सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 09 फ़रवरी

सफलता की कहानी : स्वच्छ भारत का मजबूत इरादा के चलते सीईओ ने किया शौचालय का टेंक साफ, सफल रहे जनजागृति लाने मे
 
sehore news
सीहोर जिला मुख्यालय से पाँच किलोमीटर की दूरी पर स्थित गाँव  जहांगीरपुरा समय दोपहर का ,मंगलवार 12दिसम्बर2017को पूजा के घर पर गाँव को स्वच्छ रखने के लिए कचरा प्रंबधन की बैठक चल रही है;बीस से अधिक ग्रामीण महिलाएं उपस्थित हैं,सभी सहमत हैं कचरा -कचरा एकत्रित करने वाले भैया को ही दिया जाएगा घर के बाहर/घूड़े पर नहीं डालेंगे, साथ ही पूरे गाँव को भी इसके लिए जागरूक करेंगे क्योंकि गंदगी ही बीमारी की जड़ है। बैठक मे ही उपस्थित चँदा बाई ने अपनी समस्या बताते हुए कहा मेरे घर लगभग ग्यारह साल पहले बने शौचालय का गड्ढा पिछले एक साल से भर  गया है पंचायत को भी बताया था किन्तु उन्होंने भी नया गड्ढा बगल मे ही बना दिया है,इससे शौचालय तो चालू है पर पुराना भरा गड्ढा....... मिट्टी छाप दूँ क्या.....?उपस्थित महिलाओं ने सलाह दी स्वयं ही साफ करलो....चँदा बाई ने नाक-भौं सिकोड़ते इन्कार किया।  समस्या चलते-चलते मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत (अपर कलेक्टर) डा.केदार सिंह तक पहुंची।स्वच्छ भारत का मजबूत इरादा रखने वाले डा.सिंह ने इस समस्या को गंभीरता से लिया और इसके बहुआयामी दुष्प्रभाव को देखते हुए विचार किया कि *केवल शौचालय बनाने से ही स्वच्छ भारत नहीं बनेगा लोगों की सोच भी बनानी होगी।*  वे इस बात से भलीभाँति अवगत थे कि सन्1998,99तथा2005मे भी कई हितग्राहियों के यहाँ शौचालय निर्माण हुए थे जो भर गये होंगे या भरने की कागार पर होंगे।उन्होंने ठाना लोगों की भ्रांतियां दूर करनी होगी, मै अपनी टीम के साथ स्वयं इस गड्ढे को खाली करुंगा।  डा. केदार सिंह के नेतृत्व मे 28जनवरी2018को सीईओ जनपद,ब्लाक क्वाडिनेटर समग्र स्वच्छता, समर्थन के सदस्य और यैलो गैंग उपस्थित है ,जहांगीरपुरा मे चँदा बाई के शौचालय के भरे हुए टेंक के पास.....पूरे गाँव मे कौतूहल का माहौल...इतने बडे-बडे अधिकारी मानव मल से भरा गड्ढा साफ करेंगे वो भी बिना किसी सफाई कर्मी को साथ लिए। डा.सिंह के निर्देश पर अनिरुद्ध गड्ढे से पट्टियां हटाते हैं ...आसपास खडी भीड मुंह पर रुमाल रख दूर हो जाती है...छतों से नजरा देख रहे बच्चे और महिलाएं नाक-भौं सिकोड़ते दिखाई देते हैं.....डा. सिंह चँदा बाई से मजाक मे पूछते हैं कितने रुपये दोगी...चँदा हतप्रभ... आश्चर्यचकित..किंकर्तव्यविमूढ़... निशब्द... उत्तर का इन्तजार किये बिना फावड़ा और तगारी लिए डा.सिंह गड्ढा साफ करने जुट जाते हैं लोकसेवक की परिभाषा को नवीन आयाम देते ....अपशिष्ट को हाथ मे लेकर लोगों को दिखाते हैं देखो यह तो खाद हो गया...न तो बदबु है और न ही गंदा...फिर तो जनपद सीईओ दिलीप जैन,ब्लाक समन्वयक ब्रजमोहन, समर्थन की संतोषी तिवारी सीमा,अनिरुद्ध, येलो गैंग के सदस्यों और खुद चँदा बाई तथा उनके परिजनों ने कुछ ही मिनिटों मे गड्ढा साफ कर दिया। गड्ढे से निकले खाद को डा. सिंह ने चार सौ रुपये नगद देकर खरीदा और पंचायत सामुदायिक वृक्षारोपण मे लगे सौ से अधिक पौधों मे डाला। लोगों को स्वच्छता हेतु प्रेरित करने के लिए इस पूरी गतिविधि का दस्तावेजीकरण(फोटो,वीडियोग्राफी)आदि कराया गया है ताकि सभी पंचायतों मे दिखाया जा सके कि यह बुरा नहीं अच्छा काम है। 1996बैच के राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी डा. केदार सिंह अपनी पदस्थापना के दौरान जहाँ भी रहे अपनी अनूठी कार्यशैली से पहचाने गये। पूछने पर सहज मुसकान के साथ कहते हैं लोकतंत्र तभी सार्थक होगा जब जनता जागरूक होगी.शासन की योजनाएं... सभी कल्याणकारी कार्यक्रम तभी सफल होंगे जब जनता सक्रियता से साथ होगी।

