विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 13 जनवरी

सफलता की कहानी : हितग्राही अब दूसरों को रोजगार दे रहा है

vidisha news
मुुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना ने हितग्राही लखन सिंह शाक्य के दिन ही फेर दिए है जहां पहले रोजगार के लिए दूसरों के साथ मिलकर काम किया करता था अब दूसरे लखन के यहां काम कर रहे है। मुख्यमंत्री युवा रोजगार योजना से लाभांवित हुए हितग्राही लखन ने बताया कि शुरू से ही व्यवसाय करने की इच्छा दिलो दिमाग में बनी रहती थी। पहले चंदेरी में जाकर साड़ी बनाने की प्रक्रिया को समझा और कुछ दिन तक काम किया। साडी मंहगा व्यवसाय होने के कारण घर की आर्थिक स्थिति इतनी अच्छी नही थी कि साड़ी का व्यवसाय कर सकूं। इसके बाद स्वंय की आजीविका चलाने के लिए सेंटिग वालो के साथ काम करने लगा। लगातार उपेक्षित होने के कारण स्वंय का व्यवसाय करने का मन बनाया। मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना ने जीवन की दिनचर्या ही बदल दी है। टेन्ट व्यवसाय के लिए पांच लाख रूपए का लोन स्वीकृत होने के बाद व्यवसाय का संचालन करने लगा। स्वीकृत लोन में डेढ लाख की अनुदान राशि भी शामिल है। व्यवसाय में निरंतर प्रगति होने लगी। मेरे द्वारा केनरा बैेंक में प्रतिमाह किश्त 11 हजार आठ सौ रूपए जमा की जा रही है।बक्सरिया में निवासरत हितग्राही श्री लाखन सिंह ने चर्चा के दौरान बताया कि जहां पहले मजदूरी के लिए दूसरों पर आश्रित था वही अब मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना ने मुझे इतना सक्षम बना दिया कि मेरे यहां चार युवाजन काम कर रहे है। जहां पहले में बीपीएलधारी था अब योजना ने मुझे बीपीएल से मुक्ति दिलाई है। खुद का व्यापार शुरू हो जाने से अब मैं किसी के अधीन नही हूं। दूसरों के अधीन मजदूरी करने के दुःखों से योजना ने मुझे मुक्ति दिलाई है वही पारिवार को आर्थिक सबलता प्रदान की है। लखन सिंह का कहना है कि अब भविष्य में साबुन और डिटरजेंन्ट पावडर की यूनिट डालने की इच्छा है इसके लिए बकायदा उसके द्वारा प्रशिक्षण प्राप्त किया जा रहा है। इसके पश्चात् भविष्य में डिटरर्जेंट यूनिट के लिए वित्त फायनेंस हो सकें इसके लिए जिला उद्योग कार्यालय के सम्पर्क में हूॅ । केनरा बैंक द्वारा भी मेरे प्रकरण में वित्तीय पोषण करने की मौखिक स्वीकृति प्रदाय की गई है।

