झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 07 जनवरी

जिले में भी षिक्षा की गुणवत्ता के क्षेत्र मे कीर्तिमान स्थापित किया -विधायक श्री बिलवाल
  • विधायक षांतिलाल बिलवाल ने  56 लाख की लागत के हाईस्कूल भवन का किया भूमिपूजन

jhabua news
झाबुआ । प्रदेश की शिवराजसिंह सरकार ने शिक्षा के क्षेत्र मे विकास एवं शिक्षा की गुणवत्ता के लिये क्रांतिकारी कदम उठाया है । आज प्रदेश के हर जिले में प्रति एक किलोमीटर पर प्राथमिक स्कूल, प्रति तीन किलोमीटर पर माध्यमिक स्कूल एवं प्रति 5 किलो मीटर की परीधि में कम से कम एक हाईस्कूल या हायर सेकेण्डरी स्कूल स्थापित करके का्रंतिकारी कदम उठाकर शिक्षा की गुणवत्ता के क्षेत्र मे कीर्तिमान स्थापित किया है । तलावली में अब हाईस्कूल का नवीन भवन बन जाने से  आसपास के कई विद्यार्थियों को भी इसका लाभ मिलेगा औ र वे सहजता से अपनी शिक्षा यहा प्राप्त कर सकते है ।स्कूल भवन के साथ ही अतिशीघ्र ही स्कूल की बाउंडरी वाल की स्वीकृति प्राप्त होगी और मैं एक बार फिर बाउंडरीवाल के भूमि पूजन के लिये आप सभी के बीच उपस्थित होउंगा ।उक्त उदगार विधायक शांतिलाल बिलवाल ने शनिवार को हाईस्कूल तलावली के 56 लाख की लागत से निर्मित होने वाले हाईस्कूल के भूमि पूजन के अवसर पर उपस्थित गा्रमीणों एवं स्कूलों बच्चो तथा अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहीं । श्री बिलवाल ने कहा कि शिक्षा विभाग द्वारा तलावली में हाइस्कूल के उन्नयन के साथ निर्मित कराये जारहे इस सर्व सुविधायुक्त हाइस्कूल भवन  का समयावधि में निर्माण परियोजना क्रियान् वयन ईकाई द्वारा पूर्ण कर दिया जावेगा । तलावली मे हाईस्कूल के नवीन भवन निर्माण के भूमिपूजन का कार्य पण्डित गणेश उपाध्याय द्वारा विधि विधान से करवाया गया । इस अवसर पर मंडल अध्यक्ष भूरू चैहान, कल्याणसिंह डामोर, बहादूर हटिला,गा्रमीण मंडल अध्यक्ष हरू भूरिया, छितूसिंह मेडा, सरपंच रामसिंह भूरिया रेमू भूरिया,  नब्बू भूरिया, कमोदी डामोर, पानकी मेडा,, एडीपीसी ज्ञानेन्द्र ओझा, संस्था के प्राचार्य जितेन्द्रसिंह पंवार, सहित बडी संख्या में गा्रमवासी एवं पंच आदि उपस्थित थे।

छात्रों को लक्ष्यप्राप्ति के लिये तीन सूत्रों को अपनाना जरूरी- विधायक बिलवाल
  • तलावली हाईस्कूल में स्नेह  सम्मेलन का पुरस्कार वितरण के साथ हुआ समापन

jhabua news
झाबुआ । स्वामी विवेकानंद ने कहा था कि शिक्षा वह  धन है  जिसको जितना बांटा जावे वह उतना ही बढता जाता है । आज का युग वैज्ञानिक खोजों को युग है  ।  बच्चों को एकाग्र चित्त होकर शिक्षा के क्षेत्र में सतत आगे बढने के लिये  कडी महेनत करना होगी । पढाई के प्रति समर्पण भावना से मेहनत की जावे तो आप लोग उच्च पदों पर आसिन होकर न सिर्फ अपने माता पिता का नाम रोशन कर सकते है बल्कि अपनी स्कूल, अपने गांव, अपने  जिले एवं अपने प्रदेश को मो भी गोरन्वान्वित कर सकते है । प्रदेश की शिवराजसिंह सरकार ने तो हर गांव हर फलिये  तक स्कूलों को जाल बिछा दिया है तथा बच्चों को बेहतर सुविधायें देकर उन्हे आगे बढने के लिये हर तरह ही मदद भी दी जारही है । इसलिये  आप सभी बच्चे  पढाई की ओर पूरा ध्यान देवे  और इसके साथ ही खेल गतिविधियों एवं योग के प्रति भी पूरी निष्ठा के साथ मेेहनत करके एक आदर्श के रूप  में स्वयं को स्थापित करें । विद्यार्थियों को अपने लक्ष्य को हांसील करने के लिये  तीन सूत्र कडी मेहनतकरने, माता पिता की सेवा करने तथा गुरूजनों की आज्ञा का पालन करने का सन्देश देते हुए सरकार द्वारा निशुल्क पाठ्य पुस्कों, गणवेश, सायकल, छात्रवृति, लेपटाॅप, उच्च अध्ययन के लिये  कोचिंग की व्यवस्था आदि योजनाओं का लाभ लेना चाहिये । उक्त उदबोधन क्षेत्रीय विधायक शांतिलाल बिलवाल ने शनिवार को हाईस्कूल तलावली में आयोजित स्नेह सम्मेलन में बच्चों को संबांेधित करते हुए कहा कि बच्चे देश का भविष्य है और उन्हे इस कसौटी पर खरा उतरना चाहिये । हाईस्कूल तलावली के शनिवार को वार्षिकोत्सव के समापन अवसर पर पुरस्कार वितरण समारोह में विधायक शांतिलाल बिलवाल ने छात्र छात्राओं को पुरस्कार वितरित करते हुए उन्हे उज्ज्वल भविष्य की कामना व्यक्त की । इस अवसर पर प्रदेश स्वच्छता प्रभारी कल्याणसिंह डामोर, भाजपा मंडल अध्यक्ष भूरू चैहान, मंडी उपाध्यक्ष बहादूर हटिला, गा्रमीण मंडल अध्यक्ष हरू भूरिया, भाजपा नेता छितूभाई मेडा एवं एडीसीपी ज्ञानेन्द्र ओझा उपस्थित थे । वार्षिकोंत्सव के अवसर पर स्वागत भाषण संस्था के प्राचार्य जितेन्द्रसिंह सोलंकी ने देते हुए संस्था के बारे में विस्तार से जानकारी दी तथा संस्था के लिये एक कम्प्यूटर एवं पिं्रटर की आवश्यकता की बात कहीं  साथ ही  कक्षा नौवी में अध्ययनरत छात्राओ ं को भी कन्या छात्रावास में प्रवेश देने की अनुरोध किया । कार्यक्रम का संचालन बापू खपेड,एवं मोनिका नलवाया ने किया तथा आभार आरबी रायपुरिया ने माना ।

