शिव सेना ने राजग से अलग होने का किया एलान

shiv-sena-declares-to-part-from-nda
मुंबई 23 जनवरी, राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की सबसे पुरानी सहयोगी शिव सेना ने आज एक बड़ा राजनीतिक एलान किया कि आगामी लोकसभा और महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव वह अकेले लड़ेगी। शिवसेना संस्थापक बाल ठाकरे की जयंती पर पार्टी अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के आवास ‘मातोश्री’ में बैठक हुई जिसमें राजग से अलग होने का फैसला लेने के साथ ही श्री आदित्य ठाकरे को दल की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य के रूप में शामिल किये जाने का भी निर्णय लिया गया। श्री आदित्य ठाकरे श्री उद्धव ठाकरे के पुत्र हैं। वह काफी दिनों से शिवसेना की युवा सेना की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। शिवसेना सांसद संजय राउत ने पार्टी की इस अहम बैठक के बाद कहा कि पार्टी ने राजग से जुदा होने का फैसला किया है और वह 2019 में होने वाले लोकसभा और महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव अकेले लड़ेगी। श्री राउत की इस घोषणा के साथ ही भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और शिवसेना के तीन दशक पुराने गठबंधन पर काले बादलों का साया मंडराने लगा।  श्री राउत ने कहा कि श्री आदित्य ठाकरे युवा हैं और महाराष्ट्र के युवाओं में उनकी छवि काफी अच्छी है। उन्होंने कहा कि पार्टी 2019 में होने वाले लोकसभा के चुनाव में महाराष्ट्र की 48 लोकसभा सीटों में से कम से कम 25 सीटें जीतेगी और राज्य विधानसभा चुनाव में 288 सीटों में से कम से कम 125 सीटों पर जीत हासिल करेगी।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...