झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 29 अप्रैल - Live Aaryaavart

Breaking

सोमवार, 30 अप्रैल 2018

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 29 अप्रैल

राष्ट्र के गौरव महाराणा प्रतापजी के जीवन पर हुए व्याख्यान
  • आरोग्य भारती शाखा झाबुआ द्वारा किया गया आयोजन

jhabua news
झाबुआ। आरोग्य भारती शाखा झाबुआ द्वारा स्थानीय केषव इंटरनेषनल स्कूल के प्रांगण में रात्रि 8 से 10 बजे तक ‘महाराणा प्रतापतजी की गौरव गाथा’ विषय पर व्याख्यान का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य वक्ता के रूप में विष्व हिन्दू परिषद् के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हुकुमचंद सावला उपस्थित थे। वहीं मुख्य अतिथि के रूप में थांदला विद्यालय के वरिष्ठ प्राध्यापक डाॅ. बंसीलाल डावर मौजूद थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता डाॅ. चारूलता दवे ने की। कार्यक्रम का शुभारंभ भारत माता एवं महाराणा प्रतापजी के चित्र पर माल्र्यापण एवं दीप प्रज्जवलन कर मुख्य वक्ता एवं अन्य अतिथियों द्वारा किया गया। पश्चात् मुख्य वक्ता श्री सावला का पुष्पामाला पहनाकर स्वागत आरोग्य भारती शाखा के सदस्यों द्वारा किया गया। डाॅ. बंसीलाल डावर का स्वागत रोटरी क्लब आजाद एवं हनुमान टेकरी सेवा समिति के सदस्यों ने किया। डाॅ. चारूलता दवे का स्वागत पुष्प गुच्छ भेंटकर नारी स्त्री संगठन की प्रदेष उपाध्यक्ष श्रीमती किरण शर्मा एवं सांत्वना ग्रुप की प्रमुख श्रीमती सुषमा दुबे द्वारा किया गया।

महाराणा प्रतापजी का इतिहास पूरे देष के लिए गौरवषाली है
पश्चात् अपने व्यख्यान देते हुए विहिप के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री सावला ने कहा कि महाराणा प्रतापजी का इतिहास पूरे देष के लिए गौरवषाली है। इस दौरान उन्होंने चित्तौड़गढ़ में हुए हल्दी घाटी वाले युद्ध का वर्णन किया एवं कहा कि महाराणा प्रतातजी ने अपने शोर्य एवं साहस के बल पर युद्ध जीता, वे शूरवीर थे। व्याख्यान करीब 2 घंटे तक चले। कार्यक्रम का संचालन आयोजन के सूत्रधार डाॅ. वैभव सुराना ने किया एवं अंत में आभार सकल व्यापारी संघ के सह-सचिव पंकज जैन मोगरा ने माना। इस अवसर पर केषव इंटरनेषनल स्कूल के संचालक ओम शर्मा, मयंक रूनवाल, प्रवीण सुराना, राजेन्द्र यादव सहित बड़ी संख्या में शहर के गणमान्य महिला-पुरूष उपस्थित थे।

युवा नौकरी करने वाले नही, नौकरी देने वाले बने- भुजबलसिंह अहिरवाल
  • अजा एवं वित विकास निगम के उपाध्यक्ष का भाजपा ने किया आत्मीय स्वागत
  • विभाग की अजा वर्ग हितैषी योजनाओं की विस्तार से जानकारी दी

