रियल एस्टेट में 10 अरब अमेरिकी डॉलर निवेश की उम्मीद : वेंकैया

investment-of-10-billion-us-dollars-expccted-in-real-estate-secter--venkaiah
बेंगलुरु 19 जनवरी, उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने आज कहा कि भारत में रियल एस्टेट क्षेत्र को 2020 तक 10 अरब अमेरिकी डॉलर निवेश की उम्मीद है। श्री नायडू ने 28वें अखिल भारतीय बिल्डर्स सम्मेलन के उद्घाटन के बाद समारोह को संबोधित करते हुए कहा, “आवास के साथ-साथ कार्यालय के लिए स्थानों की बढ़ती मांगों के कारण भारत के रियल स्टेट व्यवसाय में उछाल आया है। इस क्षेत्र को 2020 तक 10 अरब अमेरिकी डॉलर के निवेश की उम्मीद है।” उन्होंने कहा कि औद्योगिक नीति और विकास विभाग के मुताबिक भारत में अप्रैल 2000 से जून 2017 के बीच निर्माण विकास क्षेत्र ने 24 अरब 54 करोड़ अमेरिकी डॉलर का विदेशी निवेश प्राप्त हुआ। उन्होंने कहा,“ भारतीय रियल एस्टेट बाजार के 2020 तक एक खरब 80 अरब अमेरिकी डॉलर तक पहुंच जाने की संभावना है। नियामक उपाय बेहतर किये जाने से इस क्षेत्र में निजी पूंजी निवेश में और उछाल आने की भी उम्मीद है।” श्री नायडू ने कहा कि देश में 100 स्मार्ट सिटी विकसित करने के सरकार के निर्णय से निर्माण उद्योग को वैश्विक पैमानों पर खरा उतरने तथा जरुरतों को पूरा करने के लिए अपनी क्षमता में विस्तार करना होगा। इसलिए केंद्र सरकार ने कौशल विकास के नाम से अलग मंत्रालय स्थापित किया है, जिससे भारतीय कर्मचारियों की उत्पादकता अंतरराष्ट्रीय स्तरों के समान हो सके, साथ ही इमारतों की सुरक्षा और गुणवत्ता के साथ परियोजनाओं को प्राथमिक महत्व दिया जा सके।  उन्होंने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी के राजनीतिकरण के बावजदू भारतीय अर्थव्यवस्था में 2018-19  में 7.2 प्रतिशत की वृद्धि दर हासिल होने की उम्मीद है और अगले 10-15 वर्षों में भारत के दुनिया में तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने का अनुमान है। उन्होंने कहा कि सरकार लाल फीताशाही खत्म करने और व्यवसाय को बढ़ावा देने के लिए हरसंभव कदम उठा रही है। इसके परिणामस्वरुप भारत ने विश्व बैंक के बिजनेस इंडेक्स में 30 रैंक की उछाल भरी है।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...