विधायक श्री सुदेश राय ने एल्बेंडाजाॅल की गोली खिलाकर किया राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस का शुभारंभ

sehore news
राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस पर सीहोर विधायक श्री सुदेश राय ने लुर्दमाता स्कूल के बच्चों को एल्बेंडाजाॅल की गोली खिलाकर समारोहपूर्वक आज शुभारंभ किया। कृमिनाशन दिवस के शुभारंभ अवसर को संबोधित करते हुए विधायक श्री राय ने कहा कृमिनाशन से संपूर्ण स्वास्थ्य पोषण स्तर, एनीमिया की रोकथाम, बौद्धिक विकास तथा शालाओं की उपस्थिति में सुधार देखा गया है। विधायक श्री राय ने कहा 1 गोली चबाकर सेवन कराने से बच्चों को कृमिमुक्त कर सकते हैं। इस अवसर पर लूर्दमाता विद्यालय के करीब 1410 बच्चों ने गोली खाकर कृमिमुक्ति दिवस का आगाज किया। इस अवसर पर जिला शिक्षा अधिकारी श्री एसपी त्रिपाठी, जिला टीकाकरण अधिकारी डाॅ.एम.के.चंदेल, सिविल सर्जन डाॅ.ए.ए.कुरैशी, विद्यालय के प्रबंधक फादर श्री अजय एक्का, प्राचार्य सुश्री सिस्टर टेस्सी, शहरी टीकाकरण अधिकारी डाॅ.दिलीप चैरसिया एवं मेडिसिन विशेषज्ञ डाॅ.आरके वर्मा सहित बडी संख्या में विद्यालय का स्टाफ एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित थे। इस अवसर पर अध्ययनरत छात्रों ने उत्साहपूर्वक राष्ट्रगीत, स्वागत गीत की प्रस्तुति दी तथा देशभक्ति गीतों पर मनमोहक नृत्य भी प्रस्तुत किया। कृमिनाशन गोली एल्बेंडाजाॅल खाने के लिए सभी छात्रों में खासा उत्साह था। कार्यक्रम का संचालन शिक्षिका श्रीमती कामीनी राठौर द्वारा किया गया। विद्यालय के बेंड दल द्वारा शानदार धून बजाकर ट्रामा सेंटर से अतिथियों केा कार्यक्रम स्थल तक ले जाया गया। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ.डीआर अहिरवार ने बताया कि आज स्कूल समय में प्रायमरी, माध्यमिक तथा उच्चतर माध्यमिक शालाओं में यह आयोजन सफलतापूर्वक किया गया। डाॅ.अहिरवार ने बताया कि संपूर्ण सीहोर जिले में करीब 5 लाख 60 हजार 639 बच्चों किशोर/किशोरियों कांे एल्बेंडाजाॅल की गोली खिलाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है जिसमें आष्टा से 1 लाख 62 हजार 812 बच्चे,बुदनी 58 हजार 842,इछावर 67 हजार 819,नसरूल्लागंज 92 हजार 143 तथा सीहोर में 1 लाख 79 हजार 3 बच्चों तथा किशोरों को एल्बेंडाजाॅल गोली खिलाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। आज आयोजित शुभारंभ समारोह में जिला टीकाकरण अधिकारी डाॅ.एम.के.चंदेल ने संबोधित करते हुए कहा कि 1 से 2 वर्षीय बच्चों को एल्बेंडाजाॅल की आधी गोली(200 मि.ग्रा.) तथा 2 से 19 वर्षीय बच्चों को एल्बेंडाजाॅल की 1गोली (400 मि.ग्रा.) का सेवन शिक्षक/आंगनबाडी की उपस्थिति में कराई जाएगी। कार्यक्रम की सफलता के लिए जिला स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ.टीआर उइके,जिला कार्यक्रम प्रबंधक श्री धीरेन्द्र आर्य,जिला मीडिया सलाहकार श्री शैलेश कुमार,अस्पताल प्रबंधक श्रीमती संजूलता भार्गव, डिप्टी एमईआईओ सुश्री उषा अवस्थी, मूल्यांकन अधिकारी श्री नीलेश गर्ग, जिला लेखा अधिकारी श्री रमाकांत द्विवेदी, मेट्रन टेªसा सिस्टर, डीसीएम श्रीमती वंदना कुशवाहा, शहरी स्वास्थ्य से श्री हरिओम मेवाड़ा सहित समस्त स्कूल स्टाफ का विशेष योगदान रहा। 

