बिहार : चारू मजूमदार की शहादत दिवस पर सांप्रदायिक ताकतों को शिकस्त देने का संकल्प. - Live Aaryaavart

Breaking

शुक्रवार, 28 जुलाई 2017

बिहार : चारू मजूमदार की शहादत दिवस पर सांप्रदायिक ताकतों को शिकस्त देने का संकल्प.

cpi-ml-celebrate-charu-majumdar-mrtyers
पटना 28 जुलाई, भाकपा-माले के संस्थापक महासचिव काॅ. चारू मजूमदार की शहादत की 45 वीं बरसी पर आज राजधानी पटना सहित राज्य के विभिन्न हिस्सों में पार्टी सदस्यों की बैठक की गयी. मुख्य आयोजन पार्टी राज्य कार्यालय में आयोजित हुई. जहां सबसे पहले झंडोत्तोलन किया गया और काॅ. चारू मजूमदार सहित सभी शहीदों को श्रद्धांजलि दी गयी. झंडोत्तोलन पार्टी के वरिष्ठ कामरेड बृजबिहारी पांडेय ने किया. तत्पश्चात पार्टी सदस्यों की बैठक आंरभ हुई. सदस्यों को संबोधित करते हुए पार्टी के वरिष्ठ नेता काॅ. बृजबिहारी पांडेय ने कहा कि हमने हाल ही में महान नक्सलबाड़ी किसान विद्रोह की पचासवीं वर्षगांठ मनायी है. यह हमारे सदस्यों और क्रांतिकारी जनता का अदम्य साहस, बलिदान, अविचल समर्पण और अनथक मेहनत ही है जिसने इन पांच दशकों में तमाम विपरीत परिस्थितियों में पार्टी की रक्षा की और उसे मजबूत बनाया है.  उन्होंने आगे कहा कि आज हम जीवन के हरेक क्षेत्र में एक नाजुक परिस्थिति का सामना कर रहे हैं. एक ओर जहाँ सरकार की नीतियों के द्वारा जनता के अधिकारों का निषेध और लोगों की आजीविका एवं सामाजिक सुरक्षा पर बड़े-बड़े हमले हो रहे हैं, वहीं दूसरी ओर देश के संसाधनों की लूट बदस्तूर जारी है. मोदी सरकार एवं राज्य सरकारों, जिनमें ज्यानदातर भाजपा की सरकारें हैं, के नीतिगत हमलों के साथ-साथ समाज को जहरीले साम्प्रदायिक ध्रुवीकरण एवं ब्राह्मणवादी वर्चस्व की ओर धकेलने और देश को एक आक्रामक कम्पनी राज के अधीन करने का संघ-भाजपाई एजेण्डा चलाया जा रहा है. संक्षेप में, भारत में लोकतंत्र के सामने गम्भीघ्र फासीवादी खतरा मंडरा रहा है. पार्टी के पोलित ब्यूरो सदस्य रामजी राय ने कहा कि भारतीय जनता के क्रांतिकारी कम्युनिस्ट दस्ते के सदस्यों के रूप में इस फासीवादी हमले का अपनी पूरी ताकत से प्रतिरोध करना हमारी जिम्मेदारी है. आज जब देश में और अब बिहार में भी फासीवाद की ताकतों ने छल-बल से सत्ता हड़प लिया है, तो इस मोड़ पर अगर हम अपनी पहलकदमियों और संगठन को मजबूत बनाने की जरूरत है. निश्चंय ही हम आने वाले दिनों में कॉरपोरेट हमलों और साम्प्रदायिक फासीवादी साजिशों को परास्त करने एवं पूरे देश में अपने क्रांतिकारी उद्देश्यों का विस्तार करने में सफल होंगे. कार्यक्रम में इन नेताओं के अलावा ऐपवा की महासचिव काॅ. मीना तिवारी, राज्य अध्यक्ष सरोज चैबे, उमेश सिंह, संतलाल, प्रकाश कुमार, अभिनव, संतोष कुमार आर्या, संतन कुमार आदि उपस्थित थे. राजधानी पटना के विभिन्न इलाकों में भी चारू मजूमदार शहादत दिवस का आयोजन किया गया.

एक टिप्पणी भेजें
Loading...