झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 17 मई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 17 मई 2018

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 17 मई

जिलेभर के  1345 किसानों को किसान यात्रा में सम्मान किया गया
  • भाजपा किसान मोर्चे की समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन

sehore news
झाबुआ । प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के निर्देशानुसार 5 अप्रेल 15 अप्रेल तक निकाली गई किसान सम्मान यात्रा के तहत झाबुआ जिले में भी भाजपा किसान मोर्चे की अगुआई में जिले की सभी ग्राम पंचायतों में निकाली गई किसान सम्मान यात्रा का गा्रमीण अंचलों में व्यापक स्वागत हुआ तथा गा्रमीणजनों ने केन्द्र एवं प्रदेश सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओ ं की जानकारी प्राप्त की । 5 से  15 अप्रेल तक निकाली गई जिले भर की गा्रम पंचायतों में किसान सम्मान यात्रा को लेकर प्रदेश के प्रत्येक जिले में 17 मई को समीक्षा करने के निर्देश के परिपालन में जिला भाजपा कार्यालय पर किसान मोर्चे के जिला अध्यक्ष छगनलाल जायसवाल एवं जिला प्रभारी फकीरचंद राठौर की उपस्थिति मे भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्य समिति के सदस्य शैलेष दुबे एवं भाजपा कार्यालय मंत्री महेन्द्र तिवारी द्वारा जिले की तीनों विधानसभाओं के 17 भाजपा मंडलों की विस्तृत जानकारी छाया चित्रों सहित प्राप्त की । समीक्षा बैठक में विधानसभावार किसान सम्मान यात्रा की समीक्षा के दौरान जिले के 1345 किसानों को यात्रा के दौरान सम्मानित किया गया । जिले भर में किसान यात्रा के दौरान पांच रथ किसान मोर्चे के बैनर तले गा्रम गा्रम में जाकर प्रचार-प्रसार कर सरकार की योजनाओं का लाभ हर व्यक्ति तक मिले इसके लिये वातावरण बनाया गया । यात्रा के दौरान सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओ भावांतर योजना, किसान कल्याण की सभी योजनाओं का साहित्य, पेंपलेट आदि का वितरण किया गया वही केलेण्डरों के वितरण के साथ ही किसान कल्याण के क्षेत्र में केन्द्र एवं प्रदेश सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई । समीक्षा बैठक के दौरान किसान मोर्चे के मंडलों द्वारा यात्रा में शामील हुए विशिष्ठ जनों, सरपंच, पंच, जन प्रतिनिधि, तडवियों एवं गणमान्यजनों की सूची भी समीक्षा बैठक के दौरान प्रस्तुत की गई । 5 से 15 अप्रेल तक चली किसान सम्मान यात्रा में जिले भर मे 5 स्थानो से यात्राऐं प्रारंभ होकर इसके माध्यम से विधानसभा क्षेत्र पेटलावद के रायपुरिया मंडल में 28, पेटलावद गा्रमीण मंडल में 32 किसान यात्राओं का आयोजन प्रभारी रमेश भाई गुर्जर के मार्गदर्शन में, थांदला विधानसभ में थांदला गा्रमीण की 46 गा्रम पंचायतों, मदरानी मंडल की 34 गा्रम पंचायतों, नौगांवा मंडल की 27 गा्रम पंचायतों में प्रभारी गणराज आचार्य एवं पुरूषोत्तम प्रजापति के मार्गदर्शन में तथा झाबुआ विधानसभा में प्रभारी प्रवीण सुराणा एवं बहादूर हटिला के मार्गदर्शन में गा्रमी मंडल झाबुआ की 25 गा्रम पंचायतों, कल्याणपुरा मंडल की 27 गा्रम पंचायतों, कुंदनपुर की 23 पंचायतों एवं रानापुर गा्रमीण की 24 गा्रम पंचायतों में कुल 214  गा्रम पंचायतों में गांव गांव तक किसान सम्मान यात्रायें सफलता पूर्वक आयोजित की गई जिसमें हजारों की संख्या में किसानों ने भी सहभागिता की । समीक्षा बैठक में संबोधित करते हुए भाजपा प्रदेश कार्य समिति के सदस्य शैलेष दुबे ने कहा कि किसानों के हित में किसान मोर्चे द्वारा आयोजित किसान सम्मान यात्रा की सफलता के लिये सभी के द्वारा पूरे मनोयोग के साथ कठोर परिश्रम करके सफलत बनाया है इसके लिये वे बधाई के पात्र है । श्री दुबे ने जिले के तीनों विधानसभा क्षेत्र के विधायक शांतिलाल बिलवाल झाबुआ, कलसिंह भाबर, थांदला एवं सुश्री निर्मला भूरिया का आभार प्रकट करते हुए कहा कि इनका मार्गदर्शन एवं भरपुर सहयोग मिलने के कारण किसान सम्मान यात्रा ने सफलता के कीर्तिमान को स्थापित किया है । समीक्षा बैठक में किसान मोर्चा जिलाध्यक्ष छगनलाल जायसवाल, यात्रा प्रभारी फकीरचन्द राठौर, अनोखीलाल प्रजापत, हरिराम पाटीदार, खुमानसिंह, मीठिया राठौर, लालिया परमार, सब्बू भूरिया, पण्डित महेन्द्र तिवारी, परमानन्द पाटीदार, विजिया भाबर, रमेश गुर्जर सहित जिले भर के मोर्चे के मंडल अध्यक्ष एवं महामंत्रीगणों ने भाग लिया ।