विभागीय अधिकारियो/जनप्रतिनिधियों द्वारा  अतिकम वजन के बच्चों को गोद लिया गया  

कलेक्टर श्री तरूण कुमार पिथौड़े के निर्देशानुसार जिला स्तर पर महिला एवं  बाल विकास तथा महिला सशक्तिकरण की संयुक्त विभागीय समीक्षा बैठक में महिला बाल विकास विभाग की लाडली लक्ष्मी योजना विशेष वजन अभियान, लालिमा अभियान, सी.एम. हेल्पलाईन, पोषण आहार वितरण, उदिता अभियान, ई-निरीक्षण सहित सभी विभागीय योजनाओ की समीक्षा की गई। विगत समीक्षा बैठक 21 दिसम्बर.2017 को जिले में चिन्हित अतिकम वजन के 1500 बच्चों को विभिन्न विभाग के अधिकारियों/कर्मचारियों एवं जनप्रतिनिधियों/ सरपंच/सचिव आदि को उनकी सहमति व स्वेच्छा अतिकम वजन के बच्चों कीे देखभाल तथा परामर्श हेतु गोद दिये जाने हेतु निर्देश दिये गये थे। अभिभावको से गृहभेंट कर देखभाल एवं परामर्श द्वारा इन बच्चों के वजन में वृद्धि तथा शारीरिक विकास एवं स्वास्थ्य की सुरक्षा हेतु चिन्हित अनुसार प्रतिमाह ग्राम में भ्रमण पर अपने दायित्वों के अलावा समय निकालकर ऐसे बच्चों के कुपोषण को दूर करने के प्रयास करेंगें जिससे कि जो बच्चें अतिकम वजन में है वे पूरी तरह से स्वस्थ होकर समाज में एक स्वस्थ पीढी का नेतृत्व कर ग्राम के अपने क्षेत्र के विकास में सहयोगी सहायक सिद्ध होगें इस हेतु सीहोर जिले की 09 परियोजनाओ में गोद लेने वाले अधिकारी/कर्मचारियों में, पटवारी, उपयंत्री, कृषि विस्तार अधिकारी, थाना प्रभारी, मण्डी सचिव, वन विभाग एवं पशु विभाग के अधिकारी/कर्मचारियों, शिक्षक एवं जनप्रतिनिधि/समाज सेवक आदि शामिल है का एक स्वस्थ्य समाज बनाने के प्रयास में आंशिक योगदान भी होगा ऐसी जिला प्रशासन की मंशा है तथा सीहोर जिले को शत-प्रतिशत कुपोषण से मुक्त करने के प्रयास भी सफल होगें। इस समीक्षा बैठक में श्री संजय प्रताप सिंह जिला कार्यक्रम अधिकारी, श्रीमती रंजिता पटेल, महिला सशक्तिकरण अधिकारी, सहायक संचालक, समस्त परियोजना अधिकारी व विकासखण्ड अधिकारी उपस्थित रहें। 