दो आचार्य नित्यसेन एवं जयरत्न सूरीष्वरजी मसा के आगमन से धन्य हुई झाबुआ की धरा
  • भव्य शोभायात्रा के दौरान पूरा शहर उमड़ा आचार्यद्वय की आगवानी करने
  • 1 किमी लंबी निकली शोभायात्रा, शहनाई गार्डन में धर्मसभा मंे उमड़ा जनसैलाब

jhabua news
झाबुआ। विष्व पूज्य दादा गुरूदेव श्रीमद् विजय राजेन्द्र सूरीष्वरजी मसा के सप्तम पट्टधर पुण्य सम्राट राष्ट्रसंत, लोकसंत आचार्य श्रीमद् विजय जयंतसेन सूरीष्वरजी मसा के आज्ञानुवर्ती गच्छाधिपति आचार्य देवेष श्रीमद् विजय नित्यसेन सूरीष्वरजी एवं विजय जयरत्न सूरीष्वर मसा आदि साधु-साध्वी भगवंतों का रविवार को शहर में मंगल प्रवेष से झाबुआ की धरा धन्य एवं पावन हो गई। आचार्यद्वय का ग्राम मिंडल से झाबुआ की ओर रविवार सुबह महावीर बाग पर विहार हुआ एवं स्थानीय वृंदावन गार्डन से ऐतिहासिक तथा भव्य शोभायात्रा निकाली गई, जो करीब 1 किमी लंबी रहीं। यात्रा में आचार्यद्वय के दर्षन वंदन एवं उनकी आगवानी के लिए लिए मानो पूरा शहर उमड़ पड़ा। गुरूदेवजी के जयकारों से पूरा शहर गूंजायमान हुआ। आचार्यद्वय की आगवानी सर्व समुदाय के लोगांे द्वारा करने के साथ ही शहर की लगभग सभी साामाजिक एवं धामिक संस्थाओं ने भी शहर के मुख्य बाजारों में जग‘ह-जगह अपनी उपस्थिति दर्ज करवाकर भव्य आगवानी की। इसके बाद शहनाई गार्डन में हुई धर्मसभा में आचार्यद्वय के प्रेरणादायी के प्रवचनों को सुनने विषाल जनसैलाब उमड़ा। इस आयोजन में विषेष रूप से मप्र शासन के उर्जा मंत्री पारस जैन, रतलाम विधायक चेतन्य कष्यप के साथ जैन समाज के प्रादेषिक एवं राष्ट्रीय पदाधिकारियों के अतिरिक्त जिले के विधायक एवं जनप्रतिनिधियों ने भी षिरकत की। आचार्यद्वय का अलसुबह ग्राम मिंडल स्थित कलाल समाज की धर्मषाला से शहर के लिए विहार हुआ। शहर के प्रवेष द्वार पर ही संपूर्ण नगर की ओर से नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती मन्नू डोडियार एवं उपाध्यक्ष श्रीमती रोषनी डोडियार ने आगवानी करते हुए गहूली की एवं नगर में ससम्मान पधारने का निमंत्रण भी दिया। आचार्चद्वय का शहर में प्रवेष करते ही मेघनगर नाके से स्थानीय दिलीप गेट स्थित महावीर बाग पर आगमन हुआ। जहां महावीर बाग समिति की ओर से गहूंली की गई। इसके पश्चात् आचार्य नित्यसेनजी एवं जयरत्न सूरीष्वरजी मसा ने मंदिर मंे पहुंचकर महावीर स्वामीजी, पाष्र्वनाथ भगवान एवं गोतम स्वामीजी, मां पदमावती देवीजी एवं विष्व पूज्य राजेन्द्र सूरीष्वरजी मसा के दर्षन किए। यहां से 10 बजे आचार्यद्वय एवं साधु-साध्वी भगवंत चतुर्विध संघ के साथ वृदांवन गार्डन पहुंचे। जहां पर नवकारसी का आयोजन पन्नलाल सेठिया परिवार की ओर से किया। दोपहर ठीक 11 बजे यहां से भव्य शोभायात्रा प्रारंभ हुई।