महिला सषक्तिकरण की दिषा में उज्ज्वला योजना से महिलाओं के चेहरों पर छाई खुषी-षांतिलाल बिलवाल
  • केन्द्र एवं प्रदेष सरकार की योजनाओं से सभी वर्गो का हुआ उत्थान- मनोहर सेठिया
  • दोंतड मे 70 हितगा्रहियों को उज्ज्वला योजना में गैस कनेक्षन का निषुल्क वितरण हुआ

sehore news
झाबुआ । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने महिलाओं के सशक्तिकरण की दिशा में ऐतिहािसक कदम उठाते हुए पूरे  देश की 6 करोड से अधिक गरीब महिलाओं को  परम्परागत लकडी कंडो से जलने वाले चुल्हों से  निजात दिला कर उज्ज्वला योजना प्रारंभ करके सभी को निशुल्क रसोई गैस के सिलेंडर, चुल्हे एवं कनेक्शन देकर महिलाओं के स्वास्थ्य के साथ ही वातावरण को प्रदूषित होने से बचाने का कदम उठाया है । केन्द्र की मोदी सरकार एवं प्रदेश की शिवराजसिंह सरकार ने हर वर्ग के विकास एवं उत्थान के लिये सैकडो योजनायें लागू करके विकास के नये आयाम खोले है । उज्ज्वला योजना में जिले की हजारों महिलाओं को निशुल्क गैस कनेक्शन दिये जाने के कारण वे सहजता से अपना काम कर पा रही है और उनके चेहरों पर अब खुशिया दिखाई देने लगी है । उक्त उदबोधन मुख्य अतिथि विधायक शांतिलाल बिलवाल ने गुरूवार को गा्रम दोंतड में  गवसर, भूत बयडा, थुवादरा, गलती, धामनीनाना, टांडी, डाबतलाई गा्रमों की करीब 70 महिलाओं को निशुल्क गैस कनेक्शन वितरण के अवसर पर आयोजित समारोह मे गा्रमीणो एवं महिलाओं को संबोधित करते हुए कही । गा्रम दोंतड में आयोजित उज्जवला योजना के तहत गैस कनेक्शन वितरण समाराहे के अवसर पर जिला भाजपा अध्यक्ष मनोहर सेठिया विशेष अतिथि के रूप  में उपस्थित थे । इइ अवसर पर श्री सेठिया ने अपने संबोधन में कहा जिले में गा्रमीण अंचलों में माताओ- बहिनों को लकडी एवं कण्डे जला कर अपने परिवार का भोजन अभी तक तैयार करना पडता था । किन्तु प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उज्ज्वला योजना प्रारंभ करके माताओं बहिनों को धुंए एवं लकडी के जलने से होने वाले नेत्रो की जलन के अलावा खांसी, अस्थमा जैसे रोगो ं से भी गैस कनेक्शन मिल जाने के बाद छूटकारा मिल सकेगा । उन्होने केन्द्र सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि इससे देश एवं इस आदिवासी अंचल के गरीबों, गा्रमीणों, किसानों, मजदूरों को काफी राहत मिली है। उन्होने मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चैहान की कल्याणकारी योजनाओं के बारे में भी विस्तार से जानकारी दी । गैस कनेक्शन वितरण के अवसर पर मथियास भूरिया, सवेसिंह,जनपद अध्यक्ष माना बाई अजनार सहित बडी संख्या में गा्रमीणजन एवं महिलायें उपस्थित थे ।