jhabua news
झाबुआ । मध्यप्रदेश राज्य सहकारी अनुसूचित जाति एवं वित विकास विकास निगम के राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त उपाध्यक्ष भुजबलसिंह अहिरवाल दो दिवसीय प्रवास पर झाबुआ  आने पर स्थानीय सर्कीट हाउस पर रविवार को भारतीय जनता पार्टी की ओर से भाजपा नेता प्रवीण सुराणा के नेतृत्व में प्रदेश स्वच्छता प्रभारी कल्याणसिंह डामोर, जिला मीडिया प्रभारी राजेन्द्रकुमार सोनी, नाना राठौर , बबलु सकलेचा, इरशादकुर्रेशी सहित बडी संख्या में भाजपाई कार्यकर्ताओं ने उनका पुष्पमाला पहिना कर स्वागत किया । इस अवसर पर विभागीय अधिकारी अजय रामावत विशेष रूप  से उपस्थित थे । कार्यकर्ताओं से चर्चा के दौरान श्री अहिरवाल ने बताया कि प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चैहान अजा वर्ग के युवाओ ं के साथ ही समग्र समाज के आर्थिक उत्थान के लिये मध्यप्रदेश राज्य सहकारी अनुसूचित जाति वित एवं विकास निगम द्वारा  मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना के तहत इस वर्ग के 10 वी कक्षा उत्तीर्ण 40 वर्ष आयुतक के  युवाओं को 10 लाख से अधिकतम 1 करोड तक की राशि ऋण के रूप् में बेंको के माध्यम से दी जारही है इस रकम का 15 प्रतिशत अधिकतम रूपये 12 लाख मार्जिन मनी देय होकर ऋण के ब्याज पर 5 प्रतिशत की दर से 7 साल के ब्याज अनुदान दिया जावेगा  वही मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना में 5 वी कक्षा उत्तीर्ण 45 साल तक के युवाओं को 50 हजार से 10 लाख रूपये तक का लोन 30 प्रतिशत अधिकतम 2 लाख मार्जिन मनी देय है तथा 5 प्रतिशत की दर से 7 वर्शो तक ब्याज अनुदान दिया जारहा है वही मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना में 55 वर्ष तक के बेरोजगारों को 50 हजारा तक बैंकों के माध्यम से ऋण दिया जाकर 15 हजार का अनुदान प्रदेश सरकार दे रही है, वही इस वर्ग की महिलाओं के लिये सावित्रीबाई फुले स्वसहायता समूह योजना के अजा वर्ग की गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाली महिलाओं के समुह जिनकी आयु 55 वर्ष होकर बेरोजगार है को प्रति सदस्य 2 लाख तक का बैंकों से ऋण तथा 15 हजार तक प्रति सदस्य अनुदान लघु उद्या ेग एवं फुटकर व्यवसाय के लिये दिया जारहा है । वही मुख्यमंत्री कौशल उन्नयन प्रशिक्षण योजना में भी अजा वर्ग के बेरोजगार युवाओ ं जिनकी अधिकतम आयु 35 साल हो को प्रतिमाह 1 हजार की छात्रवृति देय है तथा हास्पीटिलीटी, नर्सिग असिस्टेंट, गारमेंट , टीवी रिपेरिंग, मैकेनिक, विडियोग्राफी, एम्बा्रयडरी फैशन डिजायनिंग सहित कई प्रशिक्षण ट्रेड जिसमें प्लेसमेंट की संभावना हो दिये जाने की व्यवस्था की है । श्री अहिरवाल ने बताया कि शिवराजसरकार ने गत वित्तिय वर्ष में 200 करोड की राशि के लक्ष्य के विरूद्ध एक करोड प्रति के मान से 164 लोगों को करोडपति बनाया गया है । इसमे झाबुआ जिले के उद्यमी सोहनलाल जाटव भी शामील है जिन्हे लेदर बेग व्यवसाय के लिये 25 लाख की सहायता उद्यमी विकास के लिये दी गई है । चालू वित्तिय वर्ष के लिये प्रदेश सरकार ने इस बजट को दुगुना कर 400 रूपये का वित्तिय प्रावधान किया गया है और हमारा प्रयास है कि दिसम्बर अंत तक इस लक्ष्य को पूरा करने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिये गये हे । भुजबलसिंह ने आगे बताया कि शिक्षित एवं अशिक्षित अजा वर्ग की महिलाओं की सुविधा के लिये ऐसी व्यवस्था की गई ह ै कि अब इन्हे बैंकों एवं कार्यालयों के चक्कर नही काटना पडेगें और उनके आवेदन जिला अन्त्योदय कार्यालयों मे आन लाईन दर्ज होकर पात्रताधारी महिलाओं को मोबाईल से सूचना देकर तत्काल 50 हजार की रकम घरू उद्योगों के लिये दी जावेगी । श्री अहिरवाल ने बतराया कि पिछले वर्ष 200 करोड के लक्ष्य की जगह इस वर्ष शिवराजसिंह चैहान सरकार ने अन्तिम व्यक्ति तक के विकास के लिये बजट को बढा कर 400 करोड कर दिया जिससे बेरोजगारी से मुक्त होकर युवा नौकरी करने वाले नही नौकरी देने वाले बन सकेगें । उन्होने कहा कि सभी योजनाओं को 3 माह में लक्ष्य पूर्ण करने की निर्देश जारी कर दिये गये है।

