सैफई महोत्सव एक परिवार का था, गोरखपुर महोत्सव जनता का : योगी

saifai-mahotsav-was-relatsd-to-a-family-but-gorakhpur-festival-is-for-all--yogi
गोरखपुर 13 जनवरी, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सैफई महोत्सव को एक परिवार का बताते हुए आज कहा कि जनता की भलाई के लिए आयोजित गोरखपुर महोत्सव को बदनाम करने की असफल कोशिश की गई। श्री योगी ने तीन दिवसीय गोरखपुर महोत्सव का समापन करते हुए कहा कि वह दो दिनों से चुप थे। महोत्सव को बदनाम करने की साजिश की गई लेकिन लोगों को समझना चाहिए कि सैफई महोत्सव एक परिवार का है जबकि गोरखपुर महोत्सव जनता का, और जनता की भलाई के लिए आयोजित किया गया। श्री योगी ने कहा कि सैफई महोत्सव में सरकारी खजाना बहाया गया और यहां ऐसा नहीं हुआ। सरकारी खजाने को पानी की तरह बहाया गया लेकिन गोरखपुर में ऐसा कुछ नहीं किया गया। कम पैसे में एक अच्छा आयोजन हुआ। संस्कृति का एहसास किया गया। लोगों ने शिक्षात्मक मनोरंजन हासिल किया। हुल्लड़ की कोई गुंजाइश नहीं थी। गौरतलब है कि समाजवादी पार्टी(सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने गोरखपुर महोत्सव की तुलना अपने पैतृक गांवव इटावा के सैफई में आयोजित होने वाले महोत्सव से कई बार की। उन्होंने सैफई महोत्सव को गोरखपुर महोत्सव से बेहतर भी बताया था।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...