काबुल में तालिबानी आतंकवादी हमले में 28 मरे, 320 घायल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 19 अप्रैल 2016

काबुल में तालिबानी आतंकवादी हमले में 28 मरे, 320 घायल

28-killed-320-injured-in-taliban-attack-in-kabul
काबुल, 19 अप्रैल, अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के मध्यवर्ती भाग के सुरक्षा कार्यालय पर आज तालिबान के आत्मघाती हमले तथा उसके बाद की गोलीबारी में 28 व्यक्तियों की मौत हो गयी और 320 लोग घायल हो गये । तालिबान ने यह हमला सवेरे के व्यस्त समय पर किया, जब सड़कों पर अधिक भीड़भाड़ रहती है। राष्ट्रपति अशरफ गनी ने तालिबान के इस हमले की कड़े शब्दों में निन्दा की है। यह हमला राष्ट्रपति भवन से कुछ सौ मीटर की दूरी पर किया गया । पुलिस प्रमुख अब्दुल रहमान रहीमी ने बताया कि हमले में मरने वाले तथा घायलों में सुरक्षा बलों के सदस्यों के अतिरिक्त नागरिक शामिल है। हमले की शुरूआत आत्मघाती कार बम विस्फोट से हुई और इसके बाद ही सुरक्षा बलों तथा तालिबान के बीच गोलीबारी शुरू हो गयी । यह जानकारी घटनास्थल के पास के प्रत्यक्षदर्शियों ने दी । 

तालिबान ने पश्तो भाषा की अपनी वेबसाइट पर बताया कि आत्मघाती कार बम हमलावर ने सुरक्षा कार्यालय के फाटक पर विस्फोट कर अपने आपको उड़ा लिया। इसके बाद ही और आत्मघाती हमलावर कार्यालय के भीतर घुस गये। तालिबान के प्रवक्ता जनीबुल्ला मुजाहिद ने बताया कि सुरक्षा भवन के भीतर हमलावरों तथा सुरक्षा बलों के बीच गोलीबारी हुई । तालिबान के दावे के बारे में तुरंत अधिकारियों से पुष्टि नहीं हो सकी । तालिबान अक्सर हमले के बाद अतिरंजित दावे करता रहा है। हमले के बाद घटनास्थल से गहरा काला धुआं निकलने लगा। विस्फोट के स्थान के पास ही अमेरिका का दूतावास स्थित है। इसके पास नाटो के रिजाल्युट सपोर्ट मिशन का मुख्यालय भी है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...