भाजपा व आजसु गठबंधन सरकार को उखाड़ फेंकने की जरुरत : हेमंत सोरेन

उप राजधानी दुमका के एतिहासिक गाँधी मैदान में 02 फरवरी 2018 को आयोजित होने वाले 39 वें झारखण्ड स्थापना दिवस समारोह की तैयारी के मद्देनजर दिन मंगलवार (16 जनवरी 2018) को खिजुरिया, दुमका स्थित अपने आवास पर संताल परगना प्रमण्डल स्तरीय समिति की बैठक को संबोधित करते हुए झामुमों के कार्यकारी अध्यक्ष हेमन्त सोरेन ने कहा। 
hemant-call-worker-to-remove-bjp
दुमका (अमरेन्द्र सुमन) भाजपा व आजसु की सरकार ने तीन वर्षों में इस राज्य में तांडव मचा कर रख दिया है। ऐसे सम्प्रदायिक ताकतों को उखाड़ फेंकने के लिये झामुमों को पुराने तेवर में लौटने की जरुरत है। राज्य के सर्वांिगण विकास का सपना आज भी अधुरा है। शहीदों के बाल-बच्चे सड़कों पर आज भी भटक रहे है।। 39 वें झारखण्ड स्थापना दिवस को  मद्देनजर रखते हुए खिजुरिया (दुमका) स्थित अपने आवास पर झामुमों के कार्यकारी अध्यक्ष हेमन्त सोरेन ने दिन सोमवार को आहुत संताल परगना प्रमण्डल स्तरीय समिति की बैठक को संबोधित करते हुए उपरोक्त बातें कही। पार्टी उपाध्यक्ष व विधायक प्रो0 स्टीफन मराण्डी,  राजमहल के सांसद विजय हांसदा, विधायक नलिन सोरेन, साइमन मराण्डी, पूर्व विधायक हाजी हुसैन अंसारी, सत्यानंद भोक्ता, रविन्द्र नाथ महतों, अकिल अख्तर, लोबिन हेम्ब्रम व संताल परगना प्रमण्डल के अलग-अलग जिलों से दुमका पहुँचे पार्टी के जिलाध्यक्षों, सचिवों व अन्य मंच-मोर्चों के लोगों को संबोधित करते हुए उपरोक्त बातें कही। श्री सोरेन ने कहा किदो वक्त अनाज के लिये इस राज्य के लोग तरस रहे हैं। भूख से लोगों की मोत हो रही है। लोग ठंड से मर रहे हैं। इनकी नाक के नीचे किसान आत्महत्या कर रहे हैं। गोदामों में अनाज सड़ रहा है। दो वक्त अनाज के लिये लोग तरस रहे है। रोज नये-नये कारनामें/ छलावा कर सरकार जनता को मूर्ख बनाती जा रही है। झूठे वायदे कर सरकार आम आदमी को गुमराह कर रही है। गरीब-गुरुवा दलित, आदिवासी, अल्पसंख्यक वर्गों को दबाया जा रहा है। सवा तीन करोड़ की आबादी वाले इस राज्य में बीजेपी की सरकार में अराजकता ही अराजकता है। गुजरात, महाराष्ट्र से आए व्यापारियों को यहाँ शरण दी जा रही। श्री सोरेन ने कहा जब तक राजनीतिक चेतना विकसित नहीं होगी, गलतियाँ होती रहेंगीं। सवा तीन करोड़ लोगों की गाढ़ी कमाई का दुरुपयोग राज्य की रघुवर सरकार कर रही है यह किसी से छुपा हुआ नहीं है। सीएनटी व एसपीटी एक्ट के साथ छेड़छाड़, धर्मपरिवर्तन अधिनियम को लागू करना, स्थानीयता जैसे मुद्दे को गर्म कर भाजपा राज्य व देश को जलाने का काम कर रही है। श्री सोरेन ने कहा सम्प्रदायिक ताकतों के हाथ से राज्य को बचाना है तो फिर 02 फरवरी को आहुत होने वाली महापंचायत में अधिक से अधिक लोग भाग लेकर झामुमों को मजबूत करें। मालूम हो,  प्रति वर्ष की भांति इस वर्ष भी 02 फरवरी को दुमका के एतिहासिक गाँधी मैदान में झामुमों की सभा होनी है। संताल परगना प्रमण्डल के विभिन्न जिलों से दुमका पहुँचे पार्टी जिलाध्यक्षों, सचिवों, को संबोधित करते हुए श्री सोरेन ने यह भी कहा कि झारखण्ड अलग राज्य के लिये गुरु जी शिबू सोरेन की अगुवाई में कितने लोगों ने अपनी आहुति दी। किन्तु अलग राज्य प्राप्ति का श्रेय यहाँ तमाम राजनीतिक पार्टियाँ खुद लेना चाहती हैं। इस राज्य की वर्तमान राजनीति परिस्थिति को देखते हुए इस वर्ष ऐसा स्थापना दिवस मनाना है कि लगे प्रथम स्थापना दिवस मनाया जा रहा है। प्रो0 स्टीफन मराण्डी ने कहा भविष्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ही होंगे। भाजपा की सरकार को झारखण्ड से उखाड़ फेंकना होगा। नवयुवकों में यह जागृति आनी चाहिए। उन्होंने कहा सामाजिक समरसता को भाजपा खत्म कर देना चाहती है। गैर आदिवासियों की जमीन की खरीद-बिक्री पर सरकार ने टीएसी के मेम्बर के रुप में डा0 लुईस मराण्डी को दुमका में मीटिंग के लिये अधिकृत किया है। जब गैर आदिवासियो की जमीन की खरीद-बिक्री होगी तो फिर आदिवासियों को अपने लिये सोंचना होगा। हाजी हुसैन अंसारी, अकिल अख्तर, सत्यानंद भोक्ता, रविन्द्र नाथ महतों, लोबिन हेम्ब्रम, नलिन सोरेन व अन्य वक्ताओं ने भी अपने-अपने विचार प्रकट किये। कार्यक्रम की अध्यक्षता वरीय अधिवक्ता व झामुमों केन्द्रीय कमिटी के महासचिव विजय सिंह ने की। इस अवसर पर सुभाष सिंह, रवि यादव व अन्य लोग भी मौजूद थे। इस अवसर पर अधिक से अधिक लोगों को विशाल रैली में शामिल करने पर बल दिया। सीएनटी, एसपीटी एक्ट में संशोधन वापसी से लेकर स्थानीयता, झारखण्ड धर्म परिवर्तन अधिनियम को लागू करने व भाजपा के अन्य क्रियाकलापों के विरुद्ध दीवार लेखन कर आम जनता को गुमराह कर रही सरकार के विरुद्ध खड़े होने से संबंधित जागरुकता फैलायी जाए। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...