साज रंग झाबुआ का रंग संस्कार षिविर 7 मई से आयोजन को लेकर महत्वपूर्ण बैठक हुइ्र्र

jhabua news
झाबुआ। झाबुआ जिले की एकमात्र पंजीकृत संस्था साज रंग झाबुआ द्वारा 7 मई से शहर एवं उसके आसपास के क्षेत्रों के बाल प्रतिभावान बच्चों के लिए रंग संस्कार षिविर का आयोजन किया जाएगा। उक्त षिविर को भव्य स्तर पर किए जाने हेतु संस्था के थांदला स्थित एकलव्य संस्कृति भवन में महत्वपूर्ण बैठक आयोजित हुई। जिसमें संस्था के समस्त पदाधिकारी, वरिष्ठ रंगकर्मी एवं सदस्यगण उपस्थित थे। बैठक में संस्था के कार्यकारी अध्यक्ष कमलेष पटेल एवं सचिव दर्षन शुक्ला ने बताया कि संस्था विगत 20-22 वर्षों से रंग षिविर का आयोजन कर ‘रंग संस्कार’ की परंपरा को सत्त बढ़ाती चली आ रहीं है। इस संस्था ने निरंतर बाल कलाकारों में उनकी प्रतिभाओं को निखारने का कार्य किया है। संस्था का मुख्य उद्देष्य है कि ऐस प्रतिभाओं को मंच प्रदान करना, जो छुपी हुई है, जिन्हें किसी कारणवष अपने घर एवं स्कूलों में उचित मंच नहीं मिल पाता है। संस्था के वरिष्ठ रंगकर्मी शैलेन्द्रसिंह राठौर एवं भरत व्यास ने जानकारी दी कि रंग षिविर में नाटक, संगीत, लोक संस्कृति से जुड़े नृत्य और चित्रकला जैसी विधाएं आयोजित की जाएगी।

अनुभवी कलाकार देंगे प्रषिक्षण
संस्था अध्यक्ष धर्मेन्द्र मालवीय ने कहा कि षिविर में अलग-अलग विद्याओं से जुड़े अनुभवी, पुरस्कृत कलाकार उन विधााओं का बाल कलाकारों को प्रषिक्षण देंगे, इसके लिए संस्था के समस्त कलाकार कटिबद्ध है। षिविर में हिस्सा लेने के लिए फार्म मयंक हेंडीक्राफट पर कमलेष पटेल, पटेल गिफट हाऊस पर पियूष पटेल के साथ साज रंग संस्था पर भी शाम 7 बजे बाद मुकेष बुंदेला एवं यग्नेष मालवीय से प्राप्त किए जा सकते है।

ये थे उपस्थित
बैठक में संस्था के संरक्षक यषवंत भंडारी, मनीष व्यास, के साथ पदाधिकारियो में राजेष मिश्रा, पियूष पटेल, रघुवीरसिंह चैहान, अनिल मकवाना, शाकिर कुरैषी, मुकेष बुदंेला, यग्नेष मालवीय, अभिषेक निनामा आदि विषेष रूप से उपस्थित थे। बैठक के अंत में आभार सचिव दर्षन शुक्ला ने माना।

लोकरंग की मस्ती की पाठशाला 1 मई से, कलाविधाओं के साथ कई रचनात्मक गतिविधियां होंगी संचालित 

