संविधान की रक्षा के लिये सतर्क रहे जनता : अखिलेश

people-should-be-aware-to-protect-constitution-akhilesh
लखनऊ 26 जनवरी, समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाली केन्द्र और राज्य सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुये आज कहा कि संविधान की रक्षा के लिये लोगों को चौकन्ना रहना होगा, तभी स्वतंत्रता आंदोलन के मूल्य की रक्षा हो सकेगी। पार्टी मुख्यालय पर 69वां गणतंत्र दिवस के समारोह को संबोधित करते हुये श्री यादव ने कहा कि पिछले सत्तर सालों की विकास यात्रा में दुनिया से भारत की तुलना करने में हम आज भी पीछे हैं। किसानों को खुशहाल बनाने और बेरोजगारी दूर करने की दिशा में संतोषजनक कार्य नहीं हुआ। जहां एक ओर अमीर लोगों के हाथों में संसाधन की अधिकता होती जा रही है, वहीं दूसरी ओर गरीबों का जीवन बदतर होता जा रहा है। अमीर-गरीब के बीच की खाई लगातार बढ़ती जा रही है। किसान आत्महत्या करने को मजबूर हैं। लाल किले से किया गया वादा सिर्फ वादा बनकर रह गया है। उन्होने कहा कि देश और प्रदेश की मौजूदा भाजपा सरकारे केवल जनता के मुद्दों से ध्यान हटाना जानती है। गणतंत्र दिवस के अवसर पर लोगों को भारतीय संविधान को बचाने के लिए सजग रहना होगा तभी स्वतंत्रता आंदोलन के मूल्य की रक्षा भी हो सकेगी।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...