शोभायात्रा का नजारा रहा अत्यंत सुंदर एवं मनमोहक
शोभायात्रा में सबसे आगे गजराज (हाथी) पर श्रीमती अंजु प्रमोद भंडारी जिन ध्वज लेकर सवार हुई। इसके पीछे दो ऊंट पर क्रिष रूनवाल एवं काव्य भंडारी जैन ध्वज लेकर बैठे हुए थे। चार घोड़ों पर श्री संघ के युवक सवार होकर दादा गुरूदेवजी एवं जयंतसेन सूरीष्वरजी के जयकारे लगा रहे थे। स्थानीय महावीर बैंड पर धार्मिक गीतों की प्रस्तुति से पूरा शहर गूंजायमान हुआ। इसके पीछे स्थानीय परिषद् की महिला एवं बालिकाएं अपने सिर पर कलष लेकर चली। पाट परंपरानुसार सभी आचार्यों के चित्र को लेकर प्रथम रथ में  दादा गुरूदेव श्री राजेन्द्र सूरीष्वरजी मसा के चित्र को लेकर श्रीमती लीलाबेन भंडारी परिवार चल रहा था। द्वितीय रथ मंे श्री यतिन्द्र सूरीष्वरजी मसा के चित्र को लेकर पन्नालाल सेठिया परिवार विराजमान था। तृतीय रथ में निखिल, हिया, जिनांष भंडारी परिवार दादा गुरूदेवजी की प्रतिमा को लेकर शामिल हुआ। चैथे रथ में भी मनोहरलाल भंडारी परिवार आचार्य जयंतसेन सूरीष्वरजी के चित्र को लेकर सवार था। शोभायात्रा में विषेष रूप से दादा गुरूदेवजी की प्रतिमा विराजमान थी, जिनकी जगह-जगह जैन समाज के साथ अन्य समाजजनों द्वारा अक्षत और श्रीफल से जगह-जगह गहूली की गई एवं दादा गुरूदेवजी के दर्षन-वंदन का लाभ लिया। दोनो आचार्यद्वय, साधु-साध्वी मंडल के साथ सैकड़ों की संख्या मे स्थानीयं के साथ मप्र एवं गुजरात से भी समाजजन शामिल हुए। आचार्यद्वय ने पूरे शहरवासियों को  अपना दिव्य आर्षीवाद प्रदान किया। शहनाई वादन से पूरा शहर गूंजायमान हुआ। जगह-जगह श्री संघ एवं परिषद् की महिलाओं तथा बालिकाओं द्वारा नृत्य भी किया गया।

जगह-जगह हुआ भव्य स्वागत
शोभायात्रा का पूरे शहर में जगह-जगह भव्य स्वागत हुआ। विजय स्तंभ तिराहे पर पंजाबी एवं सींधी समाज से सुभाष छाबड़ा, बलवीरसिंह सोहेल, सुभाष गिधवानी, हिमांषु गोलानी, वृदावंदन गार्डन के समीप अंतर्राष्ट्रीय मानव अधिकार काउंसिल के जिलाध्यक्ष रामप्रसाद वर्मा, जिला सह-सचिव अरूण डामोर, जिला उपाध्यक्ष कमता मेड़ा, श्रीमती मंजु वर्मा, चर्च परिसर में फा. राॅकी शाह के नेतृत्व में इसाई समुदाय द्वारा आगवानी करते हुए श्रीफल एवं चावल से गहूली की। यहीं पर अग्रवाल समाज द्वारा भी आगवानी की गई। आगे जाने पर बस स्टेंड स्थित फव्वारा चैक के समीप भावसार समाज एवं सेन समाज, श्री चिंतामगण गणेष मंदिर पर श्री चिंतागण गणेष मंदिर समिति, थांदला गेट पर जितेन्द्र प्रसाद अग्निहोत्री, सत्यनारायण शर्मा, नाथुभाई ठेकेदार, श्री जोषी, छोटे दादा अग्निहोत्री द्वारा आचार्यद्वय को कांबली ओढ़ाई गई। यहीं साज रंग संस्था, जिला पेंषनर्स एसोसिएषन ने आचार्यद्वय की आगवानी की। अटल काॅम्पलेक्स के समीप जिला केमिस्ट एसोसिएषन द्वारा आचार्यद्वय की श्रीफल एवं चावल से आगवानी की गई। बाबेल चैराहे पर अरोड़ा खत्री समाज एवं दर्जी टेलर समाज, बोहरा मस्जिद पर बोहरा समाज, आजाद चैक पर रोटरी क्लब की ओर से उमंग सक्सेना, शैलेन्द्र चोरे, प्रतापसिंह सिक्का, अमित यादव, रोटरेक्ट क्लब की ओर से रिंकू रूनवाल, दौलत गोलानी, राकेष पोतदार, पतंजलि योग समिति की ओर से रूक्मणी वर्मा, परहित सेवा संस्था से श्रीमती अर्चना राठौर ने आचार्यद्वय की आगवानी करते हुए उनके दर्षन-वंदन का लाभ लिया। श्री गौवर्धनाथ मंदिर पर श्री गौवर्धन नाथ समिति की ओर से, श्री चारभुजा नाथ मंदिर के समीप जिला आजाद साहित्य परिषद्, दषा नीमा समाज, श्री राम मंदिर के बाहर श्री राम मंदिर सेवा समिति, सकल व्यापारी संघ से नीरजसिंह राठौर, कमलेष पटेल, आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट से राजेष नागर, रविराजसिंह राठौर एवं राजवाड़ा चैक पर हजरत दीदार शाह वली उर्स कमेटी के जुनैद्दीन शेख, समीउद्दीन सैयद, अब्दुल रहीम अब्बू दादा, दिलीप संघवी के साथ मुस्लिम समाज के अन्य लोगांे द्वारा दादा गुरूदेवजी की प्रतिमा के समीक्षा गहूली की गई और सभी समाजजनों का भी स्वागत किया। लक्ष्मीबाई मार्ग पर तेरापंथ सभा, श्री ऋषभदेव बावन जिनालय के समीप संकल्प ग्रुप एवं सोनी परिवार द्वारा स्वागत द्वार बनाकर आचार्यद्वय की आगवानी की गई। बावन जिनालय पर श्री संघ के भरत बाबेल, मुकेष जैन ‘नाकोड़ा’, राजेन्द्र संघवी, रिंकू रूनवाल आदि द्वारा आचार्यद्वय की गहूली की। इसके पश्चात् आचार्यद्वय ने मंदिर में श्री आदिनाथ भगवान एवं दादा गुरूदेवजी के दर्षन-वंदन किए। इसके बाद आगे रूनवाल बाजार तिराहा पर राठौड़ समाज, बस स्टेंड पर मीडिया ग्रुप की ओर से स्वागत कार्यक्रम रखा गया।

