विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 11 जनवरी

भारत की सांस्कृतिक एकता को समृद्व बनाने का श्रेय आदि गुरू शंकराचार्य को -मुख्यमंत्री श्री चैहान
  • विदिशा में एकात्म यात्रा के दौरान जनसंवाद

vidisha news
देश में एक नहीं अनेक मत मतान्तर दिखाई देते है। ऐसे समय में आदि गुरू शंकराचार्य द्वारा बताए गए अद्वैतवाद दर्शन में विश्व की समस्याओं का समाधन निहित हैै। इस आश्य के विचार प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान ने आज विदिशा में नगर में आयोजित जनसंवाद यात्रा को सम्बोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि विश्व में आंतकवाद जैसी प्रवृतियों को समाप्त करने और सभी मत मतान्तरों को समाप्त कर शांति स्थापित करने की दिशा में शंकराचार्य का एकात्म दर्शन सही दिशा दे सकता है। मुख्यमंत्री श्री चैहान ने कि शंकराचार्य ने सभी सदियों को समाप्त करने का कार्य किया तथा समाज सुधार के लिए दो हजार वर्ष पूर्व जो कार्य किये वे अकल्पनीय है। उन्होंने पूर्व-पश्चिम, उत्तर-दक्षिण को जोड़ने का जो कार्य किया, वह अद्वितीय है। आज भी बद्रीनाथ मंदिर में दक्षिण भारत के नम्बूदिरी ब्राहम्ण पूजा करते है, यह देश कोे एक करने के लिए शंकराचार्य द्वारा देश की संस्कृति को जोड़ने का अभूतपूर्व प्रयास है। उन्होंने देश को ‘‘जियो और जीने दो’’ का दर्शन दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘‘वसुधैव कुटुम्बकम’’ के माध्यम से सारी दुनिया को एक ही परिवार मानना, सभी प्राणियों को एक समान दर्जा देना शंकराचार्य की विशेषता थी। उन्होंने विश्व के कल्याण का आव्हान किया और कहा कि सभी मैं एक ही चेतना है। छोटे-बडे़ के बीच कोई भेद नहीं है। शंकराचार्य के प्रयासों से भारतीय संस्कृति आज भी अक्षुण्ण है। हमें इस संस्कृति का संवर्धन कर उसकी रक्षा करनी चाहिएं मुख्यमंत्री ने कहा कि शंकराचार्य भगवान शंकर के अवतार थे। मात्र 32 वर्ष की आयु में संसार का त्याग करने वाले शंकराचार्य आज भी हमारे प्रेरणा स्त्रोत है। मुख्यमंत्री श्री चैहान ने इस अवसर पर संकल्प लिया कि वे सभी त्यौहार समाज के सभी वर्गो के साथ मनाकर एकात्म यात्रा के मूल स्वरूप को सार्थक करेंगे तथा जीव, जगत और जगदीश मूलभूत एकात्म भाव को आत्मसात कर स्वंय को और समाज को उन्नत करने का कार्य करेंगे। एकात्मवाद अपने आचरण में उतारें-सरसंघ संचालक श्री मोहन भागवत ने इस अवसर पर अपने सम्बोधन में कहा कि हमारे देश के सभी पंथ-संप्रदाय एकता और भाईचारे का संदेश देते है। केवल प्रवचन सुनने से काम नही होता है। असली चीज है कि हम प्रवचनों के माध्यम से दी गई सीख को अपने आचरण में उतारे। आज की दुनिया में यह आवश्यक है। हमें ऊंच-नीच से परे रहकर समाज के हर वर्ग के कल्याण के लिए काम करें। सभी के सुख-दुख में सहभागी बनें। ऐसा करने से ही शंकराचार्य के वेदांत दर्शन को हम आत्मसात कर सकते है। अद्वैत वेदांत की भावना को हम सब मिलकर आगे बढ़ाएं। अद्वैत वेदांत ही सम्पूर्ण विश्व को मैत्री का संदेश देता है। इस अवसर पर स्वामी अखिलेश्वरानंद ने कहा कि यात्रा के दौरान सामाजिक समरसता का जो स्वरूप देखने को मिला वह अभूतपूर्व है। उन्होंने कहा कि शंकराचार्य द्वारा देश को एक रखने के लिए आध्यात्मिक प्रयास किए। नर्मदा यात्रा का स्मरण करते हुए स्वामी अखिलेश्वरानंद ने प्रदेश सरकार द्वारा नर्मदा के प्रवाह को अविरल रखने के प्रयास की सराहना की तथा कहा कि नदियों को ‘‘सदा नीरा’’ रखने के लिए समुचित प्रयास जरूरी है। इसके पूर्व सरसंघ चालक श्री मोहन भागवत, मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान, उद्यानिकी राज्यमंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा तथा साधुसंतो ने प्रतीक स्वरूप लाई गई शंकराचार्य की चरण पादुका को आदरांजलि अर्पित की। कार्यक्रम में विदिशा जनपद पंचायत की सभी ग्राम पंचायतों तथा विदिशा नगरपालिका के सभी वार्डो से एकात्म यात्रा के लिए धातु एकत्र कर जन संवाद कार्यक्रम स्थल पर लाए गए कलशों का पूजन किया गया। इस अवसर पर धु्रवा बैंड द्वारा संस्कृत भाषा में अपनी आकर्षक प्रस्तुतियां दी। पुलिस परेड ग्राउण्ड पर आयोजित कार्यक्रम मंे विधायक द्वय श्री कल्याण सिंह ठाकुर, श्री वीर सिंह पवार, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी, एकात्म यात्रा के जिला समन्वयक श्री श्यामसुन्दर शर्मा, नगरपालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डन समेत अन्य जनप्रतिनिधि तथा प्रशासनिक अधिकारी, सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधि तथा यात्रा में शामिल हुए सहभागी तथा बड़ी संख्या में आमजन उपस्थित थे।

