आईएएस अधिकारी दीपंक आनंद के चार ठिकाने पर निगरानी का छापा

vigilance-raid-is-officer-deepak-anand-bihar
पटना 03 जनवरी, बिहार पुलिस की विशेष निगरानी इकाई (एसवीयू) ने भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) अधिकारी दीपक आनंद के राजधानी पटना और झारखंड समेत चार ठिकानों पर एक साथ छापेमारी कर करीब दो करोड़ तीस लाख रुपये से ज्यादा की सम्पत्ति का खुलासा किया है। एसवीयू के पुलिस महानिरीक्षक रत्न संजय ने यहां बताया कि पदस्थापन की प्रतीक्षा में चल रहे 2007 बैच के आईएएस अधिकारी दीपक आनंद के खिलाफ एसवीयू थाने में आय से अधिक सम्पत्ति का मामला दर्ज किया गया था। इसी को लेकर श्री आनंद के पटना, सीतामढ़ी, कटिहार और झारखंड के गोड्डा जिला स्थित ठिकाने पर एक साथ छापेमारी की गयी। झारखंड के गोड्डा में श्री आनंद का ससुराल है। श्री संजय ने बताया कि छापेमारी के दौरान निवेश से संबंधित कई महत्वपूर्ण दस्तावेजों के साथ ही बैंक खाते भी बरामद किये गये हैं। बरामद दस्तावेजों को खंगाला जा रहा है। प्रारंभिक जांच से यह पता चलता है कि आईएएस अधिकारी ने आय से अधिक सम्पत्ति अर्जित की है। उन्होंने कहा कि कटिहार में छापेमारी के दौरान अबतक 77 लाख रुपये की सम्पत्ति का अबतक पता चला है। 

पुलिस महानिरीक्षक ने बताया कि सभी ठिकानों पर छापेमारी अभी भी जारी है और इसके समाप्त होने के बाद ही सही आकलन कर कुछ भी बताया जा सकेगा। श्री आनंद सारण और बांका में जिलाधिकारी रहने के साथ ही प्रदेश में कई महत्वपूर्ण पदों पर रह चुके हैं। उन्होंने कहा कि अभी तक लगभग दो करोड़ तीस लाख रुपये की सम्पत्ति का खुलासा हो सका है। इसबीच गोड्डा से यहां प्राप्त सूचना के अनुसार, एसवीयू की टीम ने श्री आनंद के गोड्डा जिले के महागामा, बलबड्डा, ललमटिया, हनवारा और नयानगर स्थित ठिकाने पर भी छापेमारी की। श्री आनंद के महागामा स्थित कृष्णानंद भगत कॉम्पलेक्स में करीब पांच घंटे तक छापेमारी की गयी। इस दौरान किसी को भी घर के अंदर और बाहर आवाजाही नहीं करने दिया गया। एसवीयू के साथ ही स्थानीय पुलिस की टीम ने भी श्री आनंद के ससुराल के घर को घेरे में ले रखा था। बाद में श्री आनंद के ससुर ने बताया कि छापेमारी करने आयी टीम ने कई दस्तावेज, बैंक पासबुक, लैपटॉप और प्रिंटर को भी जब्त कर लिया है। छापेमारी करने आयी टीम अपने साथ गोड्डा के हनवारा के रहने वाले मोहम्मद जब्बार और करीम को साथ लेकर आयी थी। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...