विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 14 मई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 14 मई 2018

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 14 मई

कलेक्टर द्वारा लंबित आवेदनो की समीक्षा

vidisha news
कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने आज विभिन्न विभागों में लंबित आवेदनों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि 15 मई से विकास यात्रा कार्यक्रमों का आयोजन जिले में शुरू होगा। अतः ऐेसे निर्माण कार्य जो दस करोड की लागत से कम के है उन निर्माण कार्यो का शिलान्यास, लोकार्पण विकास यात्रा कार्यक्रम के दौरान किया जाएगा। अतः विधानसभा क्षेत्रवार निर्माण कार्यो की सूची तैयार की जाए और उसकी जानकारी संबंधित सांसद, विधायक को अनिवार्यतः उपलब्ध कराई जाए। संभवतः लोकार्पण एवं शिलान्यास कार्य भी इन ही के द्वारा कराया जाए। कलेक्टर श्री सुचारी ने जिलाधिकारियोें को आवंटित किए गए छात्रावासों की अद्यतन प्रगति के संबंध में पूछताछ की गई। उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी छात्रावासों के भ्रमण के दौरान बुनियादी सुविधाओं पर भी नजर रखें और जो-जो कमियां परलिक्षित होती है उन सबको भ्रमण प्रतिवेदन में अनिवार्यतः अंकित की जाए। नीति आयोग के मापदण्डों के अनुरूप संबंधित विभागो के अधिकारियों द्वारा किए गए नवाचार की भी इस दौरान जानकारियां प्राप्त की गई। टीएल बैठक में आधार पंजीयन, जाति प्रमाण पत्र, सार्वजनिक वितरण प्रणाली की अद्यतन प्रगति की भी समीक्षा की गई। इसके अलावा बैठक में मुख्यमंत्री हेल्प लाइन, मानव अधिकार आयोग, पीजी सेल, समाधान आॅन लाइन और जन शिकायत निवारण के प्राप्त आवेदनों के साथ-साथ पेपर कंटिग पर अब तक संबंधित विभागों के अधिकारियों द्वारा की गई कार्यवाहियों की बिन्दुवार जानकारियां प्रस्तुत की गई। कलेक्टेªट के सभाकक्ष में हुई इस बैठक में समस्त विभागों के जिलाधिकारी मौजूद थे।

लोकार्पण, शिलान्यास कार्यो की सूची उपलब्ध कराने के निर्देश

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान 18 मई को बासौदा के आईटीआई परिसर में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होंगे। उक्त कार्यक्रम में मुख्यमंत्री जी द्वारा दस करोड़ की लागत से अधिक के निर्माण कार्यो का शिलान्यास, भूमिपूजन किया जाएगा। इसके अलावा तेंदूपत्ता संग्राहकों को बोनस राशि एवं अन्य सामग्री के अलावा तथा श्रमिक सम्मेलन एवं राष्ट्रीय वयोश्री योजना के अंतर्गत लाभांवित हितग्राहियों को सामग्री प्रदाय की जाएगी।आयोजन स्थल पर की जाने वाली व्यवस्थाओं के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश देने एवं वैकल्पिक व्यवस्थाओं के प्रबंध सुनिश्चित करने के उद्वेश्य से अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा ने संबंधित विभागों के अधिकारियों की संयुक्त बैठक आहूत कर उन्हें निर्देश दिए कि लोकार्पण, शिलान्यास कार्यो की सूची संबंधित विभागों के अधिकारी 15 मई तक अनिवार्यतः जमा करान सुनिश्चित करें। आयोजन स्थल पर लगने वाले टेन्ट, स्टाॅल, परिवहन हेतु आवश्यक वाहनों के प्रबंध तथा वाहन पार्किंग, स्वास्थ्य उपचार केम्प, राष्ट्रीय वयोश्री योजना से लाभांवित हितग्राहियों के साथ-साथ तेंदूपत्ता संग्राहकों एवं श्रमिको के उक्त सम्मेलन में उन सबके लिए किए जाने वाले प्रबंधों पर विचार विमर्श कर निर्णय लिया गया है।

दायित्व सौंपे गए

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान 18 मई को बासौदा के आईटीआई परिसर में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होंगे के मद्देनजर कलेक्टर श्री अनिल सुचारी के द्वारा आयोजन स्थल पर किए जाने वाले प्रबंधों के क्रियान्वयन हेतु विभागों के अधिकारियों को दायित्व सौंपे गए है। उनके द्वारा 47 विभागों के अधिकारियों को मंच व्यवस्था से लेकर अन्य स्थलों की जबावदेंही सौंपी गई है। कलेक्टर श्री सुचारी के द्वारा कार्यपालिक मजिस्टेªट भी नियुक्त किए गए है जो आयोजन स्थल पर प्रातः दस बजे से कार्यक्रम समाप्ति तक मौजूद रहेंगे। सम्पूर्ण कानून एवं शांति व्यवस्था का दायित्व अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा को सौंपा गया है। कलेक्टर द्वारा मंच व्यवस्था, कार्यक्रम स्थल की सम्पूर्ण व्यवस्था,मंच के दाएं और बांयी और, व्हीआईपी प्रवेश द्वार, जनप्रतिनिधियों की बैठक व्यवस्था, मुख्य प्रवेश द्वार, महिला दीर्घा, पण्डाल में बैठक व्यवस्था, पत्रकार दीर्घा, हितग्राहियों को लाने-ले-जाने, स्वास्थ्य सेवाएं, पैरामेडीकल, पार्किंग, बासौदा सर्किट हाउस, हेलीपेड स्थल, बेरीकेट्स, पानी, चाय, स्वल्पाहार, विद्युत आपूर्ति एवं हितग्राहियों को प्रदाय की जाने वाली सामग्री के लिए पृथक-पृथक स्टाॅलों पर अधिकारी तैनात किए जाएंगे। 
एक टिप्पणी भेजें