अग्रिम कर एवं अन्य आयकर प्रावधानों सेमिनार संपन्न

sehore news
श्री ए0 आर0 रेवार,  संयुक्त आयकर आयुक्त, परिक्षे़त्र-3, भोपाल, एवं श्री डी0 के0 गुंटीवार, आयकर अधिकारी श्री आर0 एन0 सिंह, आयकर अधिकारी एवं श्री आर0 एस0 सिसोदिया, आयकर निरक्षक ने आज दिनांक 09/02/2018 को दोपहर 4.00 बजे  आयकर कार्यालय, सीहोर में अग्रिम कर, अन्य आयकर प्रावधानों एवं आयकर के कर विस्तार संबंधित विषय पर सेमिनार आयोजित किया गया जिसमें सीहोर षहर के सभी सम्मानीय व्यापारीगण एवं करदाता  ने उपस्थित होकर अग्रिम कर एवं अन्य जिज्ञासाओं पर अपने विचार माननीय श्री ए0 आर0 रेवार,  संयुक्त आयकर आयुक्त, परिक्षे़त्र-3, भोपाल, एवं श्री डी0के0गुंटीवाऱ,आयकर अधिकारी सीहोर एवं श्री आर0एन0 सिंह आयकर अधिकारी,रायसेन के साथ साझा किया  तथा व्यापारीगण एवं करदाता  द्वारा पूछे गये सवालों को  दूर किया गया। अंत में मंचासिन गणमान्य अधिकारीयों का आयकर कार्यालय सीहोर के आयकर निरीक्षक श्री आर0एस0सिसोदिया ने सभी पधारे व्यापारीगण एवं करदाताओ  का आभार व्यक्त किया तथा कार्यक्रम की समाप्ति की घोषणा की। इसी तरह भोपाल कार्यालय की श्रीमती भावना सिंह, आयकर उपायुक्त, सीहोर के श्री डी0 के0 गुंटीवार, आयकर अधिकारी, श्री आर0 एन0 सिंह, आयकर अधिकारी रायसेन एवं श्री आर0 एस0 सिसोदिया, आयकर निरीक्षक,सीहोर ने आज दिनांक 09/02/2018 को दोपहर 12.10 बजे स्वामी विवकेानंद कालेज, सीहोर में आयकर जागरूकता एवं स्कूल में विघार्थियों को आयकर कार्य प्रणाली संबंधित विषयों पर सेमिनार आयोजित किया जिसमें कालेज के संस्थापक श्री हरीष राठौर, प्रिंसिपल, प्राचार्य एवं स्कूल के षिक्षिका/ षिक्षिक एवं विघार्थि उपस्थित हुये तथा उन्हंे आयकर संबंधित जानकारी पावर प्रेजेन्टेषन द्वारा दिया गया तथा आयकर संबंधित जानकारी पेन, आय के स्त्रोत, सर्वे धारा 133।/तालाषी  एवं जप्ती कार्यवाही धारा 132 के प्रावधानों एवं पेपर फाइलिंग/म्.थ्पससपदह तथा आायकर के कठोर नियम, षास्ति एवं अभियोजन संबंधित अनेक जानकारियों से अधिकारियों ने उन्हें अवगत कराया तथा विघार्थियों एवं षिक्षिको द्वारा पूछे गये सवालों/जिज्ञासा को  दूर किया गया ।  अंत में मंचासिन गणमान्य आयकर अधिकारीयों का कालेज के संस्थापक श्री हरीष राठौर ने आभार व्यक्त किया ।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...