गोल्डन अवार्ड बुक विजेता आचार्य रत्न सुदंर सूरीष्वरजी मसा के त्रि-दिवसीय भव्य प्रवचन माला की आमंत्रण पत्रिका का किया गया विमोचन

jhabua news
झाबुआ। महामहिम राष्ट्रपतिजी द्वारा पद्मभूषण सम्मान से सम्मानित, दि गोल्डन अवार्ड बुक विेजता, सरस्वती लब्धिप्रसाद ओजस्वी वक्ता पूज्य आचार्य भगवंत श्रीमद् विजय रत्न सुंदर सूरीष्वरजी मसा द्वारा झाबुआ में आगामी 22, 23 एवं 24 मई को स्थानीय पैलेस गार्डन पर प्रतिदिन सुबह 9 से 10 बजे तक प्रवचन माला में अलग-अलग विषयों पर प्रवचन दिए जाएंगे। उक्त भव्य आयोजन की आमंत्रण पत्रिका का विमोचन अर्हत ध्यान योगी तपस्वी मुनिराज श्री आदर्ष रत्न सागरजी मसा के सानिध्य मे सकल जैन श्री संघ के पदाधिकारियों एवं आयोजन समिति के सदस्यों द्वारा किया गया। आमंत्रण पत्रिका के विमोचन से पूर्व पूज्य मुनिराज श्री आदर्ष रत्न सागरजी मसा द्वारा श्री नवकार महामंत्र के स्मरण के साथ आदि-व्याधि निवारक प्रभु श्री पाष्र्वनाथजी की स्तुति एवं उव्वस्हगरम स्त्रोत का उद्घोषण अपने मुखारविन्द से किया गया। पश्चात पत्रिका पर वाक्षेप किया। कार्यक्रम संयोजक एवं श्री संघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष यषंवत भंडारी ने पत्रिका की चंदन, पुष्प, धूप, अक्षत आदि से पूजन विधि करवाई तथा मंत्रोच्चार के माध्यम से आयोजन को सफल बनाने की प्रार्थना की। इस अवसर पर सभी संघों के प्रमुख मंदिरों एवं धर्म स्थानों की पत्रिकाएं लिखी गई तथा संघों के अध्यक्षों को अपने संघ में निमंत्रण देने हेतु पत्रिकाओं का वितरण भी किया गया।

धर्म की दलाली करे
इस अवसर पर मुनिराज ने कहा कि झाबुआ का यह परम् सौभाग्य है कि इतने उच्च कोटी के सरल, स्वभावी संत यहां पधार रहे है। आप सकल जैन श्री संघ के सभी सदस्यों के साथ झाबुआ शहर के सभी धर्मप्रेमियों को पूज्य आचार्य श्री के प्रवचनों का अवष्य लाभ उठाना चाहिए। आपने कहा कि व्यक्ति अपने जीवन में अर्थ की प्राप्ति के लिए कई प्रकार की दलाली करता है, इसी तरह धर्म की प्राप्ति के लिए अपने ईष्ट परिवारजनों एवं ईष्ट मित्रों का प्रवचन माला में प्रवचन श्रवण करने हेतु पधारने का आमंत्रण देकर धर्म की दलाली अवष्य करे।

ये थे उपस्थित
इस अवसर पर स्थानकवासी श्री संघ के अध्यक्ष प्रदीप रूनवाल, तेरापंथ महासभा के राजेन्द्र चैधरी एवं कैलाषचन्द्र श्रीमाल, दिगंबर जैन समाज से षिरिष भानुलाल शाह, आयोजन समिति के संजय कांठी, सुभाष कोठारी, भरत बाबेल, अनिल रूनवाल, हंसमुखलाल शाह ‘गट्टूभाई’ के साथ षिविर आयोजन समिति के संयोजक संजय मेहता, वरिष्ठ सदस्य हस्तीमल संघवी, प्रकाष कटारिया, देवेन्द्र सेठिया, देेवेन्द्र शाह, पप्पू वागरेचा, रिंकू रूनवाल, धर्मेन्द्र कोठारी सहित बड़ी संख्या में श्राविकाएं उपस्थित थी।

पद््म विभूषित आचार्य श्री रत्न सुंदर सूरीष्वरजी को मप्र सरकार ने राजकीय अतिथि का सम्मान दिया

jhaabua news
झाबुआ। महामहिम राष्ट्रपतिजी से पद्म विभूषण सम्मान से सम्मानित, राजप्रतिबोधक, देष के प्रख्यात संत आचार्य श्रीमद् विजय रत्न सुंदर सूरीष्वरजी मसा को मप्र सरकार ने प्रदेष का राजकीय अतिथि का सम्मान दिया है। उक्त जानकारी देते हुए कार्यक्रम संयोजक यषवंत भंडारी ने बताया कि मप्र शासन के पत्र क्रमांक एफ-13,290,पीएमएस-2018 द्वारा प्रदेष के उप सचिव एवं प्रदेष प्रोटोकाॅल आॅफिसर संजयकुमार ने       जारी किए गए आदेष द्वारा पूजनीय संत को राजकीय अतिथि का दर्जा दिया है। पूज्य श्री को राजकीय अतिथि से सम्मानित करने पर उनके त्रि-दिवसीय आयोजन समिति के सदस्य भरत बाबेल, संजय कांठी, हंसमुख लाल शाह ‘गट्टूभाई’, प्रमोद भंडारी, अनिल रूनवाल, मुकेष जैन ‘नाकोड़ा;, अषोक संघवी, मनोहर मोदी के साथ सकल जैन श्री संघ के प्रदीप रूनवाल, राजेन्द्र चैधरी, भानुलाल शाह, रमेषचन्द्र डोषी, सुभाष कोठारी, संजय मेहता, राजेन्द्र संघवी, दिनेष रूनवाल, अमित मेहता, प्रकाष कटारिया, निर्मल मेहता, भानुलाल शाह, मनोहरलाल भंडारी सहित सकल जैन श्री संघ के सभी सदस्यों ने प्रदेष के मुख्यमंत्री षिवराजसिंह चैहान, प्रभारी मंत्री विष्वास सारंग एवं मप्र सरकार का आभार माना।

