लखनऊ : बाल उत्सव में बच्चों ने दिखाया हुनर - Live Aaryaavart

Breaking

बुधवार, 14 फ़रवरी 2018

लखनऊ : बाल उत्सव में बच्चों ने दिखाया हुनर

child-function-school-lucknow
लखनऊ (आर्यावर्त डेस्क) 14 फ़रवरी  । प्राथमिक विद्यालय लौलाई-2 मे बाल उत्सव कार्यक्रम का आयोजन विज्ञान फाउण्डेषन एवं नोवाटेल होटल के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में स्कूल के बच्चों ने विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया ।जिसमें विभिन्न प्रकार की गतिविधियां आयोजित की गयी। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर नोवाटेल के एच0 आर0 मैनेजर अभिषेक जी विज्ञान फाउण्डेषन के प्रतिनिधि रामायण यादव फिया फाउण्डेषन के उमाषंकर , विद्यालय प्रबन्धन समिति के सदस्य व ग्राम प्रधान तथा क्षेत्र पंचायत सदस्य सहित विद्यालय के 140 बच्चों ने प्रतिभाग किया। कार्यक्रम में सर्वप्रथम बच्चों ने सरस्वती वन्दना से कार्यक्रम की शुरुआत की इसके पष्चात अषिक्षा के मुद्दे पर नाटक की प्रस्तुति की गई जिसमें मुख्य रुप से षिक्षा के महत्व व अषिक्षा से जीवन में आने वाली रुकावटों के बारें में नाटक के माध्यम से बच्चों ने बतानें का प्रयास किया।  वहीं साफ-सफाई व स्वच्छता  से जुडे विषय पर बच्चों ने नाटक का मंचन किया । कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये नोवाटेल के एच0 आर0 मैनेजर अभिषेक जी ने कहा कि बच्चों को सीखने के लिये एक अच्छे माहौल व बेहतर विद्यालय की अवष्यकता होती है। उन्होनें बच्चों का उत्साह वर्धन करते हुये कहा कि हर बच्चें में काई न कोई हुनर छुपा होता है। बस जरुरत होती है उसको निखारने की और वह जिम्मेदारी विद्यालय की हो जाती है अगर षिक्षक व अभिभावक चाहे तो हर बच्चे की सीखने की प्रक्रिया में वृद्वि की जा सकती है।  विज्ञान फाउण्डषन के रामायण यादव ने कहा कि देष के संविधान में जिस प्रकार  हर व्यक्ति के अधिकारों की बात कही गयी जिसमें बच्चों के अधिकार भी शामिल है। इसलिये बच्चा किसी भी जाति धर्म सम्प्रदाय का हो उसको बेहतर षिक्षा प्राप्त करने का हक़ है इसी सोच के साथ उत्तर प्रदेष में षिक्षा का अधिकार कानून वर्ष 2009 में लागू किया गया। जिसकी नियमावली बनाकर 2011 में प्रदेष सरकार द्वारा लागू किया गया जिसमें जिसमें 6 से 14 वर्ष के सभी बच्चों के लिए निःषुल्क एवं अनिवार्य षिक्षा का प्रावधान है। 

विद्यालय के प्रधानाध्यापपिका ने कहा कि  भौतिक व्यवस्थाओं को जुटाने व मरम्मत कार्य करवानें में विज्ञान फाउण्डेषन व नोवाटेल होटल का जो सहयोग रहा है वह बहुत ही सराहनीय है इस तरह के प्रयासों से एक तरफ जहां विद्यालय में बच्चों को बेहतर भौतिक सुविधाएं मिल रही है वहीं दूसरी ओर षिक्षकों के सफल प्रयासों से गुणवत्तापूर्ण षिक्षा प्राप्त होगी जिससे बच्चों के उज्जवल भविष्य का निमार्ण करने में सहायता प्राप्त होगी। ग्राम प्रधान उमेष यादव ने कहा कि नोवाटेल होटल व विज्ञान फाउण्डेषन के प्रयास हमारे गांव के विद्यालय का विकास किया गया हम उसका आभार व्यक्त करते है तथा भविष्य में विद्यालय के बेहतर संचालन हेतु इस तरह के प्रयासों की अपेछा करते है। कार्यक्रम के अन्त में सांस्कृतिक कार्यक्रम में भाग लेने वाले 50 बच्चों को नोवाटेल की तरफ से पुरस्कृत किया गया। इस अवसर पर विद्यालय प्रबन्धन समिति के सदस्यों ने कार्यक्रम को सम्बोधित किया। विज्ञान फाउण्डेषन द्वारा शहर के अलग-अलग क्षेत्र में षिक्षा के अलावा बुनियादी सुविधओं जैसे स्वच्ड पेयजल, आवास, बिजली, सडक इत्यादि सुविधाए शहरी गरीबों तक पहुचे इस के लिए प्रयासरत रहता है।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...