राजनीतिक दलों के चंदे के लिए इलेक्टोरल बाँड

electoral-bond-for-the-funds-of-political-parties
नयी दिल्ली, 02 जनवरी, सरकार ने राजनीतिक दलों को मिलने वाले चंदे की व्यवस्था को पारदर्शी और दुरुस्त करने के लिए इलेक्टोरल बांड योजना शुरू करने की घोषणा करते हुए कहा कि इसके लिए आज ही अधिसूचना जारी की जा रही है। वित्तमंत्री अरुण जेटली ने लोकसभा में वक्तव्य देते हुए कहा कि राजनीतिक दलों को मिलने वाले चंदे की प्रक्रिया को स्पष्ट तथा पारदर्शी बनाने के लिए बाँड लाने की बजट में जो घोषणा की गयी थी उसको अंतिमरूप दिया जा चुका है। उसके अनुसार योजना को आज अधिसूचित किया जा रहा है। उन्होंने सदन को विश्वास दिलाया कि इसके क्रियान्वयन से राजनीतिक दलों को मिलने वाले चंदे के लेने देन की प्रक्रिया में सुधार होगा और यह प्रणाली ज्यादा पारदर्शी होगी। कांग्रेस के मल्लिकार्जुन खडगे ने बाँड में नाम नहीं होने पर इसकी पारदर्शिता को लेकर उठाए गए सवाल पर श्री जेटली ने कहा कि अब तक चली आ रही नकदी की व्यवस्था में पारदर्शिता नहीं थी लेकिन बाँड व्यवस्था से यह साफ हो जाएगा कि किसने, कितना और किसे पैसा दिया है। राजनीतिक पार्टी को रिटर्न भरते समय इस बारे में पूरी जानकारी देनी पड़ेगी और इससे राजनीतिक दलों को मिलने वाले चंदे की मौजूदा खामी दूर हो जाएगी।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...