झाबुआ । संस्था लोकरंग की  मस्ती की पाठशाला 1 मई से शुरू होने जा रही है । जिसमें आप अपनी रूचि को थोड़ा और निखार कर नई पहचान पा सकते हैं । आपका लगाव संगीत से है, नाटक में आपकी रूचि है, डांस आपके मन को भाता है, किस्से कहानियां आपको प्रेरित करती है, लेकिन आपने अपने शौक स्वयं तक सीमित कर रखा है तो आपके पास मौका है इस छुपी हुई प्रतिभा को विस्तार देने और कुछ नया सीखने का । अपनी प्रतिभा को दुनिया के सामने लाने का । जिले की सांस्कृतिक, साहित्यिक, सामाजिक संस्था लोकरंग 20 दिवसीय समर कैंप का आयोजन 1 मई से कर रही है । जिसमें आप अपनी रूचि को एक नई उड़ान दे सकते हैं । आपके शौक को नई परवाज मिल सकती है ।  20 मई तक चलने वाली इस कला और रचनात्मक गतिविधियों की वर्कशॉप में संगीत, नृत्य,चित्रकला, हस्तशिल्पकला,नाटक, कलाविधाओं के साथ-साथ व्यक्ति विकास की कक्षाओं का भी संचालन किया जाएगा । शहर के जाने-माने कलाकार इस वर्कशॉप में प्रशिक्षुओं को अलग-अलग विधाओं का प्रशिक्षण देंगे । समर कैंप का संचालन बाबेल कपाउंड स्थित लोकरंग के कार्यालय पर होगा । समर कैंप का समय सुबह 7.30 से सुबह 10 बजे तक रहेगा । संस्था के आशीष पांडे ने बताया कि पिछले कुछ सालों में नृत्य को लेकर काफी उत्साह का माहौल है, काफी  युवाओं की रूचि इसमें रहती है । समर कैंप में  वेस्टर्न डांस के साथ-साथ लोकनृत्य, भारतीय नृत्य और बॉलीवुड नृत्य का प्रशिक्षण दिया जाएगा ।  वहीं संगीत कक्षाओं में गायन और वादन का प्रशिक्षण दिया जाएगा । वादन का प्रशिक्षण जिले के  ख्यातिनाम गिटारिस्ट विकास पांडे देंगे जबिक गायन का प्रशिक्षण देश-प्रदेश कई मंचों पर अपनी कामयाबी का परचम लहरा चुकी और  प्रदेश स्तर पर कई सिंगिग प्रतियोगिता अपने नाम कर चुकी निधि सारोलकर देंगी । हस्तशिल्प कला और चित्रकला का प्रशिक्षण जिले की उभरती हुई कलाकारा भूमिका माहेश्वरी देंगी ।  भूमिका समर कैंप में भाग लेने वाली प्रशिक्षुओं को लोककला और समकालीन कला से भी रूबरू करवाएंगी । समर कैंप में अभिनय और नाटक की बारिकियों भी सीखाया जाएगा ।  समर कैंप में व्यक्तित्व विकास और सम-सामायिक विषयों की कक्षा भी होगी । संस्था के वैभव परमार प्रशिक्षुओं के साथ रोचक विषयों पर जानकारी साझा करेंगे ।  इसके साथ ही समर कैंप के दौरान कम्यूनिकेशन और मॉस मीडिया को लेकर विशेष तौर कक्षाएं संचालिक की जाएंगी । जिसमें शार्ट फिल्म, नाटक , स्ट्रीट प्ले, फिल्म, वृत्त चित्र, स्क्रिप्ट राइटिंग, आदि से प्रशिक्षुओं को रूबरू करवाया जाएगा । साथ ही प्रशिक्षण के प्रशिक्षुओं के साथ मिलकर  उपरांत शार्ट फिल्म का निर्माण भी किया जाएगा । संस्था के प्रवेश उपाध्याय के मुताबिक 1 मई से शुरू होने वाले समर कैंप के लिए सारी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं । कला और रचनात्मकता की इस पाठशाला से शहर में  कई प्रतिभाएं उभर कर सामने आएंगी । जिन्हें संस्था के माध्यम से समय-समय पर मंच उपलब्ध करवाया जाएगा । लोकरंग के दीपक दोहरे ने बताया कि 20 दिनों में किसी को संपूर्ण कलाकार नहीं बनाया जा सकता है, लेकिन इन 20  दिनों में प्रशिक्षु की रूचि और प्रतिभा को पहचानकर सही दिशा दी जा सकती है । समर कैंप के बाद इन्हीं नवोदित प्रतिभाओं को तराशने के लिए सालभर नियमित कक्षाएं आयोजित की जाती है । सालभर प्रदेश भर में होने वाली अलग-अलग प्रतियोगिताओं में संस्था के कलाकारों ने भाग लेकर कामयाबी हासिल की है । समर कैंप की अधिक जानकारी के लिए संस्था कार्यालय बाबेल कम्पाउंड, आरएसएस कार्यालय के पास  संपर्क किया जा सकता है ।

न्यूयाॅर्क अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला 30 जून से 2 जुलाई तक