बहादुर सागर तालाब की अतिषीघ्र सफाई हेतु पार्षद ने नपा सीएमओ को लिखा पत्र
  • सफाई टीम लगाए जाने की मांग

झाबुआ। शहर के बहादुर सागर तालाब (बड़ा तालाब) की अतिषीघ्र सफाई करवाए जाने हेतु इस संबंध में वार्ड क्र. 1 के पार्षद पपीष पानेरी ने नगरपालिका झाबुआ के सीएमओ एमएस निगवाल को पत्र लिखकर कार्रवाई की मांग की है। वर्तमान में तालाब पूरी तरह से जलकुंभियों एवं कमल फूल की पत्तियों से पट चुका है। नपा सीएमओ के नाम दिए गए पत्र में वार्ड पार्षद श्री पानेरी ने बताया कि वर्तमान में झाबुआ का बहादुर सागर तालाब (बड़ा तालाब) अत्यधिक दुर्दषा का षिकार हो गया है। तालाब में भारी मात्रा में जलकुंभियों के साथ कमल फूल की पत्तीयां जमा होने से इसका सौंदर्यीकरण खत्म हो गया है। इसके साथ ही तालाब में कूड़ा-कचरा भी काफी मात्रा में एकत्रित होने से पानी बदबू मार रहा है। यदि समय रहते इसकी सफाई नहीं करवाई गई, तो आने वाले समय में तालाब का अस्तित्व ही समाप्त हो जाएगा।

सफाई टीम लगाए जाने की मांग
दिए गए पत्र में वार्ड पार्षद द्वारा आगे बताया गया कि पूर्व में उनकी पहल पर नपा द्वारा यहां सफाई टीम लगवाई गई थी, लेकिन बाद में शहर में अन्य सफाई कार्यों के चलते सफाई कामगार कम कर दिए जाने से परेषानी आ रहीं है, इसलिए मांग की कि इस तालाब की पूर्णतः सफाई हेतु यहां बड़ी संख्या में सफाई कामगारों को तैनात किया जाए एवं वे टीम बनाकर मुहीम चलाकर इस तालाब की संपूर्ण सफाई करे, जिससे ही तालाब का पानी पूरी तरह से साफ एवं स्वच्छ होकर गंदगी से मुक्ति मिल सके। फोटो -5- इस तरह बहादुर सागर तालाब के पानी में भारी मात्रा में जमा हो गई जलकुंभियां एवं कमल फूल पत्तीयां।

ग्रामोफोन ऐप के पास है किसानों के हर सवाल के जवाब
  • मिस काॅल करें टोल फ्री नंबर 18001236566 पर और जानिये अपनी कृषि संबन्ध्ाित समस्याओं का हल

