधिकारी द्वारा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र,बेनीपट्टी पर जननी बाल सुरक्षा कार्यक्रम का भी निरीक्षण किया गया। एवं कर्मियों को आवष्यक निदेष दिया गया। तत्पष्चात जिला पदाधिकारी द्वारा वार्ड नं0 9 एवं 10 में लोहिया स्वच्छता अभियान के तहत बनाये गये शौचालय निर्माण कार्य का निरीक्षण किया गया। इस अवसर पर श्री प्रेमषंकर राय द्वारा बताया गया कि स्वच्छता अभियान के तहत शौचालय निर्माण कार्य तेजी से हो रहा है। तत्पष्चात जिला पदाधिकारी द्वारा औचक निरीक्षण के क्रम में बासुकी चैक के समीप स्थित ज्ञान सरोवर पब्लिक स्कूल में विद्यालय बंद के आदेष के बावजूद छोटे-छोटे बच्चों को पढ़ते देखा गया। तथा स्कूल में पर्याप्त संसाधन का भी अभाव दिखा। जिला पदाधिकारी ने प्रखंड विकास पदाधिकारी को विद्यालय बंद के आदेष के बावजूद स्कूल खोलने, एवं स्कूल में मूलभूत संसाधनों का अभाव की जांच कर प्रतिवेदन जिला षिक्षा पदाधिकारी, मधुबनी को देने का निदेष दिया गया। एवं जिला षिक्षा पदाधिकारी को प्राप्त प्रतिवेदन के आधार पर समुचित कारवाई करने का निदेष दिया गया। जिला पदाधिकारी द्वारा प्रखंड कार्यालय, मधवापुर में चलाये जा रहे पंेषन षिविर का निरीक्षण किया गया। उन्होने लाभुकों से भी बात कर हो रही परेषानियों से अवगत हुए। जिला पदाधिकारी द्वारा ई-किसान भवन का निरीक्षण किया गया। उन्होने काफी समय पूर्व ई-किसान भवन निर्माण एजेंसी द्वारा हस्तांतरित किये जाने के बावजूद उपयोग में नहीं लाये जाने को लेकर प्रखंड विकास पदाधिकारी को एक सप्ताह के अंदर ई-किसान भवन को उपयोग में लाने का निदेष दिया। उन्होने प्रखंड विकास पदाधिकारी को एक सप्ताह के अंदर इनपुट राषि वितरण करने का निदेष दिया। जिला पदाधिकारी द्वारा निर्माणाधीन बाल विकास परियोजना कार्यालय,मधवापुर का निरीक्षण किया गया। भवन निर्माण कार्य संतोषप्रद नही पाया गया। उन्होने अनुमंडल पदाधिकारी,बेनीपट्टी को जांचकर प्रतिवेदन देने का निदेष दिया। तथा निर्माण स्थल पर कार्यकारी एजेंसी के मुंषी को सभी त्रुटियों को दूरकर 15 फरवरी तक भवन हस्तगत कराने का निदेष दिये। जिला पदाधिकारी द्वारा प्रखंड कार्यालय, मधवापुर का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के क्रम में कार्यालय एवं बरामदे पर पर्याप्त रौषनी की व्यवस्था नहीं थी। बरामदे पर पुराने अभिलेख,कागजात एवं कूड़ा-कचड़ा को देखा गया। जिला पदाधिकारी ने प्रखंड विकास पदाधिकारी को कार्यालय, एवं बरामदे पर पर्याप्त रौषन की व्यवस्था करने एवं अभिलेख,कागजात को सुरक्षित ई-किसान भवन में रखवाने की व्यवस्था करने का निदेष दिया। कुछ लोगों द्वारा बाल विकास परियोजना पदाधिकारी के कार्यालय नहीं आने की षिकायत की गयी। जिला पदाधिकारी ने अनुमंडल पदाधिकारी,बेनीपट्टी को आंगनवाड़ी केन्द्रों का निरीक्षण करें और नियमानुसार नहीं चलाये जा रहे आंगनवाड़ी केन्द्र की सेविकाओं पर कार्रवाई करने हेतु प्रस्ताव भेजने का निदेष दिया। उन्होनें बाल विकास परियोजना पदाधिकारी को निर्धारित दिन प्रत्येक सप्ताह के मंगलवार एवं शनिवार को नियमित रूप से कार्यालय में उपस्थित रहंे एवं केन्द्रों का निरीक्षण कर निरीक्षण टिप्पणी उपलब्ध कराये। जिला पदाधिकारी द्वारा मधवापुर थाने का भी निरीक्षण किया गया। थानों में साफ-सफाई की व्यवस्था देख संतोष व्यक्त किया। उन्होने थानाध्यक्ष को उत्पाद से संबंधित विविध वादों में जब्त वाहन एवं शराब को नियमानुकूल निष्पादन करने हेतु समुचित प्रस्ताव भेजने का निदेष दिया। जिला पदाधिकारी द्वारा प्रखंड कार्यालय,बेनीपट्टी में चलाये जा रहे पेंषन षिविर की व्यवस्था को देख संतोष व्यक्त किया। उन्होने प्रखंड कार्यालय परिसर में सहायता केन्द्र(मे आई हेल्प यू काउंटर) का भी निरीक्षण किया। जिला पदाधिकारी ने अनुमंडल पदांिधकारी,बेनीपट्टी एवं प्रखंड विकास पदाधिकारी,बेनीपट्टी को अनुमंडल एवं प्रखंड कार्यालय के दीवार पर मधुबनी कला पेंटिंग कराने का निदेष दिया।            

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...