मधुबनी : नाबालिग बेटी की शादी करने में माँ -बाप को जेल, दूल्हा-दुल्हन भी गये अंदर

minor-marriage-arrested-mdhubni
मधुबनी, 18 जनवरी, नाबालिग बेटी की शादी करना मां बाप को महंगा पड़ा। कोर्ट ने देवधा थानाक्षेत्र की एक दंपति को बाल विवाह कानून का उल्लंघन करने के आरोप में जेल भेज दिया। दूल्हा और दुल्हन भी अंदर गये। अपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी शैलेन्द्र कुमार शर्मा की अदालत ने जब दंपति कुशेश्वर ठाकुर एवं सुनीता देवी को न्यायिक हिरासत में जेल भेजने का आदेश सुनाया तो लोगों में हड़कंप मच गई। बाल विवाह अधिनियम के तहत यह बड़ी कार्रवाई है। वर और वधु दोनों पक्षों को समान रूप से जिम्मेवार माना गया है। दूल्हा को भी जेल भेजा गया है। दुल्हन रिमांड होम भेजे जा चुके हैं। जबकि दूल्हा के माता-पिता की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। लोग नाबालिग लड़के लड़कियां की शादी होने की बात तो सुनी थी, लेकिन वैसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई से अभी तक अनजान थे। अनुमंडल अभियोजन पदाधिकारी धर्मेश कुमार ने बताया कि मामला देवधा थाने के एक गांव में 17 वर्षीय एक बच्ची की शादी 20 वर्षीय रविंद्र कुमार के साथ कर दी गई। शादी में दोनों के माता- पिता के साथ कुछ ग्रामीण भी शामिल थे। थानेदार उमेश कुमार पासवान ने जब दूल्हा- दुल्हन का मेडिकल कराया तो दोनों की उम्र विवाह योग्य नहीं पाया गया। मौके पर ही दोनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस की दबिश पर लड़की के माता-पिता 16 जनवरी को कोर्ट पहुंचे। अधिवक्ता रत्नेश चन्द्र यादव ने दंपत्ति की ओर से कई दलीलें दी, लेकिन कोर्ट ने जमानत देने से इंकार कर दिया। हरलाखी के रहने वाले लड़का के माता- पिता फरार चल रहे हैं। पुलिस भी इस मामले को लेकर गंभीर है। एसपी दीपक बरनवाल ने कहा कि बाल विवाह के खिलाफ लोगों को अलर्ट रहना चाहिए । इस तरह के मामला सामने आने पर तुरंत पुलिस को सूचना दें। ताकि इस कुरीति को खत्म किया जा सके।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...