मधुबनी : सात निश्चय की योजनाओं को लेकर समीक्षा बैठक

meeting-in-mdhubani-for-saat-nishchay
मधुबनी,03जनवरी, जिला पदाधिकारी मधुबनी की अध्यक्षता में बुधवार को डीआरडीए सभागार में सात निश्चय की योजनाओं को लेकर समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्यमंत्री ग्रामीण गली-नाली पक्कीकरण निश्चय योजना तथा मुख्यमंत्री ग्रामीण पेयजल निष्चय योजना के तहत हर हर घर नल-का जल की योजना के क्रियान्वयन पर विषेश बल दिया गया। जिला पदाधिकारी द्वारा सभी प्रखंड पदाधिकारियों को विभागीय दिशा-निर्देश से विस्तार पूर्वक अवगत कराया गया। जिसमें बताया गया कि प्रत्येक लाभुक को तीन नल की सुविधा दी जायेगी। जिसमें शौचालय,रसोईघर, तथा स्नानाघर में नल की सुविधा दी जायेगी। इसके अलावे लगाने पर लाभुक को स्वयं के खर्च पर नल लगाना होगा। उन्होनें सभी पदाधिकारियों को नल का जल की योजना के क्रियान्वयन में तेजी लाने का निदेष दिया। जिला पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि पूरे जिलें में 45 पंचायत सरकार भवन का निर्माण किया जाना है। जिसमें कुछ प्रखंडों को छोड़कर अन्य प्रखंडों ने प्रस्ताव बनाकर नहीं भेजा है। सभी अंचल पदाधिकारियों को मानक के अनुरूप पंचायत सरकार भवन निर्माण के लिए शीघ्र प्रस्ताव बनाकर भेजने का निर्देश दिया गया। तथा इसका नियमित फाॅलोअप करने का निर्देश जिला पंचायती राज विभाग, के सहायक को दिया गया।

जिला पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि 5 जनवरी से पूरे राज्य में पेंशन शिविर का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें सभी अंचल अधिकारी अपने-अपने अंचल क्षेत्र के दो या तीन पंचायतों का रोस्टर बनाकर प्रचार-प्रसार कर अधिक-से-अधिक संख्या में लोगों के पेंशन की समस्या को दूर करने का निर्देश दिया। पेंशन शिविर में मुखिया एवं अन्य जनप्रतिनिधियों को शामिल करने का निर्देश दिया गया। सभी पदाधिकारी को वर्ष 2002-03 एवं 2003-04 के समय का लेखा संख्या शीघ्र उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया। तथा नहीं उपलब्ध कराने की स्थिति में जिम्मेदार कर्मी पर प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया।  जिला पदाधिकारी द्वारा सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को माॅर्निग एवं इवनिंग फॅालोअप में गति बनाये रखने एवं 30 जनवरी 2018 तक प्रत्येक प्रखंड को एक-एक पंचायत ओडीएफ घोषित कराने का लक्ष्य दिया गया। तथा एमआईएस डाटा इंट्री कार्य में तेजी लाने का निर्देश दिया गया। अपर समाहर्ता, मधुबनी द्वारा सभी पदाधिकारियों को 15 जनवरी तक अपना एवं अपने-अपने कर्मी का संपत्ति का विवरणी भेजने का निर्देश दिया गया। उप विकास आयुक्त मधुबनी,  जिला पंचायती राज पदाधिकारी  मधुबनी, अनुमंडल पदाधिकारी सदर मधुबनी, सहायक निदेशक  सामाजिक सुरक्षा, मधुबनी समेत सभी अनुमंडल पदाधिकारी,सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं अंचल अधिकारी समेत अन्य पदाधिकारीगण उपस्थित थे।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...