jhabua news
झाबुआ । सूचना प्रौद्योगिकी ने दुनिया में बहुत कुछ बदल दिया हैं। मोबाइल फोन के माध्यम से हर क्षेत्र में सुविधाओं का अम्बार लग गया है। लेकिन, अभी तक किसानों की खेती संबंधी समस्याओं को इस माध्यम से हल किए जाने का कोई सही और दूरदर्शी प्रयास नहीं हुआ। इस दिशा में एक सटीक प्रयास है, सिर्फ किसानों के लिए बनाया गया हैं मोबाइल ऐप ग्रामोफोन। ये ऐप किसानों के साथ काम करके उनकी समस्याओं को हल करने की कोशिश कर रहा है, ताकि वे अपने पूरे फसल चक्र के दौरान कृषि संबंधी समस्याओं से तत्काल निजात पा सकें और साथ ही उन्हें विशेषज्ञों की सही सलाह मिल सके। इस ऐप का सबसे सशक्त पक्ष है इसका उपयोग! कंपनी के पास एक टोल फ्री नंबर (18001236566) है, जिस पर किसान अपने मोबाइल फोन से मिस कॉल दे सकता है, फिर किसान के मोबाइल नंबर पर ग्रामोफोन के कृषि विशेषज्ञ कॉल करके किसान से बात करके उसकी समस्याओं, जिज्ञासाओं को हल करते हैं और उसे कृषि संबंधी सही सलाह देते हैं। किसानों को कृषि से जुड़े सही उत्पादों (दवाइयाँ और कीटनाशक) की भी सलाह दी जाती है, ताकि वे अपनी फसल का उत्पादन बढ़ा सकें। ग्रामोफोन ऐप पर ये सुविधा भी उपलब्ध है कि किसान कॉल सेंटर या ग्रामोफोन ऐप के माध्यम से भी अपनी जरूरतों का ऑर्डर दे सकता है। ऐप पर उपलब्ध सामुदायिक सुविधा पर किसान विशेषज्ञों और सह-किसानों से संपर्क कर सकते हैं। यह सुविधा किसानों को सीधे विशेषज्ञों से बात करने और खेती को नुकसान पहुंचाने वाले कीट और बीमारियों की समस्याओं को हल करने में भी सक्षम है। ग्रामोफोन ऐप का कांसेप्ट आईआईटी से प्रशिक्षित इंजीनियरों निशांत वत्स, तोसीफ खान, हर्षित गुप्ता और आशीष सिंह को आया था। इन्होने आईआईएम अहमदाबाद से एमबीए भी किया है। इस सभी ने मिलकर जून 2016 में उन्होंने इसकी शुरुआत की। इन्होंने कृषि के क्षेत्र में गहराई से काम किया है और ये समझते हैं कि प्रौद्योगिकी के जरिए जमीन का संयोजन कर किसान उत्पादकता में कैसे सुधार ला सकता है! सामान्यतः किसान अपनी समस्याओं के हल के लिए हमेशा ही परेशान रहता है। क्योंकि, उसके आसपास ऐसा कोई नहीं होता जो किसानों के खेती संबंधी सवालों के सही जवाब दे सके। ग्रामोफोन ऐप किसानों की सभी समस्याओं का एकमात्र हल। है। खेती से जुड़े किसानों के सवाल दरअसल कुछ ऐसे होते हैं! फसल संबंधी समस्याओं के बारे में विशेषज्ञों से बात कैसे हो सकती है? कौनसा कीटनाशक, कितने डोज में उसकी फसल की रक्षा करेगा? फसल के पोषण की सही जानकारी कहाँ से मिलेगी? मुझे अपनी जमीन से ज्यादा पैदावार कैसे मिल सकती है? अच्छी किस्म के बीज, दवाइयाँ, कीटनाशक सही कीमत पर कहाँ से मिलेंगे? क्या उसे दवाइयों और कीटनाशकों की खरीद का पक्का बिल मिलेगा? क्या बाजार जाए बिना उसे कृषि संबंधी दवाईयाँ, कीटनाशक उपलब्ध हो सकते हैं? मंडी के भाव और मौसम की सही जानकारी उसे कौन देगा? ग्रामोफोन के पास इन सारे सवालों के जवाब हर वक्त मौजूद होते हैं।

गाईड लाइन वित्तीय वर्ष 2018-19 के प्रस्ताव पर 21 मई तक सुझाव आमंत्रित
    
झाबुआ । संपत्ति की गाईड लाईन निर्धारण के लिए गठित जिला मूल्यांकन समिति, झाबुआ की बैठक आज 17 मई 2018 को कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना की अध्यक्षता में संपन्न हुई। बैठक में जिले की उप जिला मूल्यांकन समितियों के द्वारा प्रेषित प्रस्तावों को अध्ययन एवं विचार विमर्श उपरान्त उचित मानते हुए स्वीकार किया गया। उक्त प्रस्तावों पर यदि आमजन अपना कोई भी सुझाव देना चाहते है तो उक्त प्रस्तावों का अवलोकन जिले के समस्त उप पंजीयक कार्यालयों, जिला पंजीयक कार्यालय एवं जिलाधीश कार्यालय के सूचना पटल पर करने के पश्चात् दिनांक 21.05.2018 तक अपने सुझाव दे सकते है।