शहनाई गार्डन में हुई विषाल धर्मसभा
मोहनखेड़ा जयंतसेन म्यूजियम ट्रस्ट के सचिव मुकेष जैन ‘नाकोड़ा’ ने बताया कि यात्रा के शहनाई गार्डन पहुंचने पर यहां विषाल धर्मसभा का आयोजन हुआ। यहां सर्वप्रथम गुरूवंदन श्री संघ व्यवस्थापक धर्मचन्द मेहता द्वारा करवाई गई। गुरूदेव श्रीमद् विजय राजेन्द्र सूरीष्वरजी मसा के चित्र पर दीप प्रज्जवलन एवं माल्यार्पण मुख्य अतिथि मप्र शासन के उर्जा मंत्री पारस जैन एवं रतलाम विधायक चेतन्य कष्यप के साथ विधायक शांतिलाल बिलवाल, सुश्री निर्मला भूरिया, युवा कांगे्रेस नेता डाॅ. विक्रांत भूरिया, वरिष्ठ समाजसेवी सुरेषचन्द जैन के साथ मप्र श्री संघ के अध्यक्ष सुरेष तातेड़, अभा श्री राजेन्द्र नवयुवक परिषद् के प्रदेष अध्यक्ष रमेष धारीवाल, राष्ट्रीय महासचिव सुरेष लोढ़ा, मप्र महिला परिषद् की अध्यक्ष पुष्पा भंडारी, श्री संघ झाबुआ की ओर से वरिष्ठ उपाध्यक्ष यषवत भंडारी, भरत बाबेल, मुकेष जैन नाकोड़ा आदि द्वारा किया गया। स्वागत उद्बोधन मनोहरलाल भंडारी ने दिया। स्वागत गीत रूचि जैन, किरण मेहता, नीकीता जैन आदि द्वारा प्रस्तुत किया गया। अतिथियों का स्वागत श्री संघ एवं परिषद् की ओर से अनिल रूनवाल, अमित मेहता, अरविन्द लोढ़ा, मांगीलाल कांठी, जितेन्द्र जैन, संदीप सकलेचा, संजय मेहता, मनोज संघवी, वैभव जैन, ऋषभ मेहता आदि ने किया। इसके पश्चात् आचार्य जयंतसेन सूरीष्वरजी मसा के प्रवचन की संक्षिप्त वीडियो क्लीप प्रसारित की गई। जिसको देखकर धर्मसभा में उपस्थित सभीजनों की आंखों से अश्रु धारा बह निकली एवं दोनो हाथ खड़े कर उपस्थित सभीजनों द्वारा दादा गुरूदेवजी एवं जयंतसेन सूरीष्वरजी के जयकारे लगाए गए। जिससे पूरा गार्डन गूंज उठा। अपने उद्बोधन में मप्र त्रिस्तुतिक संघ के अध्यक्ष सुरेष लाढ़ा एवं परिषद् के प्रदेष अध्यक्ष रमेष धारीवाल ने पुण्य सम्राटजी के जीवन पर प्रकाष डाला।

मालवा की भक्ति अट्ूट है
गच्छाधिपति आचार्य नित्यसेन सूरीष्वरजी मसा ने अपने प्रवचन में कहा कि जहां श्रद्धा, भक्ति और समर्पण होता है, वह धरा धन्य बन जाती है। इस झाबुआ नगरी के गुरूभक्तों के ह्रदय में जो गुरूभक्ति दिखी है, उसमें मैं काफी अभिभूत है। पूज्य गच्छाधिपतिजी ने कहा कि हम सभी महावीर स्वामीजी के संदेष वाहक बनकर इस धरती पर आए है एवं सत्य तथा अंहिसा के मार्ग को जन-जन तक पहुंचाना ही हमारा कर्तव्य है। आचार्य गच्छाधिपतिजी ने धर्म संदेष देते हुए आगे कहा कि जब तक हमारे अंदर मानवता की भावना नहीं आएगी, तब तब तक कितना भी धर्म के कार्य कर ले, सार्थक नहीं होगा। पूज्य श्रीजी ने पूरे मालवा को एकता के साथ रहने का संदेष दिया।

