विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 13 फ़रवरी

लंबित आवेदनों की समीक्षा

vidisha news
कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने मंगलवार को विभिन्न विभागों में लंबित आवेदनों की समीक्षा की। उन्होंने खासकर मुख्यमंत्री हेल्प लाइन के तहत लंबित आवेदनों का निराकरण समय सीमा में करने के निर्देश देते हुए कहा कि जैसे ही विभागों में आवेदनों दर्ज होते है ठीक उसी समय विभाग के अधिकारी के मोबाइल पर सूचना आ जाती है और आवेदनकर्ता की समस्यायुक्त जानकारी दिखाई देने लगती है। कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि एल-वन स्तर पर ही समस्याओं का निदान किया जाए। ऐसी समस्याएं जो जिला स्तर पर निराकृत नही हो सकती है उन सभी आवेदनों में स्पष्ट कारण को अंकित करते हुए वरिष्ठ अधिकारियों को दूरभाष से अवगत कराएं। कलेक्टर श्री सुचारी ने समाधान एक दिवस में की तर्ज पर मुख्यमंत्री हेल्प लाइन के आवेदनों का निराकरण विभागों के अधिकारी करना सुनिश्चित करें। अवकाश के दिनों में लंबित आवेदनों की संख्या बढ़ जाती है अतः अवकाश दिवसों में भी आवेदनों के निराकरण की पहल करें। टीएल बैठक में आधार पंजीयन, जाति प्रमाण पत्र, सार्वजनिक वितरण प्रणाली की अद्यतन प्रगति की भी समीक्षा की गई। इसके अलावा बैठक में मुख्यमंत्री हेल्प लाइन, मानव अधिकार आयोग, पीजी सेल, समाधान आॅन लाइन और जन शिकायत निवारण के प्राप्त आवेदनों के साथ-साथ पेपर कंटिग पर अब तक संबंधित विभागों के अधिकारियों द्वारा की गई कार्यवाहियों की बिन्दुवार जानकारियां प्रस्तुत की गई। कलेक्टेªट के सभाकक्ष में हुई इस बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्री दीपक आर्य, अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा समेत विभिन्न विभागों के जिलाधिकारी मौजूद थे।

परख वीडियो कांफ्रेसिंग गुरूवार को

मुख्य सचिव केे द्वारा परख वीडियो कांफ्रेसिंग में संलग्न एजेण्डा बिन्दु पर समीक्षा की जाएगी। कलेक्टर श्री सुचारी ने बताया कि परख वीडियो कांफ्रेसिंग 15 फरवरी गुरूवार की प्रातः 11 बजे से आयोजित की गई है। उन्होंने संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए कि विभागीय समुचित जानकारी एजेण्डा अनुसार हार्ड काॅपी के साथ समयावधि में उपस्थित हो। 

जनसुनवाई में 80 आवेदन प्राप्त हुए

vidisha news
कलेक्टर श्री अनिल सुचारी के द्वारा आज मंगलवार को आहूत की गई जनसुनवाई कार्यक्रम में 80 आवेदकों ने आवेदन प्रस्तुत कर अपनी व्यक्तिगत और सार्वजनिक समस्याओं की ओर ध्यान आकर्षित कराया। कलेक्टर श्री सुचारी के द्वारा मौके पर अधिकांश आवेदनों का निराकरण किया गया है लंबित आवेदनों पर समय सीमा मंे कार्यवाही कर निराकरण की जानकारी बेवपोर्टल पर अंकित करने के भी निर्देश उनके द्वारा दिए गए है। जिला पंचायत के सभागार कक्ष में अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा, एसडीएम श्री रविशंकर राय, समेत अन्य विभागोें के अधिकारीगण पंक्तिबद्व-रो में बैठकर आवेदकों सेे आवेदन प्राप्त कर निराकृत करने की कार्यवाही की गई है।  आज हुई जनसुनवाई कार्यक्रम अधिकांश आवेदन ओलावृष्टि से हुई क्षति के एवज में सहायता राशि दिलाए जाने के प्राप्त हुए थे। इसके अलावा बीपीएल सूची में नाम दर्ज करने, आवास उपलब्ध कराने, फसल बीमा की राशि दिलाए जाने तथा वृद्वावस्था पेंशन की राशि प्राप्त नही होने की शिकायतेें प्राप्त हुई थी इनमें से अधिकांश आवेदनों का निराकरण मौके पर किया गया है। 

सहायक ग्रेड दो निलंबित

कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने शासकीय कार्यो में लापरवाही बरतने पर जिला योजना कार्यालय के तत्कालीन सहायक ग्रेड-दो श्री संतोष महस्के को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के आदेश जारी कर दिए है। निलंबन अवधि में श्री महस्के का मुख्यालय तहसील कार्यालय बासौदा नियत किया गया है और उन्हें नियमानुसार निर्वाह भत्ता देय होगा। जारी आदेश में उल्लेख है कि श्री संतोष महस्के के द्वारा जनभागीदारी, विधायक स्वेच्छानिधि, सांसदनिधि की किश्तों के भुगतान देयकों को लंबित रखने, इसी प्रकार कार्यालयीन अधिकारी, कर्मचारियों के वेतन देयक समय पर तैयार कर प्रस्तुत नही करने के अलावा सांसदनिधि के आकस्मिक व्यय प्रशासनिक व्यय के देयकों का पिछले छह वर्षो में बगैर अद्योहस्ताक्षर के अनुमोदन की राशि छह लाख का भुगतान किया गया है जो गंभीर वित्तीय अनियमितता की श्रेणी में आता है। भुगतान संबंधी नस्ती को प्रस्तुत करने के निर्देश बार-बार देने के बावजूद प्रस्तुत नही करने तथा पदोन्नति के उपरांत नवीन पदस्थापना पर उपस्थित होने हेतु प्रभार सौंपे जाने के निर्देशों का पालन उनके द्वारा नही करने पर उक्त कार्यवाही की गई है। 