सामूहिक सूर्य नमस्कार आज

स्वामी विवेकानंद जी की जयंती ‘‘युवा उत्सव’’ के अवसर पर प्रदेश के अन्य जिलों के साथ-साथ विदिशा में भी सामूहिक सूर्य नमस्कार एवं प्राणायाम का आयोजन 12 जनवरी को शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय के प्रागंण में प्रातः नौ बजे से आयोजित किया गया है। जिला स्तरीय सामूहिक सूर्य नमस्कार एवं योग प्राणायाम कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राज्यमंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा होंगे। अध्यक्षता जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी एवं विधायक कल्याण सिंह ठाकुर तथा विशिष्ट अतिथि नगरपालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डन होंगे। कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने कार्यक्रम की जानकारी देते हुए बताया कि प्रातः नौ बजे छात्रो का एकत्रीकरण तथा उदघोषक द्वारा सम्पूर्ण कार्यक्रम की भूमिका का प्रस्तुतीकरण इसके पश्चात् राष्ट्रीय गीत वंदेमातरम्, सामूहिक गान, मुख्यमंत्री जी के संदेश का प्रसारण, तदोपरांत सामूहिक सूर्य नमस्कार एवं प्राणायाम प्रातः 9.45 बजे से प्रारंभ होगा। कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने सभी विभागों के अधिकारी कर्मचारियों से कहा कि आयोजन स्थल पर उपस्थित होकर सामूहिक सूर्य नमस्कार में सहभागिता निभाएं। जिला शिक्षा अधिकारी श्री एचएन नेमा ने बताया कि इसी प्रकार के आयोजन विकासखण्ड एवं पंचायत स्तर पर एक साथ आयोजित किए गए है।

विदिशा की जनता मुख्यमंत्री के छल को भुलेगी नहींः  भार्गव

vidisha news
विदिषाः ब्लाॅक कंाग्रेस कमेटी गुलाबगंज द्वारा चलाये जा रहें कार्यक्रम मेरा बूथ मेरा गौरव वरिष्ठ कांग्रेस नेता शषांक भार्गव के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ता आज ग्राम तुमैना, लखंगार, माला, हिनोतिया और मंुगवारा पहुॅचे जहाॅ प्रत्येक मतदान केन्द्र पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं की नियुक्ति की गई। इस दौरान ग्राम तुमैना, लखंगार, माला में ज्ञात हुआ कि पिछले 1-2 वर्षो में गांव की बिजली सप्लाई बंद ग्रामीण अंधेरे में अपना जीवन जीने को मजबूर हैं। ग्राम तुमैना ग्रामीणों संबोधित करते हुये शषांक भार्गव ने कहा कि इस क्षेत्र की जनता ने बडे ही आषा और विष्वास के साथ पिछले चुनाव में मुख्यमंत्री को वोट दिये थे इसके बाद हुये उपचुनाव में भाजपा की सरकार बन चूकि थी और उपचुनावों मंे प्रचार के पूर्व मुख्यमंत्री जी के द्वारा ग्रामों का दौरा कर विदिषा विधानसभा की तकदीर और तस्वीर बदलने की बात की थी, लेकिन आज जब हम इन ग्रामीण क्षेत्रों में पहुॅचते है। तो पता चलता है कि ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली, पेयजल और षिक्षा की कोई भी बुनियादी सुविधाएं मौजूद नहीं है। म.प्र. सरकार को 4 साल पूरे हो चूॅके है लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में विकास शून्य है। विदिषा विधानसभा क्षेत्र की जनता अपने साथ हुये इस छल को नहीं भूलेगी। मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी की वादाखिलाफी को जनता आने वाले चुनाव में सूत सहित लौटायेगी। कार्यक्रम के दौरान पूर्व ब्लाॅक अध्यक्ष किषनसिंह दांगी, अजय कटारे, विजयकांत रैकवार, अनुज लोधी, दीवान किरार, धन्नालाल कुषवाह, रामभरोसे लोधी, अमित ठाकुर, राजकुमार डिडोत, सोनू राजपूत, नरेन्द्र शर्मा, देवेन्द्र दांगी, नूर भाई, निषीकांत बारले, रूपेष षिलावट, संतोष गुर्जर, चंद्रपाल रघुवंषी, रिंकू महाराज, शैलेन्द्र दांगी, राम दांगी, सचिन तिवारी, विकास ठाकुर, शंकरसिंह राजपूत, शेरसिंह दांगी, पहलवानसिंह दांगी सहित अनेकों कार्यकर्ता उपस्थित रहें। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...