बिहार : सांप्रदायिक हिंसा मामलों में 50 गिरफ्तार - Live Aaryaavart

Breaking

गुरुवार, 29 मार्च 2018

बिहार : सांप्रदायिक हिंसा मामलों में 50 गिरफ्तार

50-arrest-in-bihar-for-comunal-riots
समस्तीपुर/बिहारशरीफ, 29 मार्च, बिहार के नालंदा और समस्तीपुर जिले में पिछले दो दिनों के दौरान दो समुदाय के बीच झडप मामलों में भाजपा के दो कार्यकर्ताओं सहित 50 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। समस्तीपुर जिला के रोसडा बाजार में गत 27 मार्च को चैती दुर्गा पूजा के अवसर पर दो समुदाय के बीच विवाद के बाद पथराव और आगजनी में तीन मोटरसाइकिल जलकर खाक हो गयी। समस्तीपुर के पुलिस अधीक्षक दीपक रंजन ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज के आधार पर शरारती तत्वों की पहचान की जा रही है। अब तक 11 लोगों को पूछताछ के लिए थाना लाया गया है। इसमें दो भाजपा के स्थानीय नेता हैं। पूछताछ के लिए थाना लाये गये लोगों का नाम नहीं बताया गया है। रोसडा बाजार में किसी के प्रवेश रोक लगा दिया गया है । मां दुर्गा की प्रतिमा के विसर्जन करने को ले जा रहे प्रतिमा पर एक समुदाय के कुछ शरारती तत्वों द्वारा चप्पल फेंकने के बाद दूसरे समुदाय के लोगों ने रोसडा बाजार स्थित एक समुदाय के धर्मस्थल मस्जिद पर पथराव किया तथा तीन मोटरसाइकिल में आग लगा दी। घटना की सूचना मिलने पर ​स्थिति को नियंत्रित करने के लिए वहां पहुंचे दलसिंहसराय अनुमंडल पुलिस अधिकारी संतोष कुमार और समस्तीपुर नगर इंस्पेक्टर चतुर्वेदी सुधीर कुमार पथराव की चपेट आकर जख्मी हो गये। हालात पर काबू पाने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। दरभंगा प्रमंडल के आयुक्त, पुलिस महानिरीक्षक, उपमहानिरीक्षक और समस्तीपुर के जिलाधिकारी प्रणव कुमार ने अतिरिक्त बल के साथ घटनास्थल पहुंचकर हालात को काबू में किया। जिलाधिकारी प्रणव कुमार ने बताया कि स्थिति नियंत्रण को अब नियंत्रण में बताते हुए कहा कि पुलिस गश्त जारी है। पूरे रोसडा शहर में धारा 144 लगा दी गयी है और पूरे जिला में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गयी है। नालंदा जिला के सिलाव में कल हुए हिंसक झड़प के बाद पुलिस ने अब तक 36 लोगों को गिरफ्तार किया है जिनमें 2 महिलाएं शामिल हैं। गत बुधवार को रामनवमी जुलूस के दौरान रास्ते को लेकर उत्पन्न विवाद के दौरान बाद दो पक्षों में हिंसक झड़प में दोनों ओर से किए गए पथराव में पुलिसकर्मी समेत दो दर्जन से अधिक लोग जख्मी हो गये थे। पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार पोरिका ने बताया कि इस मामले में सिलाव थाना में प्राथमिकी भी दर्ज करायी गयी है जिसमें 74 नामजद अभियुक्त बनाये गये हैं जबकि 1700 अज्ञात के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज की गयी है। इस मामले में गिरफ्तार किए गए सभी लोगों को पुलिस ने जेल भेज दिया है।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...