झाबुआ विधायक शांतिलाल बिलवाल 31 मई तक विकास यात्रा करेंगे

झाबुआ । विधानसभा क्षेत्र झाबुआ के विधायक श्री शांतिलाल बिलवाल 31 मई तक विधानसभा क्षेत्र की पंचायतों में विकास यात्रा करेंगे। इस दौरान वे पंचायतों में स्वीकृत कार्यो के भूमि पूजन/लोकार्पण/शिलान्यास करेंगे। साथ ही प्रदेश सरकार द्वारा संचालित योजनाओ की जानकारी भी आमजन को देंगे। प्रस्तावित कार्यक्रम के अनुसार 18 मई को गोपालपुरा हवाई पट्टी, मिण्डल, कुण्डला एवं मसुरिया मे ,19 मई को काकरादराखुर्द, गेहलर छोटी खेडी, बावडीबडी, कालाखूंट में, 20 मई को माण्डलीबडी, पिटोलबडी, भीमफलिया, ढेकल छोटी, भोयरा क्षेत्र में, 21 मई को मोहनपुरा में, 22 मई को कल्याणपुरा में, 23 मई को संदला में, 24 मई को भगोर में, 25 मई को ढेबर, 26 मई को अंतरवेलिया,27 मई को कोटडा,  28 मई को आमली फलिया, 29 मई को बामनसेमलिया, 30 मई को उमरियावज्रंत्री एवं 31 मई को गडवाडा ग्राम पंचायत मे विकास यात्रा निकालेंगे।

टी.एल. मीटिंग अब सोमवार को

झाबुआ । जिले में कलेक्टर द्वारा ली जाने वाली टी.एल. बैठक अब सोमवार को हुआ करेगी। आगामी टी.एल. बैठक 21 मई सोमवार को प्रातः 10.30 बजे से कलेक्टोरेट सभाकाक्ष मे होगी। बैठक में समयावधि पत्र, सी.एम. हेल्पलाइन, जनसुनवाई, मुख्यमंत्री जी के भ्रमण के दौरान प्राप्त आवेदन पत्र, निर्वाचन कार्य, इत्यादि की समीक्षा की जाएगी। विभागों प्रमुखों को जानकारी के साथ बैठक मे उपस्थित रहने हेतु निर्देशित किया गया है।

सोमवार को अपरान्ह 4 बजे होगी राजस्व अधिकारियों की बैठक
झाबुआ । राजस्व अधिकारियों की बैठक प्रत्येक सोमवार को अपरान्ह 4.30 बजे से होगी, जिसमे राजस्व एवं कानून व्यवस्था की समीक्षा की जावेगी। बैठक मे राजस्व एवं पुलिस विभाग के अधिकारी उपस्थित रहेंगे। उसके बाद प्रत्येक सोमवार को सायंकाल 5 बजे जघन्य सनसनीखेज अपराधों से संबंधित प्रकरणों की समीक्षा की जायेगी।

मतदाता सूची के पुनरीक्षण के लिए बीएलओ 20 जून तक करेगे डोर-टू-डोर सर्वे

झाबुआ । फोटोयुक्त निर्वाचक नामावली का द्वितीय विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्य 20 जून तक किया जाना है। इसके लिए संबंधित बीएलओ द्वारा डोर-टू-डोर सर्वे किया जाएगा। बीएलओ द्वारा कार्य का निरीक्षण करने एवं मतदान केन्द्रों का भौतिक सत्यापन कार्य सुनिश्चित करने के लिए कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री आशीष सक्सेना ने नियुक्त झोनल अधिकारी को आदेशित किया है।  नियत अवधि में डोर-टू-डोर कार्यक्रम संपन्न नही करने वाले बीएलओ के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की जायेगी।

लोकसेवा केंद्र हेतु वाहन के लिए निविदा आमंत्रित

झाबुआ । जिले मे लोक सेवा केंद्र के कार्यो के सुचारु संपादन हेतु बोलेरो वाहन के लिए निविदा 28 मई सायं 3 बजे तक लोक सेवा प्रबंधन विभाग झाबुआ मे ंआमंत्रित की गई है। अधिक जानकारी के लिए लोक सेवा प्रबंधन विभाग की वेबसाईट ूूूण्उचमकपेजतपबजण्हवअण्पद एवं ूूूण्रींइनंण्दपबण्पद पर लाॅग इन करें।

स्वरोजगार एवं कौशल मेले में युवाओ का पंजीयन किया गया, युवा स्वरोजगार स्थापित कर रोजगार दाता बने

झाबुआ । स्वरोजगार, रोजगार एवं कौशल पंचायत 2018 का आयोजन मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार माह जुलाई 2018 में आयोजित किया जाना हैं।इस हेतु युवाओं का चयन करने के लिए झाबुआ जिले में जनपद पंचायतवार रोजगार/स्वरोजगार एवं कौशल मेलों का आयोजन किया जा रहा है। स्वरोजगार, रोजगार एवं कौशल (आई.टी.आई.प्रशिक्षण) हेतु इच्छुक हितग्राहियों का पंजीयन किया जा रहा है। आज 17 मई को आईआईटी झाबुआ में स्वरोजगार एवं कौशल मेले का आयोजन किया गया। मेले मे रोजगार हेतु इच्छुक युवाओ का पंजीयन किया गया। पंजीकृत युवाओं को पात्रता अनुसार रोजगार एवं स्वरोजगार उपलब्ध करवाने की कार्यवाही की जाएगी। मेले मे उपस्थित विधायक श्री शांतिलाल बिलवाल ने युवाओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि सरकार बेंरोजगारो को स्वरोजगार से जोडने के लिए प्रयासरत है, आप भी शासन की स्वरोजगार योजनाओं में ऋण सुविधा का लाभ लेकर स्वयं का रोजगार स्थापित करे एवं क्षंेत्र के अन्य बेरोजगारो को भी रोजगार उपलब्ध करवाये। मेले मे प्राचार्य आईटीआई श्रीमती सावित्री भिडे, सहित जनप्रतिनिधि, शासकीय सेवक एवं बडी संख्या मे युवा उपस्थित थे।