झाबुआ । सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम इकाईयों एवं मुख्यमंत्री युवा उघमी योजना तथा मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के तहत लाभांवित इकाईयों एवं अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति वर्ग की इकाईयों उत्पादों के अंतर्राष्ट्रीय चयन मेले में भाग लेने हेतु आवेदन करें। मध्यप्रदेश की सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम इकाईयों एवं मुख्यमंत्री युवा उघमी योजना तथा मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के तहत लाभांवित इकाईयों एवं अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति वर्ग की इकाईयों को सूचित किया जाता हैं कि मध्यप्रदेश लघु उघोग निगम द्वारा भारत सरकार एवं मध्यप्रदेश स्टेट फेयर अथाॅरिटी के सहयोग से समर फेन्सी फूड शो न्यूयाॅर्क अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला 30 जून से 2 जुलाई तक प्रस्तावित है। चयनित मध्यप्रदेश की एमएसएमई, मुख्यमंत्री युवा उघमी तथा मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के तहत लाभांवित इकाईयों एवं अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति वर्ग की इकाईयों को नियमानुसार स्पेस रेंट एवं हवाई यात्रा किराया दिया जाएगा। प्रदेश में पंजीकृत ऐसी इकाइयां जो विगत 3 वर्षों से व्यवसाय कर रही है तथा जिनके पास कोड हैं  वे उपरोक्त मेले हेतु आवेदन कर सकती हैं। इकाइयों का चयन उनके उत्पादों के लिए मेले की उपयोगिता तथा उपर्युक्तता के आधार पर किया जाएगा। आवेदन हेतु प्रोसेसिंग फीस के रुप मे रु. 15000/- का भोपाल में देय डिमाण्ड-ड्राफ्ट “मध्यप्रदेश टेªड फेयर अथाॅरिटी“ के नाम से तैयार कर उपरोक्त पते पर प्रेषित करें। मुख्यमंत्री युवा उघमी योजना तथा मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के तहत लाभांवित इकाईयों एवं अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति वर्ग की इकाईयों, जो उघोगों आधार मेमोरेण्डम, के रुप में पंजीकृत हैं तथा जिनके उत्पाद निर्यात योग्य है एवं जिनके पास प्म्ब् कोड हैं  वे उपरोक्त मेले हेतु आवेदन कर सकती हैं। इकाइयों का चयन उनके उत्पादों के लिए मेले की उपयोगिता तथा उपर्युक्तता के आधार पर किया जाएगा। आवेदन हेतु प्रोसेसिंग फीस के रुप मे रु. 1000/- का भोपाल में देय डिमाण्ड-ड्राफ्ट “मध्यप्रदेश टेªड फेयर अथाॅरिटी“ के नाम से तैयार कर उपरोक्त पते पर प्रेषित करें। अचयनित इकाइयों की राशि वापस कर दी जायेगी।

पर्वत आंजना को मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना मे 30 हजार मिले
     
jhabua news
झाबुआ । राज्य शासन द्वारा की पहल पर लागू की गयी मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना का झाबुआ जिले में प्रभावी क्रियान्वयन किया जा रहा है। यह योजना किसानों के लिये अपार खुशियां लायी है। जिले के किसान पर्वत आंजना निवासी करडावद ब्लांक पेटलावद जिला झाबुआ को प्रोत्साहन राशि मिलने से बेहद खुशी मिली है। हॉल ही में राज्य शासन द्वारा लागू की गई मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना के तहत झाबुआ जिले में 4 हजार 444 किसानों को जिन्होंने गत रबी में समर्थन मूल्य पर गेहूं बेचा था, उन्हें 200 प्रति क्विंटल के मान से 5 करोड 28 लाख रूपये से अधिक की राशि प्रोत्साहन स्वरूप दी गयी है। यह राशि उनके बैंक खाते में जमा करायी गई। इन्हीं लाभान्वित किसानों में से एक है झाबुआ जिले केे ग्राम करडावद में रहने वाले पर्वत आंजना जिनको 30 हजार रूपये प्रोत्साहन राशि मिली प्रोत्साहन राशि मिलने से वे बेहद खुश है। उनहोने मुख्यमंत्रीजी के प्रति आभार व्यक्त किया है। पर्वत आंजना ने बताया कि प्रोत्साहन राशि मिलने से हमें खेती में बेहद लाभ होगा। प्रोत्साहन राशि का उपयोग हम अपने खेती व्यवसाय को उन्नत बनाने में करेंगे। राशि का उपयोग खाद, बीज सहित अन्य कृषि आदानों को खरीदने में करेंगे। खेत में सिंचाई के साधन बढायेगे अच्छे खाद-बीज खरीदेंगे तो हमें अच्छा उत्पादन और बेहतर उत्पादकता मिलेगी। इससे हमारी आर्थिक स्थिति में सुधार होगा।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...