राज्यमंत्री ने हितग्राहियों को प्रदाय की सामग्री, चैपाल में हुआ समाधान

vidisha news
राज्यमंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा ने शुक्रवार को ग्राम देवखजूरी में चैपला कार्यक्रम के माध्यम से ग्रामीणजनों की समस्याएं मध्य रात्रि तक सुनी और उनका समाधान कराया। राज्यमंत्री ने चैपाल कार्यक्रम में ही योजनाओं से लाभांवित होने वाले हितग्राहियों को सामग्री, चेक स्वीकृति पत्र प्रदाय किए है। राज्यमंत्री श्री मीणा ने ग्रामवासियों से कहा कि गांव में ही उनकी समस्याओं का समाधान हो इसके लिए जिले में हर संभव प्रयास किए जा रहे है। प्रशासन द्वारा सतत समस्या निवारण शिविरों का आयोजन तथा जनसुनवाई की जा रही है। वही मेरे द्वारा भी प्रत्येक शुक्रवार को नटेरन और शमशाबाद में आमजनों से भेंट कर उनकी समस्याओं का निदान किया जा रहा है। रात्रि चैपाल के आयोजन पर प्रकाश डालते हुए राज्यमंत्री श्री मीणा ने कहा कि गांव के ऐसे ग्रामबंधु जो दिन में अपने कार्यो, रोजगार के लिए बाहर चले जाते है और शाम को घर आते है ऐसे सभी ग्रामीणजनों की समस्याओं से गांव में ही अवगत होकर उनका समाधान गांव में ही कराना है। राज्यमंत्री श्री मीणा ने ग्रामवासियों से कहा कि वे अपने बच्चों को नियमित स्कूल भेंजे इसी प्रकार ग्राम में जिन शासकीय विभागों के माध्यम से सेवाएं दी जा रही है उनकी क्रास माॅनिटरिंग करें। खासकर आंगनबाडी केन्द्रों में बच्चों को समय पर पोषण आहार व अन्य सामग्री प्रदाय हो रही है कि नही पर नजर जरूर रखें। उन्होंने कहा कि ग्रामीणजनों की जनजागरूकता से अनेक योजनाओं के क्रियान्वयन में अपेक्षित परिणाम परलिक्षित होने लगेंगे। राज्यमंत्री एवं अन्य अतिथियों के द्वारा रात्रि चैपाल कार्यक्रम के दरम्यिान 22 हितग्र्राहियों को भू-खण्डधारी प्रमाण पत्र प्रदाय किए गए। पांच को राष्ट्रीय परिवार सहायता, दस को पेंशन, तीन को उज्जवला गैस कनेक्शन, श्रम विभाग की योजना के तहत दो हितग्राहियों को साइकिले प्रदाय की गई वही सामाजिक न्याय विभाग के माध्यम से हितग्राहियों को श्रवण यंत्र मौके पर प्रदाय किए गए है। एसडीएम श्री रविशंकर राय ने ग्रामीणों से कहा कि उनकी जो भी सार्वजनिक एवं व्यक्तिगत समस्याएं हो वे इस प्रकार के आयोजन का इंतजार ना करें बल्कि क्षेत्र में भ्रमण पर आने वाले राजस्व अमले की जानकारी में अवश्य लाएं चाहे वह समस्या किसी अन्य विभाग से संबंधित हों। श्री राय ने राजस्व विभाग के माध्यम से सम्पादित होने वाले कार्यो की विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने कहा कि अब जिले में सीमांकन संबंधी कार्य टोटल मशीन से किया जाने लगा है। अतः अनुविभाग क्षेत्र में अब एक भी प्रकरण सीमांकन का लंबित नही है यदि किसी व्यक्ति का सीमांकन संबंधी प्रकरण लंबित रहता है तो उसकी सूचना देने वाले व्यक्ति को शासन के द्वारा जारी दिशा निर्देशों के अनुसार राशि मुहैया कराई जाएगी।एसडीएम श्री राय ने ग्रामीणों से कहा कि वे शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन में सहयोगात्मक रवैया अपनाते हुए गांव के सुपात्रों को लाभ दिलाने में आगे आएं। वही ऐसे व्यक्ति जो पात्रता नही रखते है और योजनाओं का लाभ ले रहे है उनका नाम पात्रता सूची से अलग कराने व हटाने में बढ़ चढकर भाग लें। रात्रि चैपाल मंे खाद्य विभाग के अधिकारी द्वारा प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के साथ-साथ अनुसूचित जाति एवं जनजाति वर्ग के ऐसे परिवार जिन्हें हाल ही में पात्रता जारी की गई है उन सभी को उचित मूल्य दुकानों के माध्यम से राशन प्रदाय कराया जा रहा है यदि 15 तारीख तक राशन नही मिलता है तो विभाग की जानकारी में अवश्य लाएं। इस दौरान अन्य विभागों के खण्ड स्तरीय अधिकारियों द्वारा विभागीय योजनाआंे एवं कार्यक्रमों की जानकारी ग्रामीणजनों को दी गई। चैपाल कार्यक्रम में मध्य रात्रि तक जनप्रतिनिधियों के अलावा नायब तहसीलदार श्री सौरभ वर्मा, सहायक आपूर्ति अधिकारी श्री विजय सलोदे एवं अन्य विभागों के खण्ड स्तरीय अधिकारी एवं ग्रामीणजन मौजूद थे।