पुण्य सम्राटजी के दिल में बसा मप्र
आचार्य जयरत्न सूरीष्वरजी मसा ने अपने प्रवचन में कहा कि गुरूजी की कृपा जहां होती है, वह धरा निष्चित ही पुण्य बन जाती है एवं वहां का गुरू भक्त निहाल हो जाता है। यह मालवा वह पुण्य भूमि है, जो पुण्य सम्राट जयंतसेनजी के ह्र्रदय में बसी थी। निष्चित ही आप भक्तों की भक्ति देखकर यह अनुभव हुआ है कि पूरे भारत वर्ष मालवा की भक्ति अटूट है। इस अवसर पर पूज्य आचार्य श्रीजी ने पुण्य सम्राट की प्रथम पुण्य तिथि पर आयंबिल करने का आव्हान किया। निपूर्ण रत्न विजयजी मसा ने कहा कि पुण्य सम्राट ने हम सभी को संवारा है। समाज उनससे ज्ञान प्राप्त करे। मालवा की श्रद्धा एवं गुरूभक्ति वंदनीय एवं अनुमोदनीय है। धर्मसभा के दौरान 84 श्री संघों ने पांडाल में आचार्यश्री के समक्ष अक्षत से गहूली की। यह धर्मसभा करीब 3 घंटे तक चली। धर्मसभा का संचालन नीरज सुराना इंदौर ने किया एवं आभार श्री संघ के भरत बाबेल, मुकेष जैन ‘नाकोड़ा’, प्रमोद भंडारी ने माना। सोमवार को श्री ऋषभदेव बावन जिनालय पर गुरूदेवजी की अष्टप्रकारी महापूजन एवं प्रवचन पश्चात् साधवर्मी वात्सल्य एवं दोपहर में जयंतसेन सूरीष्वरजी मसा की संगीतमय महापूजन होगी। रात्रि में पुण्य सम्राट की भक्ति एवं आरती का आयोजन होगा।

जिला पंचायत सदस्य के उपचुनाव एवं पार्षद के उपचुनाव के लिये भाजपा ने प्रभारियो की नियुक्ति की

झाबुआ । भारतीय जनता पार्टी जिलाध्यक्ष दौलत भावसार द्वारा जिला पंचायत सदस्य के पद पर वार्ड क्र0 5 मे हो रहे उपचुनाव हेतु भाजपा की ओर से चुनाव प्रभारियो की नियुक्ति कर दी है। जिला महामंत्री थावरसिंह भुरिया वार्ड क्र0 5 मे हो रहे जिला पंचायत के उपचुनाव के लिये चुनाव प्रभारी के रुप मे काम देखेगे। इनके साथ सहप्रभारी के रुप में मंडल अध्यक्ष कुंदनपुर श्री सुरसिंह हटिला ओर झाबुआ ग्रामीण मंडल अध्यक्ष श्री हरु भुरिया तथा युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष भानु भुरिया सहप्रभारी के रुप में इनकी मदद करेगे। इसी प्रकार मेधनगर नगर पंचायत मे भाजपा पाषर्द के स्वर्गवास हो जाने से पार्षद पद के लिये हो रहे उपचुनाव हेतु जिला भाजपा अध्यक्ष भावसार ने जिला महामंत्री प्रफुल्ल गादिया को चुनाव प्रभारी नियुक्त किया है। इनके साथ सहप्रभारी के रुप में मंडल अध्यक्ष मेघनगर श्री मुकेश मेहता एवं नगर पंचायत अध्यक्ष श्रीमती बामनिया के पति श्री नटवर बामनिया तथा महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष श्रीमती आरती भानुपरिया सहप्रभारी के रुप में इनकी मदद करेगी।

भाजपा नेतागण उनके रिश्तेदार भ्रष्टाचार में लिप्त- सुश्री कलावती भूरिया
  • मुख्यमंत्री का सुशासन केवल कागज पर

