पुलिस बलप्रयोग में एएमयू के छह छात्र घायल - Live Aaryaavart

Breaking

बुधवार, 2 मई 2018

पुलिस बलप्रयोग में एएमयू के छह छात्र घायल

student-beaten-in-amu
अलीगढ (उत्तर प्रदेश), दो मई, हिन्दू युवा वाहिनी के प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार किये जाने की मांग कर रहे अलीगढ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) के छात्रों की भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस द्वारा किये गये बलप्रयोग में कम से कम छह छात्र घायल हो गये। एएमयू के प्राक्टर मोहसिन खान ने बताया कि एएमयू छात्र संघ के अध्यक्ष मशकूर अहमद उस्मानी और छात्र संघ के पूर्व उपाध्यक्ष एम हुसैन जैदी घायलों में शामिल हैं। पुलिस ने स्थिति को नियंत्रित करने के लिए बलप्रयोग किया था। इस बीच पूर्व उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी को आजीवन सदस्यता देने के मकसद से एएमयू में आयोजित कार्यक्रम को तनाव के कारण रद्द कर दिया गया। वह शाम को दिल्ली लौट गये। हिन्दू युवा वाहिनी के प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे एएमयू के छात्रों की भीड़ तितर-बितर करने के लिए पुलिस को आंसूगैस के गोले भी छोड़ने पड़े। जिलाधिकारी चंद्र भूषण सिंह ने बताया कि एएमयू छात्रों की भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को बलप्रयोग करना पड़ा। ये छात्र विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करने वाले हिंदू युवा वाहिनी के प्रदर्शनकारियों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे। उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओ पी सिंह ने बताया कि राज्य सरकार स्थिति की लगातार निगरानी कर रही है। पुलिस उप महानिदेशक स्तर के अधिकारी सहित वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मौके पर हैं।

एएमयू परिसर के एक गेट के निकट हालात तनावपूर्ण हो गये थे, इसलिए पुलिस को भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसूगैस के गोले छोड़ने पड़े। इससे पहले हिन्दू युवा वाहिनी और अलीगढ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) छात्र संघ के समर्थकों के बीच संघर्ष उस समय टल गया जब वाहिनी के कार्यकर्ता विश्वविद्यालय के सुरक्षा घेरे को तोड़कर नारेबाजी करते हुए परिसर में घुस गये। प्रत्य​क्षदर्शियों ने बताया कि दो गुटों में कहासुनी और धक्का-मुक्की हो गयी लेकिन एएमयू सुरक्षा अधिकारियों ने दोनों गुटों के लोगों को किसी तरह अलग किया और उसके बाद मौके पर पहुंचे पुलिस बल ने स्थिति नियंत्रण में कर ली। एएमयू सुरक्षाकर्मियों का आरोप है कि वाहिनी के कुछ कार्यकर्ताओं के पास पिस्तौल और डंडे थे हालांकि इसकी पुष्टि नहीं हो सकी। वाहिनी के कार्यकर्ता फिर परिसर की ओर बढ़े और वहां काफी कम संख्या में तैनात पुलिसकर्मी उन्हें परिसर में जाने से रोक नहीं पाये ।

एएमयू छात्र संघ के अध्यक्ष एम अहमद उस्मानी ने आरोप लगाया कि सुरक्षा की इस तरह की अनदेखी की अनुमति पहले पुलिस प्रशासन की ओर से कभी नहीं की गयी। उन्होंने कहा कि एएमयू छात्रों ने संयम दिखाया लेकिन परिसर में जबरन घुसने वाले लोगों को आज रात तक अगर गिरफ्तार नहीं किया गया तो एएमयू के छात्र जेल भरो आंदोलन करेंगे। पुलिस अधीक्षक अतुल श्रीवास्तव ने कहा कि स्थिति अब काबू में है और ये जांच की जा रही है कि वाहिनी के कार्यकर्ता कैसे परिसर के गेट पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि परिसर के भीतर और बाहर सुरक्षा कड़ी कर दी गयी है। स्थिति पूर्णतया सामान्य होने तक गश्त जारी रहेगी। परिसर में रैपिड एक्शन फोर्स तैनात कर दी गयी है। प्राक्टर ने बताया कि छह छात्र घायल हुए हैं हालांकि मेडिकल कालेज अस्पताल के अधिकारियों ने कहा है कि उन्होंने 20 घायल छात्रों का उपचार किया है ।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...