मुख्यालय पर रहना सुनिश्चित करंे-कलेक्टर 

कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने ग्रामीण विकास विभाग के माध्यम से क्रियान्वित योजनाओं की गहन समीक्षा के दौरान उन्होंने खण्ड स्तरीय अमले को सख्त हिदायत देते हुए कहा कि नियत मुख्यालय पर सभी विभागों के अधिकारी रहना सुनिश्चित करें। अब यदि जांच पड़ताल के दौरान मुख्यालय पर निवासरत नही होने पर संबंधितों के वेतन काटने की कार्यवाही की जाएगी। कलेक्टर श्री सुचारी ने ग्रामीण विकास के अमले से कहा कि शासन की अधिकांश योजनाएं ग्रामीण विकास विभाग के माध्यम से क्रियान्वित की जाती है। जिनका समय पर हितग्राहियों को लाभ मिले यह सुनिश्चित करें। उन्होंने निर्माण कार्यो की समीक्षा के दौरान कहा कि समय पर निर्माण कार्य पूर्ण हो जाने से संबंधित अधिकारी के साथ-साथ जिले की साख में वृद्वि होती है। उन्होंने योजनाओं के क्रियान्वयन में कोई दिक्कत आती है तो अविलम्ब जानकारी में लाएं।  जिला पंचायत सीईओ श्री दीपक आर्य ने विभागीय अमले से कहा कि समय पर कार्य करना सुनिश्चित करें ताकि स्वंय दण्डित होने से बचें और जिले की ग्रेडिंग को नीचे ना आने दें। उन्होंने पात्रताधारी हितग्राहियों को समय पर योजना का लाभ मिल सकें इसके लिए कार्य क्षेत्रों के ग्रामवासियों से सतत सम्पर्क बनाएं रखें। जिन हितग्राहियों के आवासों का निर्माण कराया जाना है उन्हें शीघ्रतिशीघ्र पूर्ण कराएं ताकि जनवरी माह के अंत तक सभी प्रकार के आवासों का निर्माण कार्य पूर्ण हो सकंें। श्री आर्य ने निर्माण कार्यो में किसी भी प्रकार की गुणवत्ता को अनदेखा नही करने की सख्त हिदायत देते हुए कहा कि ग्राम पंचायतों के माध्यम से जो प्रस्ताव ग्राम के विकास के संबंध में प्राप्त हुए है उनकी वरीयताक्रमानुसार प्राप्त राशि से शीघ्र कराना सुनिश्चित करें। इस दौरान प्रधानमंत्री आवास योजना, कपिलधारा, मध्यान्ह भोजन एवं स्वरोजगारोमुखी योजनाओं की समीक्षा की गई। जिला पंचायत के सभागार कक्ष में हुई उक्त बैठक में समस्त जनपदों के सीईओ, एई, उपयंत्री एवं परियोजना अधिकारी मौजूद थे।

कांग्रेस की सरकार आने पर बदलेगी विदिषा के ग्रामीण क्षेत्रों की तस्वीर :  भार्गव

vidisha news
विदिषाः ब्लाॅक कंाग्रेस कमेटी गुलाबगंज के तत्वाधान में मेरा बूथ मेरा गौरव यात्रा को लेकर कांग्रेस नेता आज ग्राम खुजरहार, गुनुआ, चक्क, मूडरा गणेषपुर, खिरिया, पटवारीखेडी, घुरदा पहुॅचे ग्रामीण अंचलों में भ्रमण के दौरान सभी ग्रामों में घरेलू बिजली की समस्या प्रमुख रूप से सामने आई। इस दौरान ग्राम गुनुआ में उपस्थित ग्रामीणजनों को संबोधित करते हुए वरिष्ठ कांग्रेस नेता शषांक भार्गव ने कहा कि पिछले 18 दिनों में हम प्रत्येक मतदान केन्द्रों पर पहुॅचकर ग्रामीणजनों, किसानों के हाल जानने का प्रयास कर रहें है। विगत 18 दिनों में हमने लगभग 75 गांवों का भ्रमण किया है, जिसमें प्रमुख रूप से समस्या घरेलू बिजली सप्लाई को लेकर सामने आई है। स्कूली षिक्षा में गुणवत्ता विहिन षिक्षा एवं ग्रामीण युवाओं में बढती बेरोजगारी चिंता का विषय है। विदिषा विधानसभा क्षेत्र के अधूरे विकास को कांग्रेस की सरकार आने पर पूर्ण किया जायेगा। कांग्रेस की सरकार आने पर विदिषा के ग्रामीण क्षेत्रों की तस्वीर बदल जायेगी। कार्यक्रम के दौरान एड. रईस अहमद कुरैषी, नंदकिषोर शर्मा, अजय दाॅतरे, किषनसिंह दांगी, अजय कटारे, ब्लाॅक कांग्रेस कमेटी गुलाबगंज के अध्यक्ष अनुज लोधी, ब्लाॅक कांग्रेस कमेटी विदिषा ग्रामीण अध्यक्ष दीवान किरार, धन्नालाल कुषवाह, अब्दुल हक, डाॅ. राजेन्द्र दांगी, भूपेन्द्र रघुवंषी, नूर भाई, जसरूप किरार, संजीव प्रजापति, राजकुमार डिडोत, प्रमोद ठाकुर, थानसिंह, राजेन्द्र महाराज, शंकरसिंह राजपूत, जसवीर किरार, दीपक दुबे, शैलेन्द्र दांगी, संजीव दांगी, रिंकू दांगी, विषाल दांगी, गोलू दांगी, सरफराज खान, अंकित शर्मा सहित अनेकों कार्यकर्ता उपस्थित रहें।  
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...