अगला स्वरोजगार मेला 23 मई को राणापुर में,
अगला स्वरोजगार मेला 23 मई को राणापुर में आयोजित होगा। उसके बाद शनिवार 26 मई को आई.टी.आई. मेघनगर में मेला आयोजित कर युवाओं का पंजीयन किया जाएगा।

“दस्तक अभियान“ का प्रथम चरण (माह जून-जुलाई 2018) में

झाबुआ । दस्तक अभियान के प्रथम चरण का आयोजन 14 जून 2018 से 31 जुलाई 2018 तक किया जाना है। अभियान के तहत स्वास्थ्य एवं एकीकृत बाल विकास सेवाओं के संयुक्त दल (ए.एन.एम.,आशा एवं आंगनवाडी कार्यकर्ता) द्वारा 5 वर्ष से छोटे उम्र के बच्चों वाले परिवारो के घर पर स्वास्थ्य एवं पोषण सेवाओ की दस्तक दी जायेगी एवं इस उम्र के बच्चों मे प्रायः पाई जाने वाली बीमारियों की सक्रिय पहचान सुनिश्चित की जायेगी। दस्तक अभियान का उद्देश्य है कि 5 वर्ष से कम उम्र के बच्चों मे प्रमुख बाल्यकालीन बीमारियों की सामुदायिक स्तर पर सक्रिय पहचान द्वारा त्वरित प्रबंधन ताकि बाल मृत्यु दर में वांछित कमी लाई जा सके। अभियान के दौरान समुदाय में बीमार नवजातो और बच्चो की पहचान की जायेगी। प्रबंधन एवं रेफरल, 5 वर्ष से कम उम्र के बच्चों मे शैशव एवं बाल्यकालीन निमोनिया की त्वरित पहचान, प्रबंधन एवं रेफरल, 5 वर्ष से कम उम्र के बच्चो मे बाल्यकालीन दस्त रोग के नियंत्रण हेतु ओ.आर.एस. एवं जिंक के उपयोग संबंधी समझाईश व प्रत्येक घर में ओ.आर.एस. पहुंचाना, 5 वर्ष से कम उम्र के गंभीर कुपोषित बच्चों की सक्रिय पहचान, रेफरल एवं प्रबंधन, 6 माह से 5 वर्ष तक के बच्चों मे गंभीर एनिमिया की सक्रिय स्क्रीनिंग एवं प्रबंधन, बच्चों मे ंदिखाई देने वाली जन्मजात विकृतियों की पहचान की जायेगी। 9 माह से 5 वर्ष तक के समस्त बच्चो को विटामिन ए अनुपूरण, गृहभेंट के दौरान आंशिक रुप से टीकाकृत व छूटे हुए बच्चों की टीकाकरण स्थिति की जानकारी ली जायेगी। समुचित शिशु एवं बाल आहारपूर्ति व्यवहार को बढावा देने के लिए समझाईश दी जायेगी। एस.एन.सी.यू. एवं एन.आर.सी. से छुट्टी प्राप्त बच्चों मे बीमारी की स्क्रीनिंग तथा फाॅलोअप को प्रोत्साहन, बाल मृत्यु (विगत 6 माह मे) की जानकारी एकत्रित की जायेगी।

वर्चुअल क्लास के माध्यम से कैरियर काउन्सलिंग प्रारंभ
  • 21 मई को मुख्यमंत्री करेंगे सम्बोधित