झाबुआ,। जब से मध्यप्रदेश में भाजपा की सरकार बनी है तब से लेकर आज तक भ्रष्टाचार का ग्राफ बढता ही जा रहा है। जहां एक ओर भाजपा सरकार सुशासन लाने की बात करती है केवल यह बात भाषणों तक ही समित रह गई है। भाजपा से जुडे नेतागण,मंत्रीगण, ठेकेदार एवं भाजपा से जुडे कर्मचारीगण भ्रष्टाचार करने में लगे हुए है।जनता उन्हे बेनकाब कर रही है किन्तु शासन की निरकुंशता एवं अपराधीयों को सरक्षण देने के चलते वे बेखोफ होकर भ्रष्टाचार को बढावा देने में लगे हुए है तथा सीना तान कर कानून की धज्जीयां उढाने में लगे हुए है। झाबुआ जिला भी इससे अछुता नहंी है। शासकीय विभागों से लेकर सहकारी संस्थाओं में भ्रष्टाचार के कारनामें उजागर हो रहे है। उक्त आरोप कांग्रेस नेत्री एवं जिला पंचायत अध्यक्ष कलावती भूरिया लगाते हुए कहा कि शासन प्रशासन आंखे मुदे हुए पडा है चारो ओर भ्रष्टाचार का आलम है यहां तक की स्थानीय भाजपा नेतागण एवं उनके रिश्तेदार गण खुले आम भ्रष्टाचार करने में भी कोताही नही बरत रहे है। सुश्री कलावती भूरिया ने बताया कि आदिम जाति सहकारी संस्था देवझरी की संस्था में भी संस्था प्रबंधक द्वारा 21 मार्च 2017 के भौतिक सत्यापन के दोरान संचालक मण्डल द्वारा पाया गया कि देवझरी सोसाईटी अन्तर्गत एक भाजपा नेता के भाई द्वारा खाघान्न करोसियन एवं बारदान में भारी अनियमिता की गई है। उक्त देवझरी सोसाईटी अन्तर्गत् ग्राम मोहनपुरा, परवट, नवागाव  आदि की दुकानें आती है। कुल राशि रू. 6 लाख से अधिक का गबन किया गया है।जिसका कारण बताओं नोटीस भी जारी किया गया है  जिसके पश्चात उक्त कर्मचारी ने राशि भी जमा की गई किन्तु सम्मपूर्ण राशि जमा नहीं की गई । कुछ राशि जमा की गई जिससे यह सिद्व होता है कि कर्मचारी द्वारा शासकीय राशि में हेराफेरी की गई है। कर्मचारी को अनेक कारण बताओं सूचना पत्र भी दिये गये किन्तु उसने सत्ता के नशे में चूर होकर किसी कारण बताओ सूचना पत्र का उत्तर देना भी उचित नहीं समझा जा  रहा है। जबकि उक्त कर्मचारीद्वारा गरीबों को बाटने वाले अनाज एवं कैरोसीन में भारी अनियमितता की गई है जिसकी पुष्टी भी हो चुकी है उसके उपरान्त भी उस पर न तो पुलिस रिपोर्ट दर्ज की गई न ही उसे अभी तक हटाया गया है। कलावती भूरिया के साथ ही देवझरी सहकारी संस्था के पदाधिकारी झतरीबाई एवं पुनिबाई एवं अन्य सदस्यों ने तत्काल ऐसे भ्रष्ट कर्मचारी को हटाते हुए उनके खिलाफ कडी कार्यवाही करने की मांग की गई है।

भाई कि पुण्यतिथि पर विकलांग पुर्नवास केन्द्र मे किए फल वितरित

jhabua news
झाबुआ । जिला पंचायत अध्यक्ष सुश्री कलावती भूरिया ने अपने भाई विरेन्द्रसिंह भूरिया की पुण्यतिथि के अवसर पर अपने परिवार के साथ  रंगपुरा स्थित विकलांग केन्द्र पहुंच कर विकलांग बच्चों कों फल , बिस्कीट का वितरण किया । सुश्र ीभूरिया ने वहां उपस्थित सभी बच्चों को सम्बोधित करते हुए कहा कि आप अपना मन लगाकर इस संस्था से अच्छे संस्कार प्राप्त करे तथा पढाई में अव्वल रहकर राष्ट्र के विकास एवं निर्माण अपना सहयोग प्रदान करें । आज के बच्चे देश के अच्छे नागरीक बने यही मेरी ईश्वर से कामना है। इस अवसर पर विकलांग केन्द्र के पदाधिकारीयों एवं कम्रचारीयों ने जिला पंचायत अध्यक्ष कलावती भूरिया का आत्मिय स्वागत किया तथा बच्चों ने सुश्री भूरिया के प्रति अपना स्नेह बनाये रखने के लिए आभार व्यक्त किया 

नववर्ष मिलन समारोह 12 जनवरी को, जिले के रत्नांे का होगा सम्मान, व्यापक तैयारियां जारी

jhabua news
झाबुआ। राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग तथा आॅल मीडिया जर्नलिस्ट सोषल वेलफेयर एसोसिएषन के संयुक्त तत्वावधान में नववर्ष मिलन समारोह का आयोजन 12 जनवरी, शुक्रवार को किया जाएगा। इस अवसर पर जिले के रत्नों में सरहद पर तैनात जिले के वीर सिपाही, नारी शक्ति सम्मान, मालव रत्न सम्मान एवं मानव रत्न सम्मान किया जाएगा। इसके साथ ही शराब नषा मुक्ति एवं गौ-मांस प्रतिबंध पर जागरूकता रैली भी निकाली जाएगी। यह जानकारी देते हुए कार्यक्रम संयोजक मनीष कुमट, किर्तीष जैन एवं अरविंद राठौर ने बताया कि उक्त आयोजन श्री श्रृंगेष्वर महादेव तीर्थ झकनावदा में होगा। इस अवसर पर अतिथि के रूप में राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग की राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमती पूनम छाबड़ा, राष्ट्रीय मुख्य सचिव रविन्द्र मिश्रा, राष्ट्रीय सचिव आनंदराज दुबे के साथ आॅल मीडिया जर्नलिस्ट के राष्ट्रीय अध्यक्ष विनायक लुणिया, जैन शक्ति संगठन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष धर्मचन्द लुणावत, आकाष कैलाष विजयवर्गीय, जैन शक्ति संगठन के प्रदेष उपाध्यक्ष सुनील झालोका के अतिरिक्त कलेक्टर झाबुआ आषीष सक्सेना, डीएपीसी झाबुआ श्रीमती अर्चना भदौरिया, जिला सुधार गृह के जेलर सीएल परमार एवं जिला पंचायत झाबुआ सीईओ श्रीमती जुमना भिड़े को आमंत्रित किया गया है।