हितग्राहियों को आवास का लाभ दिया जाएगा

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के अंतर्गत वर्ष 2017-18 के शेष लक्ष्य और वर्ष 2018-19 के लिए आवंटित किए जा चुके आवास एसईसीसी-2011 के आधार पर तैयार प्राथमिकता सूची के क्रमानुसार हितग्राहियों को आवास प्रदाय किए जाएंगे। जिला पंचायत सीईओ श्री दीपक आर्य ने एसईसीसी के नवीन जारी दिशा निर्देशोें का उल्लेख करते हुए बताया कि अब ग्राम पंचायत मंें निवासरत व्यक्ति ग्राम पंचायत में सम्पर्क कर प्राथमिकता सूची में अपना नाम देखने के उपरांत दर्ज होने की स्थिति से अवगत हो सकेंगे। हितग्राही के नाम दर्ज होने की दशा में आवश्यक दस्तावेंज पंजीयन हेतु ग्राम पंचायत सचिव के पास जमा किए जाएंगे। यदि ग्राम पंचायत भवन पर एसईसीसी-2011 के आधार पर तैयार प्राथमिकता सूची चस्पा नही की गई है तो सचिव, ग्राम रोजगार सहायक द्वारा प्राथमिकता सूची का अवलोकन ना कराने, आवास हेतु आवेदन, दस्तावेंज ना लेने या अन्य किसी व्यक्ति के द्वारा हितग्राही को भ्रमित किया जाता है या राशि की मांग की जाती है तो हितग्राही अविलम्ब जिला पंचायत के दूरभाष क्रमांक 07592-233390 पर सीधे अवगत करा सकते है।

इनाम की उद्घोषणा

पुलिस अधीक्षक श्री विनीत कपूर ने थाना शमशाबाद में दर्ज प्रकरण के फरार आरोपी की सूचना देने अथवा गिरफ्तारी कराने में मदद करने वाले के लिए इनाम तीन हजार रूपए की राशि देने घोषणा की है। थाना शमशाबाद के फरार आरोपी राजमोहन पुत्र रघुवीर निवासी बरूआखार के विरूद्व उच्च न्यायालय ग्वालियर में आपराधिक अपील क्रमांक 318/2014 विचाराधी है। उक्त आरोपी की कोई सूचना अथवा गिरफ्तारी में मदद करने वाले के लिए तीन रूपए का इनाम घोषित किया गया है सूचना देने वाला व्यक्ति चाहे तो उसका नाम गोपनीय रखा जाएगा।

प्रवेश चयन परीक्षा 21 अपै्रल को

जवाहर नवोदय विद्यालय शमशाबाद के प्राचार्य ने बताया कि संस्थान में कक्षा छटवीं के लिए प्रवेश चयन परीक्षा 21 अपै्रल शनिवार को आयोजित की गई है। इस संबंध में अन्य विस्तृत जानकारी के लिए जवाहर नवोदय विद्यालय शमशाबाद के दूरभाष क्रमांक 07595-259801 तथा 259804 तथा बेवसाइट ूूूण्दअेीुण्वतह  से प्राप्त की जा सकती है। 

प्रशिक्षणार्थियों से संवाद

ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान में विभिन्न टेªडोें में प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे और पूर्व में प्रशिक्षण प्राप्त करने के उपरांत सफल उद्यमियों से मंगलवार को एसबीआई के उप प्रबंधक निदेशक श्री नीरज व्यास ने संवाद स्थापित किया। श्री व्यास ने प्रशिक्षणार्थियों से कहा कि वे प्रशिक्षण को गंभीरता से लें और जो भी संकाए हो उसका समाधान अनिवार्यतः प्राप्त करें। उन्होंने व्यवसाय संचालन के संबंध में किन बातो का विशेष ध्यान रखा जाए से अवगत कराया। गोयल काम्प्लेक्स सागर रोड़ पर स्थित आरसेठी प्रशिक्षण संस्थान में इस दौरान श्री एसआर वर्धराजन, श्री डीसी अग्रवाल, श्री सोहन कुमार तथा लीड़ बैंक आफीसर श्री विजय गुप्ता के अलावा प्रशिक्षण संस्थान के निदेशक श्री राजबहादुर गोयल भी साथ मौजूद थे।

मधुमक्खी पालन का प्रशिक्षण

उद्यानिकी विभाग के द्वारा कुरवाई विकासखण्ड के ग्राम सीहोरा में एक दिवसीय मधुमक्खी पालन का प्रशिक्षण आयोजित किय गया था। कि जानकारी देते हुए विभाग के अधिकारी श्री केएल व्यास ने बताया कि मधुमक्खी कृषक प्रशिक्षण कार्यक्रम में आस-पास के कृषक भाईयों ने भी भाग लिया है। प्रशिक्षण के दौरान मधुमक्खी पालन से होने वाली आमदनी, पालन के लिए उद्यानिकी विभाग से दिया जाने वाला अनुदान और पालन के दौरान किन बातों का विशेष ध्यान रखा जाए कि विस्तृत जानकारी किसान भाईयों को दी गई है। प्रशिक्षणार्थियों को अवगत कराया गया कि मधुमक्खी पालन के लिए विभागीय योजनाओं के तहत हितग्राहियों को बैंको के माध्यम से ऋण मुहैया कराया जाता है।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...