बिहार : ईसाई समुदाय से उभरते नेता राजन क्लेमेंट साह पर हमला - Live Aaryaavart

Breaking

शुक्रवार, 27 अप्रैल 2018

बिहार : ईसाई समुदाय से उभरते नेता राजन क्लेमेंट साह पर हमला

  • बुर्जुग दीघा  में रहने वाले हमलावर धर्मेंद्र यादव पर एफ.आई.आर.दर्ज

attack-on-christian-leader-patna
पटना. धर्मसंकट में हैं बी .जे.पी.के विधायक डॉ.संजीव चौरसिया. क्षेत्रीय मंडल के अध्यक्ष हैं धर्मेंद्र यादव. दूसरी ओर राजन क्लेमेंट साह हैं प्रदेश मंत्री, अल्पसंख्यक मोर्चा,बीजेपी के हैं.धर्मेंद्र यादव ने राजन क्लेमेंट साह पर हमला कर दिया है.दोनों बीजेपी से ही है इसको लेकर विधायक चौरसिया मौनधारण कर लिये हैं. सूत्रों का कहना है कि दोनों भाजपाई में वर्चस्व की लड़ाई है.कहते हैं कि खुद को क्षेत्रीय पार्टी के दादा समझ लिये हैं मंडल अध्यक्ष.इसके आलोक में नवान्तुक उदयीमान अल्पसंख्यक ईसाइयों के नेता राजन पर दादागीरी दिखाने लगे. अपने कार्यकुशलता के बल पर राजन ने बीजेपी विधायक फंड से कुर्जी कब्रिस्तान की चहारदीवारी निर्माण कार्य करवा रहे हैं. समझा जाता है कि दलाल किस्म के लोगों को कब्रिस्तान की ठेकेदारी नहीं देने से लोग बौखला गये थे. ईसाई समुदाय व मिशन पर हाबी होने की रणनीति पर धर्मेंद्र यादव ने राजन क्लेमेंट पर जोरदार हमला कर दिया.मामला दीद्या थाना तक जा पहुंचा.हमला करने वाले पर एफ.आई.आर. दर्ज हो गया है.इसमें धर्मेंद्र यादव को नामदर्ज हमलावर करार दिया है. इस विधायक मौनधारण कर लिये हैं. वहीं ईसाई समुदाय में आक्रोश हैं कि देश के वर्तमान स्थिति के विपरित क्रिश्चियन होकर बीजेपी का दामन थामा है.बहुत ही कम दिनों में बीजेपी व ईसाई समुदाय का दिल जीत लिया है. सबका साथ सबका विकास हो को लेकर 24 द्यंटे कार्यशील हैं.राजन को सुरक्षा प्रदान करने की मांग जा रही है. इस संदर्भ में इग्नासियुस फिलिप लिखते हैं कि  मिशनरी पादरियों/धर्म बहनों पर जब जब मुसीबतें आई उन्होंने सभी इसाई समुदाय को आवाज़ दी।हम सब भी उनके साथ खड़े हुए जुलूस मे भी शामिल हुए।और जब किसी ईसाई भाई/बहन की समस्या आई तो यही मिशनरी बगलें क्यों झाँकने लगते हैं?
एक टिप्पणी भेजें
Loading...