झाबुआ । माध्यमिक शिक्षा मंडल की कक्षा 12 वीं बोर्ड परीक्षा के परिणाम 14 मई 2018 को घोषित किये गये है। कक्षा 12 वीं की परीक्षा मे 70 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों के मार्गदर्शन हेतु कैरियर काउन्सलिंग के लिए मुख्यमंत्री जी ने घोषणा की है। कैरियर काउन्सलिंग की योजना का शुभारंभ मुख्यमंत्री जी माॅडल स्कूल भोपाल मे आयोजित कार्यक्रम मे करेंगे। 21 मई को मुख्यमंत्रीजी द्वारा वर्चुअल क्लास को दूरदर्शन के माध्यम से संबोधित किया जायेगा।इस कार्यक्रम मे वे प्रदेश के  समस्त 313 विकासखंड मुख्यालयों पर कक्षा 12 वीं में 70 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों की वर्चूअल क्लास को दूरदर्शन एवं अन्य माध्यम से संबोधित करेंगे। विकासखंड मुख्यालय पर उपस्थित मेधावी विद्यार्थियों के प्रश्नों के उत्तर भी देंगे अर्थात उनसे सीधा संवाद स्थापित करेंगे। जिले मे 16 मई से प्रतिदिन वर्चुअल क्लास प्रातः 11.00 से 12.00(एक घण्टे) की अवधि मे संचालित हो रही हैं। वर्चुअल क्लास 21 मई 2018 तक निरंतर संचालित रहेगी।

मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद पेंशनरो ने दी दुआ

झाबुआ । पेंशनरो के सम्मेलन मे सेवानिवृत्त हुए पेंशनरो को कंेद्र के समान पेंशन में 2.57 प्रतिशत वृद्धि देते हुए पेंशन का लाभ देने की घोषणा मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चैहान ने की  एवं पेंशनरों को सरकारी अस्पताल के अतिरिक्त निजी अस्पतालों में भी ईलाज की सुविधा दिये जाने एवं पेंशनरों की अन्य समस्याओ के निराकरण के लिए पेंशनर बोर्ड गठित किये जाने की घोषणा से जिले के पेंशनर हर्षित है । जिला चिकित्सालय झाबुआ  से सेवानिवृत्त हुए श्री राजेन्द्र सोनी ने कहा कि मुख्यमंत्रीजी द्वारा 2.57 प्रतिशत की वृद्धि की घोषणा किये जाने से पेंशनरो को आर्थिक लाभ मिलेगा। साथ ही पेंशनरों की लंबे समय से चली आ रही मांग भी मुख्यमंत्री जी द्वारा पूरी की गई है। जिला पेंशनर एसोसिएशन के जिला अध्यक्ष रतनसिंह राठौर ने पेंशनरो को एरियर की राशि भी एक मुश्त भुगतान करने तथा मेडीकल भत्ता 1,000 रुपये प्रतिमाह के मान से दिये जाने पर मुख्यमंत्रीजी का आभार माना है।

आत्माराम ने शासकीय लोन एवं प्रशिक्षण लेकर अपनी आय को किया तीन गुना

jhabua news
झाबुआ । हुनर रखने वाले हुनरबाजों को यदि प्रशिक्षण और आर्थिक मदद मिल जाये तो वे अपने काम को और ज्यादा अच्छे से करते है और स्वयं के साथ-साथ अन्य जरुरतमंद लोगो के लिए भी रोजगार दाता बनते हैं। झाबुआ जिले के थांदला मे रहने वाले आत्माराम शर्मा 10वीं कक्षा तक पढाई करने के बाद फर्नीचर व्यवसाय से जुडे। आसपास जहां भी काम मिलता वे करते फिर भी महीने में 5-6 हजार रुपये ही कमा पाते थे। एवं तकनीकी ज्ञान एवं आर्थिक तंगी की वजह से वे चाहते हुए भी अपने कारोबार को आगे नही बढा पा रहे थे। फिर उन्होने बैंक आॅफ बडौदा प्रशिक्षण संस्थान झाबुआ से प्रशिक्षण प्राप्त किया एवं 10 लाख रु. बैंेक आॅफ बडौदा से ऋण लेकर आरामशीन लगाई एवं काम करना शुरु किया। फिर विकास की ऐसी रफ्तार पकडी कि आसपास के लोगो के लिए प्रेरणा स्त्रोत बन गये ंआज मासिक आमदनी औसत 15-18 हजार रुपये है। चर्चा के दौरान आत्माराम ने बताया कि पहले वे किराये के घर मे रहते थे और जैसे तैसे घर का खर्च बडी मुश्किल से चला पाते थे। जबसे उन्होने ऋण लेकर आरामशीन का काम शुरु किया, उनकी जिन्दगी बदल गई। आय बढकर तीन गुना हो गई। प्राप्त आमदनी से उन्होने स्वयं का घर बना लिया है एवं फर्नीचर व्यवसाय के लिए दुकान का निर्माण भी कर लिया है। उनके दो बच्चे है, दोनो को उन्होने 12 वीं कक्षा तक की पढाई करवाई। एक बच्चा वर्तमान मे काॅलेज मे अध्ययनरत है और आज वे दो अन्य व्यक्तियो को भी अपनी आरामशीन पर रोजगार उपलब्ध करवा पाते है। उन्होने इसके लिए शासन की योजना को विकास वाहिनी माना है।
एक टिप्पणी भेजें