राजद को नेता प्रखंड से बूथ स्तर तक ले जायें : तेजस्वी यादव

rjd-leader-should-go-booth-level-tejaswi-yadav
पटना 27 जनवरी, राष्ट्रीय जनता दल (राजद) ने पार्टी को और मजबूत बनाने की कवायद के बीच आज नेताओं से दल को प्रखंड से बूथ स्तर तक ले जाने की अपील की। प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने यहां सहरसा प्रमंडल के पार्टी पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि दल को हर स्तर पर मजबूत कर इसे समाज के सभी वर्ग एवं तबके तक ले जायें। राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की विचार धारा में ही देश, समाज,और राज्य का हित सुरक्षित है। उन्होंने कहा कि राजद ही गरीबों और पिछड़ों की लड़ाई लड़ती रही है, जो जारी रहेगा। श्री यादव ने कहा कि गरीबों, वंचितों और समाज के पिछड़े, अत्यंत पिछड़े, दलित, अल्पसंख्यकों और प्रगतिशील समाज के साथ ही राजद नौजवानों, मजदूरों एवं किसानों की पार्टी है। विपक्ष के लोग राजद को मुस्लिम-यादव ( एमवाई) समीकरण वाली पार्टी बताकर लोगों को गुमराह कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि राजद को सभी धर्म- जाति और समुदाय की पार्टी के रूप मे कार्यकर्ता विस्तारित करें और इसमें सभी को उचित प्रतिनिधित्व दें।

प्रतिपक्ष के नेता ने कहा कि सभी धर्म-जाति के वंचित और गरीबों के कल्याण के साथ ही सभी को सत्ता एवं समाज मे उचित भागीदारी दिलाये जाने की लड़ाई राजद ने लड़ी है और यह अब भी जारी है। उन्होंने कहा कि श्री बी पी मंडल और श्री भूपेंद्र नारायण मंडल के समाजवाद आंदोलन और राजद अध्यक्ष श्री यादव के संघर्ष का ही परिणाम है कि देश मे मंडल आयोग लागू हुआ। इसका परिणाम यह है कि आज गरीब और वंचित समाज से आने वाले युवा भी भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) एवं भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के अधिकारी बन रहे हैं। श्री यादव ने कहा कि समाजवाद और सामाजिक न्याय की धारा को मजबूत करने से ही दबे-कुचलों को न्याय मिल पायेगा। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार समय से पूर्व लोकसभा और विधानसभा का चुनाव कराना चाहती है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) बिहार मामलों के प्रभारी भूपेंद्र यादव और राष्ट्रीय स्वयं सेवक (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत हाल के दिनों में घूम-घूम कर राज्य का जायजा ले चुके हैं और वह राष्ट्र रक्षा यज्ञ करने वाले हैं। बैठक में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष रामचन्द्र पूर्वे, पूर्व मंत्र चंद्रशेखर, अब्दुल गफूर,अशोक कुमार सिंह, विधायक अरुण यादव, यदुवंशी यादव के साथ ही पूर्व सांसद और पूर्व विधायकों ने भी अपने-अपने विचार व्यक्त कियें। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...