आयोजन को लेकर व्यापक तैयारियां
कार्यक्रम संचालनकर्ता पवन नाहर थांदला एवं निलेष भानपुरिया मेघनगर ने बताया कि उक्त आयोजन में जिलेभर से पत्रकारों के साथ अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि शामिल होंगे। इस हेतु अतिथियों सहित अन्य उक्त समस्तजनों को आमंत्रण पत्र देने का कार्य जारी है। आयोजन को सफल बनाने की अपील आयोजन संस्था से जुड़े सुनील डाबी, गोपाल सेनी, श्वेता जैन, समकित तलेरा, निलेष परमार, गोपाल विष्वकर्मा, गोपाल चैयल, श्रीनाथ उपाध्याय, आयुष पटवा, उत्तम गेहलोत, नारायण राठौड़ आदि ने की है।

जिले को 864000 लीटर केरोसिन आवंटित

झाबुआ । खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण भोपाल द्वारा जिले के डीलरवार मेसर्स एम.आर.देसाई, झाबुआ को 312000 लीटर, मेसर्स एल.के. मेहता पेटलावद को 276000 लीटर तथा मेसर्स एस.आर. मिश्रा झाबुआ को 276000 लीटर इस प्रकार कुल 864000 लीटर केरोसीन का आवंटन माह जनवरी 2018 हेतु जारी किया गया है। खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के समग्र पोर्टल की वेबसाईड ीजजचरूध्ध्देिंण्ेंउंहतंण्हवअण्पद पर उपलब्ध उचित मूल्य दुकानवार/निकायवार/ उपलब्ध केरोसीन आवंटन के आधार पर थोक केरोसीन डीलरवार, सेमी केरोसीन डीलरवार पुर्नरावटन कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना द्वारा किया गया है। केरोसीन की वितरण मात्रा शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्र में अन्त्योदय परिवार को 5 लीटर एवं प्राथमिक परिवार को 4 लीटर प्रति परिवार समान रूप से कलेक्टर द्वारा निर्धारित दर अनुसार वितरण किया जायेगा। जारी पुर्नरावटन आदेशानुसार झाबुआ ब्लाक की दुकानो के लिए 166926 लीटर, रामा ब्लाक के लिये 129175 लीटर, रानापुर ब्लाक के लिये 136086 लीटर, मेघनगर ब्लाक के लिए 128820 लीटर, थांदला ब्लाक के लिए 135311 लीटर, पेटलावद ब्लाक के लिए 167682 लीटर केरोसीन माह जनवरी 2018 के लिये आवंटित किया गया है।

मध्यप्रदेश में तम्बाकू उपयोग में 5 प्रतिशत की गिरावट हुई दर्ज
  • स्वास्थ्य मंत्री द्वारा वैश्विक वयस्क तम्बाकू सर्वेक्षण रिर्पोट का विमोचन किया गया

झाबुआ । मध्यप्रदेश में गुटका,बीडी-सिगरेट, खैनी आदि के प्रयोग में 5 प्रतिशत की कमी आयी है। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री रूस्तम सिंह ने ग्लोबल एडल्ट टोबेको सर्वे-2 वर्ष 2016-17 की मध्यप्रदेश रिपोर्ट का विमोचन करते हुए यह जानकारी दी। पहला सर्वेक्षण वर्ष 2009-10 में हुआ था, जिसमें तम्बाकू सेवन करने वालो का प्रतिशत 39.5 था, जो वर्ष 2016-17 में 34.2 हो गया। इसी तरह धूम्रपान का प्रतिशत 16.9 से कम होकर 10.2 और धूम्ररहित तम्बाकू का सेवन का प्रतिशत 31.4 से घटकर 28.1 रह गया है।

छात्रों को तम्बाकू के विरूद्ध करे जागरूक 
मंत्री श्री सिंह ने कहा है कि स्कूल और काॅलेज के छात्र-छात्राओं को नियमित रूप से तम्बाकू के खतरो से आगाह करते हुए जागरूक करे। स्कूल के प्राचार्य और अध्यापक विशेष रूप से 6 वाॅ, 7 वी और 8 वी के बच्चों को हर दिन किसी न किसी रूप में इस बुरी आदत के नुकसानो को बताये। अगर किशोरीवस्था में ही इस बुराई पर काबू कर लिया गया, तो इसके अच्छे परिणाम मिलेगे।

जुर्माना राशि बढे
सार्वजनिक स्थानो पर धूम्रपान में कमी आयी है लेकिन इस पर होने वाले जुर्माने की राशि 200 रूपये से बढाकर कम से कम एक हजार रूपये की जानी चाहिये। यदि अभिभावक चाहते है कि उनके बच्चो में कोई बुरी लत न हो, तो पहले वे खुद मिसाल बने। इसी तरह, वरिष्ठ अधिकारी भी कर्मचारियों के सामने उदाहरण पेश करे।

धूम्रपान और तम्बाकू से होती है बडी बीमारियाॅ
धूम्रपान से न केवल मुॅह और फेफडे का कैसर, बल्कि लकवा, डायबिटिज और हृदय रोग भी होते है। मुख कैंसर का सबसे ज्यादा शिकार 25 से 35 वर्ष आयु वर्ग के युवा होते है, जो अपना भविष्य संवारने के बजाय रोग और गरीबी से जूझने लगते है।

मुख्यमंत्री कन्या विवाह/निकाह योजना के सामूहिक विवाह सम्मेलन के लिए तिथिया नियत
  • सभी जनपदो को कलेक्टर श्री सक्सेना ने 500-500 का दिया लक्ष्य

झाबुआ । जिला झाबुआ में मुख्यमंत्री कन्या विवाह/निकाह योजना का लाभ जरूरत मंदो को मिल सके इसके लिए कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना ने विवाह सम्मेलनो के लिए तिथियां निर्धारित कर सभी जनपद पंचायतो को मुख्यमंत्री कन्यादान योजना/निकाह योजना के लिए 500-500 का लक्ष्य दिया है। प्रस्तावित तिथि अनुसार जनपद पंचायत पेटलावद में 12 मार्च 2018 को, जनपद पंचायत थांदला में 13 मार्च 2018 को, जनपद पंचायत झाबुआ में 14 मार्च 2018 को, जनपद पंचायत रामा में 16 मार्च 2018 को, जनपद पंचायत मेघनगर में 15 मार्च 2018 को एवं जनपद पंचायत राणापुर में 10 मार्च 2018 को, सामूहिक विवाह सम्मेलन आयोजित करने के लिए तिथि तय की गई है। कलेक्टर श्री सक्सेना ने सभी जनपद सीईओ को निर्देशित किया है कि योजना में अधिक से अधिक विवाह हो पाये इसके लिए योजना का अधिक से अधिक प्रचार प्रसार सुनिश्चित करे। सचिव रोजगार सहायक/सरपंच/आंगनवाडी कार्यकर्ता/ग्राम प्रमुख/तडवी पटेल के माध्यम से आवेदन आमंत्रित करे। आमजन , जनप्रतिनिधि से अनुरोध है कि वे पात्र हितग्राहियों को योजना का लाभ दिलवाये।

सफलता की कहानी : गुलाब की खेती ने महकाई ओम प्रकाश के जीवन की बगिया

झाबुआ । वैज्ञानिक तकनीको और षासकीय अनुदान का उपयोग एक छोटे कृशक को भी बडा बना देता है एक छोटा सा कृशक जिसके पास भूमि तो है लेकिन संसाधन सीमित होने से वह कड़ी मेहनत के बाद भी अपनी आय में वृद्धि नहीं कर पाता है किन्तु जब उसी कृशक को वैज्ञानिक तकनिकों और षासकीय अनुदान का लाभ दिया जाता है,तो वह विकास की अग्रिम पंक्ति में आ जाता है। ऐसा ही हुआ जिले के 25-30 हजार वार्षिक कमाने वाले कृशक श्री ओम प्रकाश पिता दयाराम पाटीदार के साथ। उन्होने अपने खेत में गुलाब के फूलों की खेती प्रारंभ की और उनके जीवन में विकास की राह खुल गई। झाबुआ जिले के पेटलावद ब्लाक के ग्राम रायपुरिया में रहने वाले कृशक श्री ओमप्रकाश पिता दयाराम पाटीदार ने षासन से ड्रीप सिंचाई सिस्टम एवं बागवानी एवं गुलाब की फसल का तकनीकि मार्ग दर्शन प्राप्त किया। साथ ही षासन की अन्य योजनाओं का भी लाभ लिया और कृशि भूमि से पारंपरिक फसल उत्पादन से प्रतिवर्श होने वाली आय 25-30 हजार को बढ़ाकर 2-3 लाख रूपये तक प्रतिवर्श कर लिया। ओमप्रकाश ने चर्चा के दौरान बताया कि अपनी कृशि भूमि में उद्यानिकी विभाग के माध्यम से ड्रीप सिस्टम 17-18 बीघा भूमि पर लगाया एवं शासन से 65 हजार रूपये अनुदान एवं हार्टिकल्चर फसल उत्पादन का प्रषिक्षण प्राप्त कर उद्यानिकी फसल टमाटर, मिर्ची एवं गुलाब इत्यादि फसल लगाई। इससे उनकी आर्थिक स्थिति सुदृढ हुई। कृशक ओम प्रकाश ने बताया कि ड्रीप इरीगेषन सिस्टम लगाने से पहले वे अपने खेत में गेहूॅ चना बोते थे, लेकिन सिंचाई के लिए पानी की कमी की वजह से उत्पादन अधिक नहीं हो पाता था। और वार्शिक आय सिर्फ 25-30 हजार रूपये तक हो पाती थी। ड्रीप इरीगेषन सिस्टम लगने के बाद अब लगभग 18 बीघा भूमि पर उतने ही पानी से सिंचाई कर पाते है, जितने से वे गेहूॅ चने की फसल भी अच्छे से नहीं ले पाते थे। अब वार्शिक आय भी बढ कर 2-3 लाख तक हो गई है। आमदनी बढने से उनके घर में खुषहाली आई है और उन्होने खेती कार्य के लिए अपना स्वयं का टेªक्टर खरीद लिया है, टेªक्टर से अन्य व्यक्तियो के खेत पर काम कर अतिरिक्त आय भी हो जाती है आवागमन के लिए मोटर साईकिल भी खरीदी है। यह सब संभव हुआ ड्रीप सिंचाई पद्धति एवं गुलाब के फुल की खेती से ड्रीप सिंचाई से अन्य फसल का उत्पादन भी बढा है। ड्रीप सिंचाई से खेत में टमाटर एवं मिर्ची से भी अच्छा उत्पादन मिल जाता है। ज्यादा फायदा गुलाब के फूल की खेती से हुआ है। गुलाब के फूल की खेती से 2 बीघा जमीन से प्रतिमाह 20-25 हजार रूपये का शुद्ध लाभ होता है और फूलो की सिंचाई में पानी भी कम खर्च होता है।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...